DA Image
9 नवंबर, 2020|7:33|IST

अगली स्टोरी

Fact Check: जनधन खातों से हर नकद निकासी पर 100 रुपये चार्ज, जानें क्या है सच्चाई

कुछ दिन पहले बैंकिंग से जुड़ी तीन खबरें लोगों को परेशान करने वाली थीं। पहली ये कि कुछ बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के लिए अपने चार्ज बढ़ाने का निर्णय किया है। दूसरी जनधन खातों से हर नकद निकासी पर 100 रुपये चार्ज किए जाएंगे और तीसरी बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के लिए अपने चार्ज बढ़ा दिए हैं I इन तीनों खबरों में किए गए दावों को PIB Fact Check ने गलत बताया है। पीआईबी ने ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी है। 

यह भी पढ़ें: Bank Holiday November 2020: नवंबर में 15 दिन बैंक रहेंगे बंद, त्योहारों की भरमार और छुट्टियां अपार

बता दें कि पीआईबी भारत सरकार की नीतियों, कार्यक्रम पहल और उपलब्धियों के बारे में समाचार-पत्रों व इलेक्‍ट्रॉनिक मीडिया को सूचना देने वाली प्रमुख एजेंसी है। पीआईबी ने सलाह दी है कि कोरोना संकट की घड़ी में ही नहीं, देश में जब भी खराब हालात बनते हैं, तब ऐसी फेक न्यूज सोशल मीडिया में प्रसारित होती हैं। ऐसे में सोशल मीडिया से मिली सूचना को अच्‍छे से परखने के बाद ही भरोसा करें। पीआईबी फैक्ट चेक ने अपने ट्विटर अकाउंट से कुछ इस तरह Tweet किया है।

पहला ट्वीट

दावा: एक मीडिया रिपोर्ट ने दावा किया है कि #जनधन खातों से हर नकद निकासी पर 100 रूपए चार्ज किये जायेंगे। #PIBFactCheck: यह दावा गलत हैI #जनधन खातों की मुफ्त बैंकिंग सेवाओं के लिए कोई चार्ज नहीं लिया जाता हैI इस सन्दर्भ में @RBI  के दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाता है

दूसरा ट्वीट

एक मीडिया रिपोर्ट ने दावा किया है कि कुछ बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के लिए अपने चार्ज बढ़ाने का निर्णय किया हैI
#PIBFactCheck:यह दावा गलत हैI उक्त बैंकों ने बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के चार्ज बढ़ाने का कोई निर्णय नहीं लिया है I

तीसरा ट्वीट

दावा: एक मीडिया रिपोर्ट ने दावा किया है कि बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के लिए अपने चार्ज बढ़ा दिए हैं I #PIBFactCheck: यह दावा गलत है I बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने सूचित किया है कि बचत खातों में नकद जमा व नकद निकासी के चार्ज बढ़ाए नहीं गए हैं I

यह भी पढ़ें: 

ऐसी किसी भ्रामक खबर की यहां करें शिकायत:  बता दें कि सरकार से जुड़ी कोई खबर सच है या फर्जी, यह जानने के लिए PIB Fact Check की मदद ली जा सकती है। कोई भी व्यक्ति PIB Fact Check को संदेहात्मक खबर का स्क्रीनशॉट, ट्वीट, फेसबुक पोस्ट या यूआरएल वॉट्सऐप नंबर 918799711259 पर भेज सकता है या फिर pibfactcheck@gmail.com पर मेल कर सकता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:100 rupees charge on every cash withdrawal from Jan Dhan accounts know what is truth