ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसमोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि, भारत ने पहली बार 400 अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य हासिल किया

मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि, भारत ने पहली बार 400 अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य हासिल किया

मोदी सरकार की बड़ी उपलब्धि, भारत ने पहली बार 400 अरब डॉलर के निर्यात का लक्ष्य हासिल किया
Drigraj Madheshiaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 23 Mar 2022 01:33 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

कोरोना संकट और रूस-यूक्रेन युद्ध से उपजे हालात के बीच मोदी सरकार ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। भारत ने पहली बार 400 अरब डॉलर के माल निर्यात का लक्ष्य हासिल किया है। 

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज इस बात की जानकारी देते हुए ट्वीट किया है, " भारत ने पहली बार 400 अरब डॉलर के माल निर्यात का लक्ष्य हासिल किया है। मैं इस सफलता के लिए अपने किसानों, बुनकरों, एमएसएमई, निर्माताओं, निर्यातकों को बधाई देता हूं। यह हमारी आत्मनिर्भर भारत यात्रा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है।"

 भारतीय निर्यात संगठनों के महासंघ (फिओ) के महानिदेशक अजय सहाय ने इसे देश के लिए एक उल्लेखनीय उपलब्धि बताते हुए कहा कि निर्यातकों ने तमाम लॉजिस्टिक चुनौतियों के बावजूद एक साल में ही निर्यात में 110 अरब डॉलर की वृद्धि कर ली है।  उन्होंने कहा कि इस सिलसिले को कायम रखना और उसे आगे बढ़ाना अधिक महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि कुछ देशों के साथ हुए मुक्त व्यापार समझौतों और उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजनाओं का भी साथ मिलेगा। 

ट्वीट में यह बताया गया है कि सरकार ने अपने तय समय सीमा से 9 दिन पहले ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया। आंकड़ों के मुताबिक भारत ने हर दिन औसतन एक अरब डॉलर का माल निर्यात किया यानी हर दिन करीब 46 मिलियन डॉलर का माल दूसरे देशों को भेजा गया। अगर महीने की बात करें तो यह औसतन 33 अरब डॉलर प्रति माह बैठता है।

पेट्रोल-डीजल-LPG की बढ़ती कीमतों से आम लोग परेशान, निवेशक हो रहे मालामाल, इन शेयरों की बढ़ी खरीदारी

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा इस महीने की शुरुआत में जारी फरवरी के आंकड़ों के अनुसार, पेट्रोलियम निर्यात में 88.14% की वृद्धि के अलावा, फरवरी में आउटबाउंड शिपमेंट का नेतृत्व इलेक्ट्रॉनिक सामान, इंजीनियरिंग सामान, सूती धागे और रसायनों के मजबूत प्रदर्शन के कारण हुआ। जो क्रमशः 34.54%, 32.04%, 33.01%, 25.38% और 18.02% की वृद्धि हुई।

बनी हुई है व्यापार घाटे की चिंता

निर्यात में वृद्धि के बावजूद, रूस-यूक्रेन संघर्ष के परिणाम के रूप में कच्चे तेल और अन्य वस्तुओं की बढ़ती कीमतों के बीच बढ़ते व्यापार घाटे की चिंता बनी हुई है।

देश को एक विनिर्माण केंद्र में बदलने और वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में एक महत्वपूर्ण उपस्थिति बनाने के लिए कई पहलों के बीच, सरकार ऑटोमोबाइल और ऑटो घटकों, कपड़ा और इलेक्ट्रॉनिक्स सहित कई क्षेत्रों में उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजनाएं लेकर आई है।

केवल 669 रुपये में मिल रहा घरेलू एलपीजी सिलेंडर, फाैरन चेक करें डिटेल्स

वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को ट्वीट किया: "प्रधानमंत्री @NarendraModi जी का #LocalGoesGlobal का स्पष्ट आह्वान एक वास्तविकता है। आपके दूरदर्शी नेतृत्व में, भारत ने एक वर्ष के भीतर 400 बिलियन डॉलर के माल निर्यात के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को प्राप्त करके इतिहास रचा है। मेक इन इंडिया दुनिया भर में शेर जोर-जोर से दहाड़ रहा है।"

epaper