ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेससुकन्या समृद्धि योजना में बदलाव, 31 जुलाई तक खोलें बिटिया का खाता, 21 साल की उम्र में मिलेंगे 66 लाख

सुकन्या समृद्धि योजना में बदलाव, 31 जुलाई तक खोलें बिटिया का खाता, 21 साल की उम्र में मिलेंगे 66 लाख

डाक विभाग के एक हालिया निर्देश के मुताबिक सुकन्या समृद्धि खाता 31 जुलाई, 2020 को या उससे पहले उन बेटियों के नाम से खोला जा सकता है, जिनकी उम्र 25 मार्च, 2020 से 30 जून, 2020 तक लॉकडाउन की अवधि के...

सुकन्या समृद्धि योजना में बदलाव, 31 जुलाई तक खोलें बिटिया का खाता, 21 साल की उम्र में मिलेंगे 66 लाख
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 06 Jul 2020 11:26 AM
ऐप पर पढ़ें

डाक विभाग के एक हालिया निर्देश के मुताबिक सुकन्या समृद्धि खाता 31 जुलाई, 2020 को या उससे पहले उन बेटियों के नाम से खोला जा सकता है, जिनकी उम्र 25 मार्च, 2020 से 30 जून, 2020 तक लॉकडाउन की अवधि के दौरान 10 वर्ष पूरी हो चुकी है। बता दें  सुकन्या समृद्धि खाते केवल जन्म की तारीख से 10 वर्ष की आयु तक ही खोले जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: आज से खरीदें सस्ता सोना, इस रेट पर बेच रही मोदी सरकार, जानें सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड से जुड़ी 10 बड़ी बातें

बढ़ती महंगाई के इस दौर में बेटी की उच्च शिक्षा और शादी के खर्चों को आसानी से पूरा करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना एक बेहतरीन विकल्प है। अगर आप अपनी बिटिया की कम उम्र से ही इसमें निवेश करते हैं तो बेटी के 21 साल पूरे होने पर इतना पैसा मिलेगा कि आपकी सारी चिंताएं दूर हो जाएंगी। इस स्कीम में 15 साल तक निवेश कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना की खास बातें

  • आप डाकघर में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवा सकते हैं। इसके अलावा आप बैंक में भी इस खाता के बारे में पता कर सकते हैं। अधिकतर बैंकों को सरकार ने यह खोलने के लिए अधिकृत किया हुआ है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए बालिका की जन्म या उम्र का प्रमाण पत्र, बच्चे के अभिभावक के पते का प्रमाण पत्र या आधार कार्ड। 
  • यदि आधार कार्ड नहीं है तो राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली बिल, पासपोर्ट आदि को भी मान्य दस्तावेज के रूप में अधिकृत किया गया है।
  • एक वित्तीय वर्ष के दौरान किसी एक अकाउंट में अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक जमा किया जा सकता है।
  • किसी एक अकाउंट में एक वित्तीय वर्ष में आप अधिक से अधिक 1.5 लाख रुपये और कम से कम 250 रुपये तक निवेश कर सकते हैं। 
  • अगर इस खाते में एक वित्तीय वर्ष के दौरान न्यूनतम 250 रुपये नहीं जमा किया जाता है तो 15 साल की अवधि के दौरान इसे कभी भी 50 रुपये (प्रति वर्ष) की पेनाल्टी के साथ रेग्युलराइज किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में  7.6 फीसद की दर से इस समय ब्याज मिल रहा है। खाता खुलवाते समय जो ब्याज दर रहती है, उसी दर से पूरे निवेश काल के दौरान ब्याज मिलता है।
  • मौजूदा ब्याज दर से अगर हर वित्तीय वर्ष में 1.5 लाख रुपये 15 साल तक जमा किया जाता है तो इस पर आपके द्वारा जमा किया गया कुल रकम 22,50,000 रुपए होगा और इस पर ब्याज 41,36,543 रुपए बनेगा।
  • 21 साल तक यह रकम ब्याज के साथ बढ़कर करीब 64 लाख रुपए हो जाएगा। सुकन्या समृद्धि योजना पर मिलने वाला ब्याज सरकार हर तिमाही में तय करती है। मैच्योरिटी तक ब्याज दर में कई बार बदलाव हो सकते हैं।
epaper