ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसमोदी सरकार से सस्ता सोना खरीदने का एक और मौका, एक से 500 ग्राम तक के सॉवरेन गोल्ड बांड में करें निवेश

मोदी सरकार से सस्ता सोना खरीदने का एक और मौका, एक से 500 ग्राम तक के सॉवरेन गोल्ड बांड में करें निवेश

कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण शेयर बाजार की स्थिति काफी उतार-चढ़ाव भरी है। ऐसे में लोगों का रुझान सोने में निवेश की तरफ बढ़ा है। मार्च-अप्रैल में सोने की कीमतों में नए कीर्तिमान स्थापित किए। इसके...

मोदी सरकार से सस्ता सोना खरीदने का एक और मौका, एक से 500 ग्राम तक के सॉवरेन गोल्ड बांड में करें निवेश
Drigrajलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 07 May 2020 02:46 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण शेयर बाजार की स्थिति काफी उतार-चढ़ाव भरी है। ऐसे में लोगों का रुझान सोने में निवेश की तरफ बढ़ा है। मार्च-अप्रैल में सोने की कीमतों में नए कीर्तिमान स्थापित किए। इसके बावजू मोदी सरकार एक बार फिर आपको सस्ता सोना बेचने जा रही है। जो लोग 20 से 24 अप्रैल के बीच सॉवरेन गोल्ड बांड में निवेश नहीं कर पाएं है वो दूसरी सीरीज के तहत 11 मई से लेकर 15 मई के बीच सॉवरेन गोल्ड बांड का सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं। इसकी किस्त 19 मई को जारी की जाएगी।

एक ग्राम से लेकर अधिकतम 500 ग्राम तक खरीदें सोना

बता दें सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पहले सॉवरेन गोल्ड बांड 28 अप्रैल को जारी कर दिया। अब इसकी दूसरी किस्त 11 मई को आ रही है। इसमें निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। स्कीम के तहत निवेश पर 2.5 % सालाना ब्याज मिलेगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली किस्त को 2020-21 सीरीज नाम दिया गया है।

ऐसे तय होगी कीमत

इश्यू प्राइस पर RBI ने कहा कि यह भारतीय बुलियन और ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड द्वारा प्रकाशित 999 शुद्धता के सोने के क्लोजिंग प्राइस के साधारण औसत के आधार पर तय किया जाएगा। वहीं ऑनलाइन खरीदने पर इस पर 50 रुपये प्रति ग्राम या 500 रुपये प्रति 10 ग्राम की छूट मिलेगी। SGB को बैंकों (स्मॉल फाइनेंस बैंकों और पेमेंट बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (NSE और BSE) के माध्यम से बेचा जाएगा। 

पहली सीरीज में 822 करोड़ का निवेश

पहली सीरीज में 20 अप्रैल से लेकर 24 अप्रैल के बीच इसका सब्सक्रिप्शन हो चुका है। पहली किस्त 28 अप्रैल को जारी की गई। गोल्ड बांड की अप्रैल सीरीज को लेकर निवेशकों में जबरदस्त क्रेज दिखा है। आरबीआई द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक अप्रैल सीरीज को 17.73 लाख यूनिट के लिए करीब 822 करोड़ का सब्सक्रिप्शन मिला। यह अक्टूबर 2016 के बाद सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन है। अप्रैल सीरीज में गोल्ड बांड का भाव 4,639 प्रति ग्राम तय किया गया था।

कब-कब जारी होंगे बॉन्ड

  • दूसरी सीरीज: 11 मई से लेकर 15 मई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 19 मई को जारी की जाएगी।
  • तीसरी सीरीज: 8 जून से लेकर 12 के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 16 जून को जारी की जाएगी।
  • चौथी सीरीज: 6 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 14 जुलाई को जारी की जाएगी।
  • पांचवीं सीरीज: 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 11 अगस्त को जारी की जाएगी।
  • छठी सीरीज: 31 अगस्त से लेकर 4 सितंबर के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 8 सितंबर को जारी की जाएगी।
     

ये है नियम 

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। बॉन्ड को ट्रस्टी व्यक्तियों, HUF, ट्रस्ट, विश्वविद्यालयों और धर्मार्थ संस्थानों को बिक्री के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा. वहीं ग्राहकी की अधिकतम सीमा 4 किलोग्राम प्रति व्यक्ति, एचयूएफ के लिए 4 किलोग्राम और ट्रस्टों के लिए 20 किलोग्राम और प्रति वित्तीय वर्ष (अप्रैल-मार्च) समान होगी।

बॉन्ड लाने के पीछे कारण 

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है। इसके तहत सोना खरीदकर घर में नहीं रखा जाता है बल्कि बॉन्ड में निवेश के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को कहा कि सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स (एसजीबी) को छह चरणों में जारी करेगी।

जानें Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।