अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वित्त मंत्री अरुण जेटली बोले- रुपये में गिरावट के पीछे घरेलू नहीं वैश्विक कारण

Arun Jaitley

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को कहा कि रुपये में गिरावट वैश्विक कारकों की वजह से है। उन्होंने जोर देकर कहा कि अन्य मुद्राओं की तुलना में रुपये की स्थिति बेहतर है। अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में बुधवार को लगातार छठे दिन गिरावट का सिलसिला कायम रहा। रुपया 17 पैसे और टूटकर 71.75 प्रति डॉलर के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ। पिछले छह कारोबारी सत्रों में रुपया 165 पैसे टूट चुका है। 
     
वित्त मंत्री ने कहा कि यदि आप घरेलू आर्थिक स्थिति और वैश्विक स्थिति को देखें, तो इसके पीछे कोई घरेलू कारक नजर नहीं आएगा। इसके पीछे वजह वैश्विक है। जेटली ने कहा कि डॉलर लगभग सभी मुद्राओं की तुलना में मजबूत हुआ है। वहीं दूसरी ओर रुपया मजबूत हुआ है या सीमित दायरे में रहा है। उन्होंने कहा कि रुपया कमजोर नहीं हुआ है। यह अन्य मुद्राओं मसलन पाउंड और यूरो की तुलना में मजबूत हुआ है। 

रुपये में रिकॉर्ड गिरावट जारी, आरबीआई ने लिया एक्शन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Arun Jaitley says reasons for fall of rupee are global not domestic