DA Image
2 अप्रैल, 2021|2:48|IST

अगली स्टोरी

बार-रेस्तरां में क्रेडिट और डेबिट कार्ड का करते हैं इस्तेमाल तो हो जाएं सावधान

digital payment increased during lockdown  file pic

क्रेडिट और डेबिट कार्ड से ऑनलाइन पेमेंट करने वालों की असावधानी उनका खाता खाली करा देती है, लेकिन अगर आप रेस्टोरेंट, बार या किसी दुकान में कार्ड के जरिए पेमेंट करते हैं तो भी आप ठगी के शिकार हो सकते हैं।  महाराष्ट्र में पुलिस ने बार और रेस्तरां में काम करने वाले दो ऐसे वेटरों को गिरफ्तार किया है, जो कथित रूप से फर्जी एटीएम कार्ड बनाकर लोगों के बैंक खातों से पैसा चुरा लेते थे। पुलिस ने उनके पास से 64 फर्जी एटीएम कार्ड और 41 फर्जी चेक जब्त किए। 

बैंक धोखाधड़ी, ऑनलाइन फ्रॉड, अनधिकृत लेनदेन से हुए नुकसान पर क्या कहता है RBI, जानें यहां

क्या है मामला

पुलिस उपायुक्त (अपराध) डॉ. महेश पाटिल ने बताया कि महाराष्ट्र के विरार में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को दो फरवरी को सूचना मिली थी की कुछ लोग फर्जी एटीएम कार्ड बनाने एवं लोगों के खातों से पैसे निकालने के लिए स्कीमर उपकरण (एटीएम कार्ड की जानकारियां जुटा लेने वाला) का उपयोग कर रहे हैं।

ऐसे करते थे फर्जीवाड़ा

पुलिस के अनुसार बिल का भुगतान करते समय दोनों ग्राहकों के कार्ड का पिन और उसके अंतिम चार अंक याद कर लेते थे। पुलिस के मुताबिक फिर आरोपी एक स्कीमर उपकरण, मैग्नेटिक कार्ड रीडर एवं अन्य मशीनों की मदद से क्रेडिट/डेबिट कार्ड का ब्योरा जुटा लेते थे एवं फर्जी कार्ड बना लेते थे और उनकी मदद से वे लोगों के बैंक खातों से पैसे निकाल लेते थे।

ये चीजें हुई बरामद

पुलिस ने आरोपियों के पास से एक लैपटॉप, मैग्नेटिक कार्ड रीडर, मिनी एटीएम मशीन, एटीएम स्कीमर, 64 फर्जी एटीएम कार्ड और 41 फर्जी चेक जब्त किए हैं। उनके विरुद्ध विरार थाने में मामला दर्ज किया गया है।

फ्रॉड से बचने के सात उपाय

एसबीआई ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ऐसे ही फ्रॉड से अलर्ट रहने लिए कहा है। एसबीआई ने ट्विट में अपने ग्राहकों को कहा कि धोखाधड़ी वाले कॉल या संदेशों से खुद को सुरक्षित रखें। ऐसा कोई भी फ्रॉड होने पर बैंक को तुरंत सूचना दें।

यह भी पढ़ें: बिना फास्टैग वाहनों का रजिस्ट्रेशन, फिटनेस सर्टिफिकेट व थर्ड पार्टी बीमा नहीं होगा

1) ओटीपी किसी के साथ साझा न करें
2) रिमोट एक्सेस एप्लीकेशन से बचें
3) अजनबियों के साथ आधार की कॉपी साझा न करें
4) अपने बैंक खाते में अपनी नई सम्पर्क डिटेल अपडेट करें।
5) बराबर अपना पासवर्ड बदलते रहें।
6) अपने मोबाइल और गोपनीय डेटा को किसी के साथ साझा न करें।
7) किसी भी लिंक पर क्लिक करने से पहले सोचें।

यहां कर सकते हैं बैंक को संपर्क

एसबीआई  ने कहा कि यदि आप अपने बैंक खाते में किसी भी  गलत ट्रांजेक्शन को नोटिस करते हैं, तो तुरंत टोल-फ्री कस्टमर केयर नंबर - 18004253800, 1800112211 पर शिकायत दर्ज कराएं। या फिर https://cybercrime.gov.in पर साइबर अपराधों  पर रिपोर्ट करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Be careful if you use credit and debit cards in bar restaurants sbi alert