ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिजनेसबाजार से गायब हुआ अमूल बटर, ग्राहक परेशान...कंपनी ने बताई ये बात

बाजार से गायब हुआ अमूल बटर, ग्राहक परेशान...कंपनी ने बताई ये बात

दिल्ली, अहमदाबाद और पंजाब समेत देशभर के कई हिस्सों में बाजारों में अमूल बटर की कमी की शिकायत आ रही है। यहां तक की ग्राॅसरी ऐप पर भी अमूल बटर बिक्री के लिए उपलब्ध नहीं है।

बाजार से गायब हुआ अमूल बटर, ग्राहक परेशान...कंपनी ने बताई ये बात
Varsha Pathakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 15 Nov 2022 03:03 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

आमतौर पर ठंड के मौसम में बटर यानी कि मक्खन (Amul Butter) की डिमांड बढ़ जाती है। लेकिन हो सकता है इस साल आपको बाजार में अमूल बटर न दिखें। दरअसल, दिल्ली, अहमदाबाद और पंजाब समेत देशभर के कई हिस्सों में बाजारों में अमूल बटर की कमी की शिकायत आ रही है। यहां तक की ग्राॅसरी ऐप पर भी अमूल बटर बिक्री के लिए उपलब्ध नहीं है। कुछ ग्राहकों ने इसकी शिकायत सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म ट्विटर पर भी की है। 

बाजार में बेचे जा रहे नकली अमूल बटर
मार्केट में अमूल बटर की शॉर्टेज के कारण नकली अमूल मक्खन धड़ल्ले से बेचें जा रहे हैं। बता दें कि अमूल बटर की कमी की जानकारी सबसे पहले अहमदाबाद से मिली थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली में 20 से 25 दिनों से अमूल बटर बाजार में उपलब्ध नहीं है। उत्तर प्रदेश में 30-35% बटर की कमी देखी गई है। डिस्ट्रिब्यूटर्स का कहना है कि कि सप्लाई  में कमी के कारण उन तक भी माल नहीं पहुंच पा रहा है। इतना ही नहीं इन दिनों अमूल क्रीम और घी की सप्लाई भी प्रभावित हुई हैं। 

यह भी पढ़ें- गौतम अडानी की झोली में गिरेगी यह बड़ी कंपनी, खबर सुन शेयर खरीदने की मची होड़, लगा अपर सर्किट 

ट्विटर पर शिकायतों की बाढ़
एक ग्राहक ने ट्विटर पर कहा, "अहमदाबाद में कहीं भी मक्खन उपलब्ध  नहीं है। अमूल समेत डेयरी कंपनी प्रोडक्शन नहीं कर रहे हैं। दुकानदारों का कहना है कि शॉर्टेज एक सप्ताह तक रह सकती है।" एक अन्य यूजर लिखते हैं, "क्या आपको यह  एहसास हुआ कि अमूल बटर किसी भी किराना प्लेटफॉर्म या सुपरमार्केट में उपलब्ध  नहीं है?" 

लगातार 2 दिन से अपर सर्किट में था शेयर, अब ट्रेडिंग पर लगी रोक, कंपनी खरीदने की रेस में अडानी-अंबानी

अमूल ने क्या कहा?
अमूल के अनुसार, दिवाली के दौरान बाजार में मक्खन की जबरदस्त डिमांड थी और प्रोडक्शन बड़े पैमाने पर नहीं हो सकी। इस वजह से अमूल बटर किल्लत हो रही है। वहीं, दूसरी तरफ पशुओं में फैली लंपी बीमारी की वजह से भी असर पड़ा है। कंपनी के मुताबिक,  बाजार में अमूल मक्खन की आपूर्ति और उपलब्धता 4-5 दिनों में पूरी तरह से सामान्य हो जाएगी।"