DA Image
14 जुलाई, 2020|3:11|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संकटः रिटेल दुकानों पर जरूरी सामान की किल्लत, ई-कॉमर्स कंपनियों ने खत्म कर दी ग्राहकों को दी जा रही छूट

coronavirus  coronavirus india  coronavirus symptoms  corona virus india  corona virus  coronavirus

कोरोना संकट के चलते रिटेल दुकानों में जरूरी सामानों की किल्लत शुरू हो गई है। ताजा सर्वे के मुताबिक देश में स्थानीय दुकानों में सामानों की किल्लत 25 फीसदी बढ़ गई है। हालांकि ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए मिलने वाले सामान में जरूर 25 फीसदी का सुधार देखने को मिला है, लेकिन हालात अभी भी काबू में नहीं आए हैं।

सबसे बड़ा संकट लोगों के घर के पास की दुकानों में देखने को मिल रहा है। रिटेल दुकानों में जरूरी सामान की उपलब्धता की दिक्कत जहां 23 और 24 मार्च तक 32 फीसदी हुआ करती थी अगले 2 दिनों में बढ़कर 43 फीसदी हो गई है। ये दिक्कत आने वाले दिनों में और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। सर्वे में ये भी बताया गया है कि 23 और 24 मार्च ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए बिकने वाले सामन की डिलवरी 80% तक घट गई थी लेकिन अब इनमें सरकार के प्रयासों से सुधार हुआ है। अब 40% डिलिवरी शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ेंः लॉकडाउन में भी काम, स्टेट बैंक के कर्मचारियों को मिलेगी ज्यादा सैलरी

लोकल सर्किल की तरफ से किए गए सर्वे में दूध, गेहूं, चावल, नमक, दालों और चीनी जैसी जरूरी सामान के बारे में लोगों से जानकारी मांगी गई थी। कोरोना संकट के दौरान लोकल सर्किल की तरफ से ये तीसरा सर्वे किया गया था। 177 जिलों में 16000 से ज्यादा लोगों से सामान की उपलब्धता को लेकर राय मांगी गई थी। सर्वे के अनुसार, ई-कॉमर्स सेवाओं के जरिए 20% लोगों को सामान मिलने में कोई समस्या नहीं आई।

यह भी पढ़ेंः LIVE: कोरोना की तबाही, दुनियाभर में अब तक 30 हजार से ज्यादा मौतें
 
वहीं दुकानों की बात की जाए तो 26 फीसदी लोग ऐसे रहें हैं जिन्हें कुछ भी नहीं मिला या फिर इक्का-दुक्का सामान ही दुकानों पर मिला। स्थानीय दुकानों पर सामान कि उपलब्धता लगातार गिरती जा रही है। 20-22 मार्च के दौरान जहां सामान की 17 फीसदी किल्लत हुआ करती थी वहीं 23-24 मार्च को ये बढ़कर 31 फीसदी हो गई है। लॉकडाउन जैसे हालात में न तो दुकानदार ही बाजार से सामान लेकर आ पा रहे हैं न ही उनके ऑर्डर डिलिवर हो पा रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः अर्धसैनिक बलों कोरोना का पहला केस, BSF अधिकारी और CISF जवान पॉजिटिव
  
कोरोना संकट के साथ ही ई-कॉमर्स कंपनियों की ओर से ग्राहकों को दी जा रही छूट खत्म कर दी गई है। इससे पहले हर खरीदारी पर ई-कॉमर्स कंपनियां 10% से 50% फीसदी तक छूट ऑफर करती थीं। एक जानकार का कहना है कि अब ई-कॉमर्स कंपनियों के पास सामान की उपलब्धता ही बहुत ही कम हो गई है। ऐसे में छूट देने मुश्किल हो रहा है। इससे समस्या और बढ़ी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona crisis shortage of essential goods at retail shops e commerce companies scrapped discounts being given to customers