DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिजनेस  ›  11 बजट में पहली बार, बंपर उछला शेयर बाजार, सेंसेक्स ने लगाई 2314 अंकों की छलांग, निफ्टी 14280 पर बंद

बिजनेस11 बजट में पहली बार, बंपर उछला शेयर बाजार, सेंसेक्स ने लगाई 2314 अंकों की छलांग, निफ्टी 14280 पर बंद

दृगराज मद्धेशिया,नई दिल्लीPublished By: Drigraj Madheshia
Mon, 01 Feb 2021 04:05 PM
11 बजट में पहली बार, बंपर उछला शेयर बाजार, सेंसेक्स ने लगाई 2314 अंकों की छलांग, निफ्टी 14280 पर बंद

11 साल में पहली बार बजट के दिन शेयर बाजार में बंपर उछाल देखने को मिल रही है। सेंसेक्स आज 2314.84 अंकों की उछाल के साथ 48,600.61 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 646.60 अंकों की लंबी छलांग लगाकर 14,281.20 के स्तर पर बंद हुआ। बता दें दोपहर पौने तीन बजे तक सेंसेक्स 2305 अंकों की छलांग लगाकर 48591 के स्तर पर पहुंच गया था, वहीं निफ्टी 641.55 अंकों की लंबी छलांग के साथ 4,276.15 के स्तर पर पहुंच गया। बता दें  पिछले 10 साल में प्रणव मुखर्जी से लेकर निर्मला सीतारमण तक, वित्त मंत्री चाहे जो रहा हो, बजट के दिन शेयर बाजार का रिएक्शन कभी ठंडा तो कभी बेहोशी वाला रहा है। बजट के दिन पिछले 10 साल में केवल तीन बार ही सेंसेक्स में बढ़त देखने को मिली है और सात बार बाजार को निराशा हाथ लगी है।

आज दिन भर ऐसी रही सेंसेक्स की चाल

  • समय    सेंसेक्स
  • 9:15 बजे    46639
  • 10:00 बजे    46660
  • 11:00 बजे    46875
  • 12:00 बजे    47186
  • 01:00 बजे    47943
  • 13:45 बजे    48299
  • 14:15 बजे    48052
  • 14:45 बजे    48614
  • 15:00 बजे    48609
  • क्लोजिंग बेल: 48,600.61

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: बजट के दिन सोना 1040 रुपये हुआ सस्ता, चांदी की कीमत में 4214 रुपये की उछाल

बजट की इन घोषणाओं से चढ़ा शेयर बाजार

ऑटो सेक्टर के लिए आई स्क्रैप पॉलिसी
फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2022 के आम बजट (Budget 2021) में पुरानी गाड़ियों के लिए एक वॉलन्टरी व्हीकल स्क्रैपिंग पॉलिसी की घोषणा की। इस पॉलिसी के तहत पर्सनल व्हीकल्स को 20 साल के बाद फिटनेस टेस्ट कराना होगा। जबकि, कमर्शियल व्हीकल्स को 15 साल के बाद फिटनेस टेस्ट कराना होगा व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी से करीब 43,000 करोड़ रुपये की बिजनेस ऑर्प्च्यूनिटीज बनने की उम्मीद है। साथ ही, इससे ऑटो इंडस्ट्री में कंज्म्प्शन बढ़ेगा और यह पर्यावरण के लिए भी फायदे वाली होगी। स्क्रैपेज पॉलिसी की घोषणा के बाद ऑटो सेक्टर के शेयरों में तेजी आई।

विनिवेश के लिए की घोषणा
केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के बजट में सरकरी कंपनियों में निजीकरण को बढ़ाने का ऐलान किया है। सरकारी कंपनियों, वित्तीय संस्थाओं, जिनमें दो पब्लिक सेक्टर बैंक्स भी शामिल है। वित्त मंत्री ने कहा कि आईडीबीआई बैंक, बीपीसीएल, शिपिंग कॉर्पोरेशन, कंटेनर कॉर्पोरेशन, नीलांचल इस्पात निगम लिमिटेड में वित्त वर्ष 2021-22 में रणनीतिक बिक्री का काम पूरा हो जाएगा। एलआईसी में आईपीओ की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि इसके लिए कानून में संशोधन किया जाएगा। सरकार की घोषणाओं से बैंकिंग सेक्टर की कंपनियों में तेजी आई।
 

बीते दो बजट में गिरा है बाजार

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के समय में दोनों बार बाजार गिर चुका है। अंतरीम बजट के समय 5 जुलाई 2019 को सेंसेक्स 395 अंक टूटा था तो वहीं 1 फरवरी 2020 को आम बजट के दिन सेंसेक्स 900 अंक लुढ़क गया था। वहीं 2010 से लेकर 2012 तक प्रणव मुखर्जी के समय बजट के दिन सेंसेक्स दो बार गिर चुका है। वहीं पी. चिदंबरम ने 28 फरवरी 2013 को बजट पेश किया था और सेंसेक्स 291 अंक फिसल गया था। वहीं अरुण जेटली ने 2014 से 2018 तक कुल 5 बजट पेश किए और इस दौरान दो बार बाजार में तेजी दिखी थी।

 

यह भी पढ़ें: पेट्रोल पर 2.50 और डीजल पर 4 रुपये कृषि सेस वसूलेगी मोदी सरकार, जानें आप पर क्या होगा असर

पिछले 10 बजट के दिन सेंसेक्स का हाल

तारीख वर्ष वित्त मंत्री तेजी/गिरावट
26 फरवरी 2010 प्रणब मुखर्जी -175
28 फरवरी 2011 प्रणब मुखर्जी 123
16 मार्च 2012 प्रणब मुखर्जी -220
28 फरवरी 2013 पी. चिदंबरम -291
10 जुलाई 2014 अरुण जेटली -72
28 फरवरी 2015 अरुण जेटली 141
29 फरवरी 2016 अरुण जेटली -52
01 फरवरी 2017 अरुण जेटली 476
01 फरवरी 2018 अरुण जेटली -59
05 जुलाई 2019 निर्मला सीतारमण -395
01 फरवरी 2020 निर्मला सीतारमण -900
01 फरवरी 2021 निर्मला सीतारमण 2314

स्रोत: BSE

यह भी पढ़ें: बजट से पहले शेयर बाजार मायूस, सेंसेक्स 588 और निफ्टी 183 अंक लुढ़का

बजट के दिन पिछले 10 साल में पिछले साल सबसे बड़ी गिरावट हुई थी। पिछले साल आम बजट 2020-21 से निवेशक इस कदर निराश हुए की बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 988 अंक टूटकर 40,000 अंक के स्तर से नीचे आ गया और एनएसई निफ्टी 276.85 लुढ़क कर 11,685.25 अंक पर बंद हुआ।

संबंधित खबरें