DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बजट अब तक: जाने कौन थे जॉन मथाई, जिन्होंने पेश किया गणतंत्र भारत का पहला बजट

रिपब्लिक ऑफ इंडिया का पहला बजट वित्तमंत्री के तौर पर जॉन मथाई ने पेश किया था। मथाई एक अर्थशास्त्री थे जिन्होंने देश के पहले रेलमंत्री के तौर भी अपनी सेवा दी और उसके उसके बाद उन्होंने वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला। जॉन मथाई ने 1950 में ही योजना आयोग और पी.सी. महालनबोईस के बढ़ते अधिकार के चलते अपने पद से इस्तीफा दे दिया। मथाई यूनिवर्सिटी ऑफ मद्रास से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएट थे। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ मद्रास में पहले प्रोफेसर और उसके बाद हेड के तौर पर 1922 से लेकर 1925 तक अपनी सेवाएं दी। जब 1955 में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना की गई तो वे इसके पहले अध्यक्ष बने। वह सरकारी संस्था नेशनल काउंसिल ऑफ एपलाइड इकॉनोमिक रिसर्च, नई दिल्ली (एनीएईआर) के संस्थापक अध्यक्ष थे। उनके बेटे रवि जे. मथाई इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, अहमदाबाद (आईआईएम-ए) के संस्थापक निदेशक थे जबकि उनके भतीजे वर्गीज ने अमूल की स्थापना की।

साधारण था बजट 

रिपब्लिक भारत में पहला बजट कांग्रेस सरकार में वितमंत्री जॉन मथाई ने साल 1951 में पेश किया। इस बजट के रोडमैप ने योजना आयोग के बनाए जाने का स्वरूप तय किया। उस वक्त आर.के. शन्मुखम की जगह लेनेवाले वित्तमंत्री जॉन मथाई ने इसे पेश किया। मथाई का बजट भाषण काफी साधारण था क्योंकि उन्होंने यह फैसला किया था कि सभी डिटेल्स बजट भाषण में नहीं पढ़ी जाएगी। उन्होंने सदस्यों को बताया कि सभी डिटेल्स के साथ व्हाइट पेपर वितरित कर दिए गए। उसके बाद उन्होंने आर्थिक नीति और महंगाई पर एक छोटा सा भाषण दिया था। इस बजट की सबसे बड़ी बात थी योजना आयोग का गठन करना और पांच वर्षीय योजना तैयार करना।

5 मार्च को नीलाम होंगी आम्रपाली बिल्डर की ये तीन संपत्तियां, ये है वजह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Know about John Mathai who present republic India first budget