Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Coforge Shareholders become richer every 4 years share price increased from 90 to 3324 rupees - Business News India

इस कंपनी के शेयरहोल्डर्स हर 4 साल में बन जाते हैं और ज्यादा अमीर, ₹90 से बढ़कर ₹3324 हुआ भाव, एक्सपर्ट बुलिश 

यह मिड-कैप आईटी स्टॉक (Mid Cap IT Stock) हर चार साल में शेयरधारकों के पैसे को डबल कर देता है। जिस निवेशक ने 2008 की मंदी में इस शेयर में पैसा लगाया होगा वह आज अमीर बन गया होगा।

Varsha Pathak मिंट, नई दिल्लीSat, 24 Sep 2022 04:04 PM
पर्सनल लोन

Multibagger Stock: साल 2008 इतिहास के पन्नों में दर्ज है। आज से करीब 14 साल पहले दुनिया के लिए साल 2008 कभी न भूलने वाला साल रहा। वजह थी आर्थिक मंदी। इस मंदी ने पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया। दुनियाभर में करोड़ों लोगों की अपनी गाढ़ी कमाई गंवानी पड़ी। लेकिन इस समय भारतीय शेयर बाजार में लिस्टेड एक शेयर ऐसा भी रहा जो खूब उछला। जिस किसी निवेशक ने उस मंदी के दौरान इस शेयर में निवेश किया होता, वह आज के समय में अमीर बन गए होते। आपको बता दें कि यह मिड-कैप आईटी स्टॉक (Mid Cap IT Stock) पिछले 14 साल के दौरान हर चार साल में शेयरधारकों के पैसे को डबल कर देता है। इस शेयर का नाम कॉफोर्ज शेयर (Coforge share) है।  Coforge एक ऐसा स्टॉक है जो 2008 की आर्थिक मंदी के बाद से अपने शेयरधारकों को अच्छा रिटर्न (Stock return) दे रहा है। 

Coforge शेयर प्राइस हिस्ट्री
मार्च 2008 के मिड  मंथ में Coforge के शेयर की कीमत ₹90 प्रति शेयर थी। जो चौथे साल मार्च 2012 में बढ़कर ₹190 के स्तर पर पहुंच गई। इससे IT कंपनी के पोजिशनल  शेयरहोल्डर्स को 100 प्रतिशत से अधिक का रिटर्न  मिला। बाद में फिर  चौथे  साल  मार्च 2016 में Coforge के शेयर की कीमत बढ़कर ₹460 हो गई। यानी अगले चार सालों में इसके शेयरधारकों को लगभग 140 प्रतिशत का रिटर्न दिया। इसी तरह, मार्च 2020 में यह मिड-कैप आईटी स्टॉक का प्राइस लगभग ₹1,790 के स्तर पर चला गया, जिससे अगले 4 सालों में अपने लंबी  अवधि  के शेयरधारकों को लगभग 290 प्रतिशत का रिटर्न मिला।

अगले दो सालों में, Coforge के शेयर की कीमत ने BSE पर अपने लाइफ  टाइम  हाई ₹6,133 पर पहुंच गया। जिससे इस अवधि में अपने शेयरधारकों को 100 प्रतिशत से अधिक का रिटर्न मिला है। हालांकि, रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद Coforge शेयर की कीमत में  कमी  आई और शुक्रवार को यह शेयर 3,340 रुपये के स्तर पर आ गया। बीएसई पर मार्च 2020 की कीमत से लगभग 86 प्रतिशत अधिक है। अगर किसी निवेशक ने 2008 में कॉफोर्ज शेयर में ₹90 के हिसाब से एक लाख रुपये का निवेश करता तो उसे आज 36.93 लाख रुपये होता। 

कॉफोर्ज शेयर प्राइस आउटलुक
कॉफोर्ज शेयर की कीमत में पुल-बैक रैली की उम्मीद करते हुए चॉइस ब्रोकिंग के कार्यकारी निदेशक, सुमीत बगड़िया ने कहा, "कॉफोर्ज के शेयर दिसंबर 2021 में बीएसई पर अपने लाइफ टाइम हाई ₹6,133 पर पहुंच गए थे। जिनके पास लंबी अवधि के लिए शेयर  है, वे इस स्टॉक को मौजूदा स्तरों पर स्टॉप लॉस ₹3,000 से नीचे रखते हुए खरीद सकते हैं और यदि स्टॉक लगभग ₹3,100 से ₹3,150 के स्तर पर आता है तो जमा कर सकते हैं। अगले 12 महीनों में स्टॉक ₹4,000 के स्तर तक जा सकता है।"
 

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें