DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  कैशलेस दावों से इनकार करने वाली बीमा कंपनियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

बिजनेसकैशलेस दावों से इनकार करने वाली बीमा कंपनियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Drigraj Madheshia
Fri, 23 Apr 2021 10:00 AM
कैशलेस दावों से इनकार करने वाली बीमा कंपनियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इरडा के चेयरमैन एससी खुंटिया से बीमा कंपनियों द्वारा कैशलेस दावे खारिज किए जाने की शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई करने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि बीमा कंपनियों ने 8,642 करोड़ रुपये के कोविड से जुड़े नौ लाख से अधिक दावों का निपटान किया है।

मंत्री ने ट्विटर पर लिखा है, ''यह रिपोर्ट मिल रही है कि कुछ अस्पताल कैशलेस बीमा को मना कर रहे हैं। इरडा के चेयरमैन एस सी खुंटिया से बात कर इस पर तुरंत कदम उठाने को कहा है। मार्च, 2020 में कोविड को व्यापक स्वास्थ्य बीमा में शामिल किया गया। कैशलेस सुविधा नेटवर्क अस्पतालों के साथ-साथ अस्थायी अस्पतालों में भी उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने बीमा कंपनियों से कोविड दावों का निपटान प्राथमिकता के आधार पर करने को कहा है।

टेलीफोन पर सलाह को भी मिलेगा कवर

सीतारमण ने यह भी कहा, ''बीमा कंपनियों ने 8,642 करोड़ रुपये के कोविड से जुड़े 9 लाख से अधिक दावों का निपटान किया है। यहां तक कि टेलीफोन पर परामर्श को भी कवर किया जा सकता है। इरडा कंपनियों को निर्देश देगा कि वे कोविड मामलों की स्वीकृति और निपटान प्राथमिकता के आधार पर करे। कैशलेस सुविधा की मंजूरी नहीं मिलने की रिपोर्ट पर संज्ञान लेते हुए इरडा ने कहा है कि यह स्पष्ट किया जाता है कि जिन मामलों में बीमा कंपनियों की अस्पतालों के साथ कैशलेस सुविधा को लेकर व्यवस्था है, वैसे नेटवर्क वाले अस्पताल कोविड समेत सभी प्रकार के इलाज 'कैशलेस करने के लिये बाध्य हैं। 

संबंधित खबरें