ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसNDTV के सबसे बड़े शेयरहोल्डर बने भारत के सबसे बड़े अरबपति गौतम अडानी

NDTV के सबसे बड़े शेयरहोल्डर बने भारत के सबसे बड़े अरबपति गौतम अडानी

NDTV में अब अरबपति गौतम अडानी के समूह की हिस्सेदारी 37% से अधिक हो गई है, जिससे यह ग्रुप NDTV में से एक का सबसे बड़ा शेयरधारक बन गया। ग्रुप ने ओपन ऑफर के माध्यम से यह हिस्सेदारी हासिल की।

NDTV के सबसे बड़े शेयरहोल्डर बने भारत के सबसे बड़े अरबपति गौतम अडानी
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 06 Dec 2022 06:06 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

NDTV में अब अरबपति गौतम अडानी के समूह की हिस्सेदारी 37% से अधिक हो गई है, जिससे यह ग्रुप समाचार नेटवर्क NDTV में से एक का सबसे बड़ा शेयरधारक बन गया। Adani ग्रुप ने सोमवार को ओपन ऑफर के माध्यम से यह हिस्सेदारी हासिल की। बता दें अडानी का समूह एनडीटीवी में 26% हिस्सेदारी लेना चाह रहा था, लेकिन अडानी के समूह ने सोमवार को ओपन ऑफर के जरिए  अपनी हिस्सेदारी 37% से अधिक बढ़ा दी। इससे अडानी ग्रुप NDTV का सबसे बड़ा शेयरधारक बन गया।

यह भी पढ़ें: अडानी के ओपन ऑफर के आखिरी दिन ढेर हुआ NDTV, निवेशकों ने ताबड़तोड़ बेचे शेयर, लगा लोअर सर्किट

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, अडाणी समूह ने खुली पेशकश के तहत 294 रुपये के मूल्य दायरे में एनडीटीवी के 53.27 लाख शेयरों का अधिग्रहण किया है। अडाणी समूह ने एक छोटी कंपनी का अधिग्रहण करके नयी दिल्ली टेलीविजन लि.(एनडीटीवी) में 29.18 फीसद हिस्सेदारी पर अप्रत्यक्ष अधिकार हासिल कर लिया था। इसके बाद समूह मीडिया कंपनी के निवेशकों के लिए खुली पेशकश लेकर आया।

अडाणी की खुली पेशकश के तहत एनडीटीवी के अल्पांश शेयरधारकों से 294 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 1.67 करोड़ या 26 फीसद शेयरों की खरीद की पेशकश की गई थी। सोमवार को शेयर बाजारों में एनडीटीवी का शेयर 393.90 रुपये पर बंद हुआ, जो पेशकश मूल्य से करीब 34 फीसद अधिक है। पिछले तीन माह की बात की जाए, तो पांच सितंबर, 2022 को एनडीटीवी का शेयर 540.85 रुपये के उच्चस्तर पर पहुंच गया था।

यह भी पढ़ें: अडानी की कंपनियों पर LIC का बढ़ा भरोसा, ₹73467 करोड़ के खरीद डाले शेयर

एनडीटीवी के अधिग्रहण ने कुछ पत्रकारों के बीच डर पैदा कर दिया है। अडानी द्वारा NDTV की संस्थापक संस्था के अधिग्रहण के तुरंत बाद, NDTV के एक वरिष्ठ कार्यकारी संपादक रवीश कुमार ने इस्तीफा दे दिया।  हालांकि, अडानी ने कहा है कि वह एनडीटीवी के अधिग्रहण को एक व्यावसायिक अवसर के बजाय एक "जिम्मेदारी" के रूप में देखते हैं, यह कहते हुए कि अधिग्रहण पूरा होने पर उन्होंने प्रणय रॉय को अध्यक्ष के रूप में रहने के लिए आमंत्रित किया है।

जानें Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।