DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत में बिटक्वाइन पर लागू हुआ बैन, आज से जेबपे समेत सभी एक्सचेंज ने रुपये में लेनदेन किया बंद

bitcoin

भारत में बिटक्वाइन का लेनदेन करने वाले क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज पर लगा प्रतिबंध आद गुरुवार से लागू हो गया। आरबीआई के आदेश के बाद भारत में जेबपे समेत सभी बिटक्वाइन एक्सचेंजों ने रुपये में कारोबार बंद कर दिया है।
 
आरबीआई ने पांच अप्रैल को सर्कुलर जारी कर सभी बैंकों से इन बिटक्वाइन एक्सचेंजों को सेवाएं बंद करने का आदेश दिया था। बिटक्वाइन और अन्य वर्चुअल करेंसी के सबसे बड़े डिजिटल एक्सचेंज जेबपे ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि वह रुपये में लेनदेन बंद कर रही है और उसके मोबाइल एप से बिटक्वाइन के बदले भुगतान भी नहीं हो सकेगा। कंपनी ने कुछ दिनों पहले अपने ग्राहकों से पैसा निकाल लेने को कहा था। 

इन प्रतिबंधों का अर्थ है कि कोई भी भारतीय भारत में किसी भी बिटक्वाइन एक्सचेंज से के क्रिप्टो वैलेट में न तो रुपये जमा करा पाएगा और न ही निकाल पाएगा। हालांकि वह क्वाइन डिपॉजिट करा सकता है, ऐसे में क्रिप्टो टू क्रिप्टो पेयर ट्रेडिंग सेवा भी जारी रहेगी। जेबपे के सह संस्थापक संदीप गोयनका ने ट्वीट कर कहा कि वह आरबीआई के सर्कुलर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं।

होशियारः 15 से 6 लाख रह गई बिटक्वाइन की कीमत

बिटक्‍वाइन के अवैध घोषित होते ही इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट दिए कार्यवाही के संकेत
 
गौरतलब है कि आरबीआई के पहले केंद्र सरकार ने बजट में घोषित किया था कि वह संदिग्ध लेनदेन के कारण किसी वर्चुअल करेंसी को प्रचलन में लाने की इजाजत नहीं देगी। वर्चुअल करेंसी के जरिये हवाला कारोबार, कालेधन का प्रवाह और कर चोरी की आशंका जताई जा रही है। वहीं आरबीआई ने खुद अपनी वर्चुअल करेंसी लाने के संकेत भी दिए हैं। 

ये भी पढ़ेंः अब bitcoin को इजराइल ने दिया झटका, जानिये क्या कहा

आरबीआई पहले ही दे चुका था चेतावनी
bitcoin और अन्य क्रिप्टो करेंसी को लेकर रिजर्व बैंक वर्ष 2013 से ही निवेशकों को अगाह करता रहा है। आरबीआई यह कह चुका है कि देश में इसको मान्यता नहीं है और ऐसे में इसमें कमाई डूबने पर निवेशक खुद जिम्मेदार होंगे। दिसंबर में देश में आयकर विभाग ने कई bitcoin एक्सचेंजो पर छापा भी मारा था।

क्या है bitcoin 
यह एक क्रिप्टो करेंसी (आभाषी मुद्रा) है। इसकी खरीद-बिक्री इंटरनेट के जरिये आईडी-पासवर्ड के जरिये की जाती है। इसे किसी भी करेंसी में नहीं बदला जा सकता है। आईडी-पासवर्ड भूल जाने या हैक होने पर पूंजी डूबने का भी खतरा है।

PHOTO CREDIT : GOOGLE

बिटक्वाइन को मान्यता नहीं, इस्तेमाल रोकने की तैयारी जल्द

ये भी पढ़ेंः बिजनेस की सभी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bitcoin banned in india from today all the exchanges including Jabpe closed transactions in rupees