Live Hindustan आपको पुश नोटिफिकेशन भेजना शुरू करना चाहता है। कृपया, Allow करें।

सरकार ने कच्चे तेल पर विंडफॉल टैक्स बढ़ाकर ₹9,600 किया, डीजल पर कोई टैक्स नहीं

crude

Drigraj Madheshia नई दिल्ली, हिन्दुस्तान संवाददाता
Tue, 16 Apr 2024, 07:14:AM
अगला लेख

सरकार ने कच्चे तेल पर अप्रत्याशित कर यानी विंडफॉल टैक्स को ₹6,800 से बढ़ाकर ₹9,600 प्रति मीट्रिक टन कर दिया है। यह डीजल और एटीएफ के लिए के लिए शून्य रहेगा। इससे पहले 4 अप्रैल को सरकार ने पेट्रोलियम क्रूड पर विंडफॉल टैक्स ₹4,900 से बढ़ाकर ₹6,800 प्रति मीट्रिक टन कर दिया था।

इससे पहले 15 मार्च, 2024 को वित्त मंत्रालय ने घरेलू कच्चे तेल की बिक्री पर विंडफॉल टैक्स को बढ़ाकर ₹4,900 प्रति टन कर दिया था। जुलाई 2022 में मोदी सरकार ने कच्चे तेल उत्पादकों को टार्गेट करते हुए अप्रत्याशित कर लगाया। इसके बाद पेट्रोल, डीजल और विमानन टरबाइन ईंधन (ATF) के निर्यात को कवर करने के लिए इस कर का विस्तार किया गया।

क्या बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के रेट? 100 डॉलर के पार जा सकता है कच्चा तेल

सरकार क्यों लगाती है विंडफॉल टैक्स

इस नीति का उद्देश्य निजी रिफाइनरों को घरेलू बाजार में सप्लाई को प्राथमिकता देने के बजाय विदेशों में इन ईंधनों को बेचकर बढ़ी हुई वैश्विक कीमतों पर पूंजी लगाने से रोकना है। सरकार हर दो सप्ताह में विंडफॉल की दर को समायोजित करती है।

कच्चे तेल के भाव में उबाल

इजरायल पर ईरान के हमले के बाद कच्चे तेल की कीमतों में उछाल है। मंगलवार को जून डिलीवरी के लिए ब्रेंट वायदा 36 सेंट या लगभग 0.40% चढ़कर 90.46 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया, जबकि मई डिलीवरी के लिए वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) वायदा 42 सेंट, लगभग 0.42% बढ़कर 85.83 डॉलर पर पहुंच गया है। ईरान के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की आशंका में शुक्रवार को तेल बेंचमार्क में तेजी आई, जिससे कीमतें अक्टूबर के बाद से अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं।

हमें फॉलो करें
ऐप पर पढ़ें
News Iconबिज़नेस की अगली ख़बर पढ़ें
PetrolDiesel Rates TodayBusiness Latest News
होमफोटोशॉर्ट वीडियोफटाफट खबरेंएजुकेशन