DA Image
हिंदी न्यूज़ › बजट 2021 › टीम निर्मला सीतारमण के छह धुरंधरों ने तैयारी की थी बजट डोज
बजट 2021

टीम निर्मला सीतारमण के छह धुरंधरों ने तैयारी की थी बजट डोज

हिन्दुस्तान ब्यूरो,नई दिल्लीPublished By: Tarun Singh
Wed, 03 Feb 2021 10:23 AM
टीम निर्मला सीतारमण के छह धुरंधरों ने तैयारी की थी बजट डोज

कोरोना महामारी के बीच केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बार डिजिटल बजट पेश किया। कोविड 19 के कारण झटका झेल रही अर्थव्यवस्था को देखते हुए बजट से सभी को खास उम्मीदें थीं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की छह लोगों की टीम ने खास परिस्थितियों में बजट तैयार किया। इस बार टीम में दो नए चेहरे हैं। जानिए वित्तमंत्री सीतारमण की बजट टीम के बारे में

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन 

कृष्णमूर्ति सुब्रह्मण्यन दिसंबर 2018 में मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किए गए थे। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो बूथ स्कूल ऑफ बिजनेस से पीएचडी की डिग्री ली है। वह देश के सीईए बनने से पहले इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में प्रोफेसर थे। उन्हें बैंकिंग, कॉर्पोरेट प्रशासन और आर्थिक नीति का विशेषज्ञ माना जाता है। सुब्रमण्यन ने सेबी की स्थायी समितियों के सदस्य के रूप में काम किया है। अपनी कॉर्पोरेट नीति के काम के तहत, वह बंधन बैंक, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बैंक मैनेजमेंट और आरबीआई अकादमी बोर्डों के लिए काम कर चुके हैं। लॉकडाउन के बाद सुब्रमण्यन ने अनुमान जताया था कि अर्थव्यवस्था वी शेप में उबरेगी।

तरुण बजाज 

1988 हरियाणा बैच के आईएएस अधिकारी तरुण बजाज वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में सचिव हैं। वित्त मंत्रालय आने से पहले वह प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में भी काम कर चुके हैं। उन्होंने कई राहत पैकेजों पर काम किया है। लॉकडाउन के दौरान तीन आत्मनिर्भर भारत पैकेज को आकार देने में बजाज की महत्वपूर्ण भूमिका रही। बजट में उनके सुझाव ने कई अहम योजनाओं में मदद की।

अजय भूषण पांडेय 

राजस्व सचिव अजय भूषण पांडेय महाराष्ट्र कैडर के 1984 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वह यूआईडीएआई (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के सीईओ रह चुके हैं। पांडेय आईआईटी कानपुर से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग पास हैं। उन्हीं पर स्वास्थ्य और रक्षा पर खर्च करने के लिए राजस्व जुटाने और महामारी में आयकर की दर कम रखते हुए संतुलन बनाने की जिम्मेदारी थी।

देबाशीष पांडा

देबाशीष पांडा वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग में सचिव हैं। बजट में वित्तीय सेक्टर से जुड़े सभी ऐलान उनकी जिम्मेदारी में आते हैं। वह 1987 उत्तर प्रदेश बैच के आईएएस अधिकारी हैं। पांडा पर वित्तीय तंत्र की स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए आरबीआई के साथ मिलकर काम करने की भी जिम्मेदारी है।

टीवी सोमनाथन

टीवी सोमनाथन व्यय विभाग के सचिव हैं। वह विश्व बैंक में काम कर चुके हैं और बतौर संयुक्‍त सचिव प्रधानमंत्री कार्यालय में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। सोमनाथन 1987 बैच के तमिलनाडु कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। वह कलकत्ता विश्‍वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पीएचडी हैं।

तुहीन कांत पांडे

तुहीन कांत निवेश व सार्वजनिक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग के सचिव हैं। उन्होंने अक्तूबर 2019 में डीआईपीएएम सचिव का पदभार संभाला। तुहीन कांत 1987 बैच के ओडिशा कैडर के आईएएस अधिकारी हैं। इस बार के बजट में उनके कार्यों पर भी नजर रहेगी क्योंकि केंद्र का फिलहाल विनिवेश से राजस्व जुटाने पर जोर है।

संबंधित खबरें