DA Image
15 अक्तूबर, 2020|3:31|IST

अगली स्टोरी

घर बैठे खरीदें सस्ता सोना वह भी लॉकडाउन-2 के बीच, मोदी सरकार दे रही है मौका, 20 से 24 अप्रैल के बीच ऐसे कर सकते हैं निवेश

gold price delhi  gold price today  gold price in india  gold price delhi today  gold price in nepal

शेयर बाजार पर कोरोना वायरस का असर और सोने की आसमान छूती कीमतों के बीच केंद्र की मोदी सरकार एक बार फिर आम जनता को Gold बेचेगी। सरकार आम नागरिकों को एक बार फिर सोने में निवेश का मौका दे रही है। सुरक्षित निवेश का जरिया खोज कर रहे निवेशकों के लिए सोना में  निवेश एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम के निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। स्कीम के तहत निवेश पर 2.5 % सालाना ब्याज मिलेगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली किस्त को 2020-21 सीरीज नाम दिया गया है।

आरबीआई ने सोमवार को कहा, "भारतीय रिजर्व बैंक के परामर्श से भारत सरकार ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड जारी करने का फैसला किया है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स अप्रैल 2020 से सितंबर 2020 तक छह किश्तों में जारी किए जाएंगे " इसके तहत कम से कम एक ग्राम सोने में निवेश किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: नए शिखर पर पहुंचा 10 ग्राम सोने का भाव, जानें आज का रेट

कब-कब जारी होंगे बॉन्ड

  • पहली सीरीज: पहली सीरीज में 20 अप्रैल से लेकर 24 अप्रैल के बीच इसका सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। पहली किस्त 28 अप्रैल को जारी किया जाएगी।
  • दूसरी सीरीज: 11 मई से लेकर 15 मई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 19 मई को जारी की जाएगी।
  • तीसरी सीरीज: 8 जून से लेकर 12 के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 16 जून को जारी की जाएगी।
  • चौथी सीरीज: 6 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 14 जुलाई को जारी की जाएगी।
  • पांचवीं सीरीज: 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 11 अगस्त को जारी की जाएगी।
  • छठी सीरीज: 31 अगस्त से लेकर 4 सितंबर के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 8 सितंबर को जारी की जाएगी।

इश्यू प्राइस पर RBI ने कहा कि यह भारतीय बुलियन और ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड द्वारा प्रकाशित 999 शुद्धता के सोने के क्लोजिंग प्राइस के साधारण औसत के आधार पर तय किया जाएगा। SGB को बैंकों (स्मॉल फाइनेंस बैंकों और पेमेंट बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (NSE और BSE) के माध्यम से बेचा जाएगा। 

यह भी पढ़ें: फिजिकल गोल्ड, ईटीएफ और सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में कौन सबसे बेहतर, जानें यहां

अगर आप गोल्ड बॉन्ड के लिए ऑनलाइन तरीके से आवेदन और भुगतान करेंगे तो निवेशकों को प्रति ग्राम 50 रुपए की छूट मिलेगी।  आपको बता दें कि भारत बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड की ओर से पिछले 3 दिन 999 प्योरिटी वाले सोने की दी गई कीमतों के आधार पर इस बांड की कीमत रुपये में तय होती है। बता दें सोमवार 13 अप्रैल को इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड के मुताबिक 999 शुद्धता के सोने का मूल्य 46034 रुपये प्रति 10 ग्राम था।

यह भी पढ़ें: Modi Lockdown Speech LIVE: कोरोना पर PM मोदी का ऐलान- 3 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, 20 अप्रैल से सीमित क्षेत्रों में सशर्त सीमित छूट मिलेगी

बॉन्ड को ट्रस्टी व्यक्तियों, HUF, ट्रस्ट, विश्वविद्यालयों और धर्मार्थ संस्थानों को बिक्री के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा. वहीं ग्राहकी की अधिकतम सीमा 4 किलोग्राम प्रति व्यक्ति, एचयूएफ के लिए 4 किलोग्राम और ट्रस्टों के लिए 20 किलोग्राम और प्रति वित्तीय वर्ष (अप्रैल-मार्च) समान होगी।

ये है नियम 

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं।

बॉन्ड लाने के पीछे कारण 

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है। इसके तहत सोना खरीदकर घर में नहीं रखा जाता है बल्कि बॉन्ड में निवेश के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को कहा कि सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स (एसजीबी) को छह चरणों में जारी करेगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Buy cheap gold from Modi government can invest between April 20 and 24 sovereign gold bond scheme