DA Image
22 अप्रैल, 2021|7:16|IST

अगली स्टोरी

महिलाओं को टैक्स में राहत संभव, सुकन्या समृद्धि योजना में बढ़ सकती है निवेश की सीमा

nirmala sitaraman

आम बजट में उम्मीद की जा रही है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण महिलाओं के लिए खास ऐलान कर सकती है। वित्त मंत्री न सिर्फ महिलाओं के हाथ में अतिरिक्त टैक्स राहत के रास्ते बढ़ा सकती हैं। बल्कि सुकन्या समृद्धि योजना में भी अतिरिक्त निवेश के प्रावधान कर सकती हैं। देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री होने के नाते निर्मला सीतारमण से देश की महिलाओं की उम्मीदें बढ़ गई हैं। ऐसे में देश में 5 जुलाई को पेश होने वाले बजट में उनका फोकस महिलाओं को आर्थिक तौर पर और मजबूत करने की दिशा में हो सकता है। सूत्रों के मुताबिक, बजट में कामकाजी महिलाओं के लिए वित्त मंत्री सौगात लेकर आ सकती हैं।

वित्त मंत्री की तरफ से बच्चों की परवरिश पर आने वाले खर्च पर टैक्स छूट का प्रावधान संभव है। सरकार क्रेच यानि शिशु पालन घरों पर होने वाले खर्च में टैक्स छूट का ऐलान कर कर सकती है। ये छूट प्रति महीने सात से 10 हजार रुपए के बीच रखी जा सकती है। इसके अलावा सरकार महिलाओं को एजुकेशन लोन पर लगने वाली ब्याज दरों में भी छूट का ऐलान कर सकती है। साथ ही महिलाओं जमा पर मिलने वाले ब्याज पर लगने वाले टैक्स से भी राहत दी जा सकती है।

सुरक्षा बलों को आधुनिक हथियारों से लैस करने की तैयारी, सरकार बजट में कर सकती है इजाफा

देश में रोजगार और कंपनियों में उत्पादन करना देश भर में एक बड़ी चुनौती है। ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार मुद्रा स्कीम की तर्ज पर महिलाओं के लिए खास तौर पर अलग स्कीम का ऐलान कर सकती है। साथ ही महिलाओं को काम देने वाली कंपनियों को भी टैक्स में राहत दी जा सकती है। ताकि कंपनियां बढ़ चढ़कर महिलाओं को रोजगार देने की दिशा में कदम उठाएं।

सरकार सुकन्या समृद्धि योजना के तहत मिलने वाली राहत को भी बढ़ाने का ऐलान किया जा सकता है। अभी इसमें 1.5 लाख रुपए की टैक्स छूट मिलती है सरकार इसमें 50 हजार रुपए टैक्स छूट का प्रावधान और कर सकती है। साथ ही सरकार वृद्धा अवस्था पेंशन और विधवा पेंशन की धन राशि को बढ़ाने का भी ऐलान कर सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Budget 2019 Nirmala Sitharaman Special Announcement Form Women Sukanya Samriddhi Yojna Limit may Be Increase