Hindi Newsबिज़नेस न्यूज़Shakti Pumps hits 5 percent upper circuit as INDIA ratings upgrades its long term outlook

रेटिंग अपग्रेड होते ही झूमे इस कंपनी के निवेशक, शेयर में 5% का अपर सर्किट

  • ट्रेडिंग के दौरान शेयर में 5 प्रतिशत का अपर सर्किट लगा और भाव 2,845 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया। यह शेयर अब भी अपने 52 वीक हाई 2,964.70 रुपये से नीचे है। बता दें कि शेयर ने 22 मई 2024 को इस स्तर को टच किया था।

Deepak Kumar नई दिल्ली, लाइव हिन्दुस्तान टीम।Tue, 18 June 2024 02:47 PM
पर्सनल लोन

Shakti Pumps share: सप्ताह के पहले कारोबारी दिन मंगलवार को शक्ति पंप्स (इंडिया) के शेयरों पर निवेशक टूट पड़े। ट्रेडिंग के दौरान शेयर में 5 प्रतिशत का अपर सर्किट लगा और भाव 2,845 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया। यह शेयर अब भी अपने 52 वीक हाई 2,964.70 रुपये से नीचे है। बता दें कि शेयर ने 22 मई 2024 को इस स्तर को टच किया था। जून 2023 में शेयर 564 रुपये के 52 वीक लो को टच किया।

रेटिंग में सुधार का असर

हाल ही में शक्ति पंप्स (इंडिया) ने स्टॉक एक्सचेंज को बताया कि इसकी लॉन्ग टर्म रेटिंग इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च द्वारा अपग्रेड की गई है। कंपनी ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा- हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने कंपनी के परिचालन और वित्तीय प्रदर्शन सहित हालिया विकास के आधार पर बैंक सुविधाओं के लिए रेटिंग दी है।

दरअसल, FY25 में देय कंपनी के टर्म लोन को IND A+/स्टेबल में अपग्रेड कर दिया गया है। इसी तरह, इसकी दीर्घकालिक फंड-आधारित सीमा की रेटिंग को अपग्रेड किया गया है, और अल्पकालिक रेटिंग IND A+/स्थिर/IND A1 पर बनी हुई है।

शेयर का परफॉर्मेंस

इस वर्ष अब तक शक्ति पंप्स के शेयर 178 प्रतिशत से अधिक बढ़ गए हैं। यह बेंचमार्क निफ्टी 50 इंडेक्स से बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। इसी अवधि के दौरान इंडेक्स केवल 8 प्रतिशत बढ़ा है।

कंपनी के बारे में

शक्ति पंप्स इंडिया घरेलू, औद्योगिक, बागवानी और कृषि उपयोग के लिए सबमर्सिबल पंप बनाती है। यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संचालित होती है। यह कंपनी 100 से अधिक देशों में उत्पादों का निर्यात करती है और इसकी संयुक्त राज्य अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त अरब अमीरात में शाखाएं हैं। मार्च में समाप्त तिमाही में शक्ति पंप्स ने अपने प्रॉफिट में कई गुना वृद्धि दर्ज की। यह मुनाफा 89 करोड़ रुपये हो गया, जबकि राजस्व तीन गुना बढ़कर 609 करोड़ रुपये हो गया। तिमाही के दौरान, कंपनी ने योग्य संस्थागत प्लेसमेंट (क्यूआईपी) प्रक्रिया के माध्यम से 200 करोड़ रुपये भी जुटाए।

 जानें Hindi News , Business News की लेटेस्ट खबरें, Share Market के लेटेस्ट अपडेट्स Investment Tips के बारे में सबकुछ।

ऐप पर पढ़ें