फोटो गैलरी

Hindi News ब्रांड स्टोरीज़कोरोना काल में बेहतर बी-स्कूल का चयन कैसे करें?

कोरोना काल में बेहतर बी-स्कूल का चयन कैसे करें?

वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए किसी भी शैक्षणिक संस्थान का चयन बेहद सावधानी से करें। वर्ष 2022 में बी-स्कूल का चयन करते वक्त ध्यान रखें कि जिस संस्थान का चयन आप कर रहे हैं वह इन पांच अहम...

कोरोना काल में  बेहतर बी-स्कूल का चयन कैसे करें?
HT Brand Studio,IndiaWed, 12 Jan 2022 04:51 PM
ऐप पर पढ़ें

वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए किसी भी शैक्षणिक संस्थान का चयन बेहद सावधानी से करें।
वर्ष 2022 में बी-स्कूल का चयन करते वक्त ध्यान रखें कि जिस संस्थान का चयन आप कर रहे हैं वह इन पांच अहम विशेषताओं से युक्त हो।

1. गुणवत्ता पाठ्यक्रम

यह सवाल बेहद अहम है कि 6000 से अधिक बी-स्कूलों वाले देश में, गुणवत्तायुक्त शिक्षा उपलब्ध कराने वाले बी-स्कूल का चयन कैसे किया जाए ?
पाठ्यक्रम ऐसा होना चाहिए जो उद्योग की आवश्यकता को पूरा करता हो। एआईसीटीई को बी-स्कूल की डिग्री पर विचार करने के लिए 104 क्रेडिट्स की आवश्यकता होती है, वहीं एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट की ओर से उपलब्ध प्रोग्राम 114 क्रेडिट्स ऑफर करता है, जिसमें 5 स्पेशलाइज्ड फील्ड्स में 60 विषयों का विकल्प उपलब्ध है। यहां के शैक्षणिक कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य बी-स्कूलों की लर्निंग को प्रभावशाली बनाना है।

2. प्रयोग

एक अच्छा बी- स्कूल हमेशा से ही अपने प्रयोग के लिए जाना जाता है। प्रबंधन में थियेटर जैसी अपरंपरागत शिक्षण विधियों ने कम समय में भी छात्रों के संचार कौशल को उन्नत बनाने और आत्मविश्वास को बढ़ाने का काम किया है। लाइव प्रोजेक्ट्स और सिमुलेशंस के परिणामस्वरूप सीखने सिखाने का स्तर बेहतर हुआ है। वर्तमान परिस्थितियों के हिसाब से विकसित होता पाठ्यक्रम दुनिया के संग ताल मेल बैठाने में सहायक होता है। डोमेन विशेष मॉड्यूल्स के लिए नए पाठ्यक्रमों को शामिल करना छात्रों में सोचने समझने की उच्च क्षमता विकसित करने और उन्हें किसी भी समस्या का बेहतर समाधान ढूंढने में सक्षम बना रहा है।

3. वैश्विक अवसर

कोविड -19 के कारण हुए लॉकडाउन के बावजूद, कई कंपनियों ने प्रतिभा संपन्न और योग्य युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए, जिससे छात्रों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापक अवसर मिलने लगे हैं। उदाहरण के लिए, एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में शीर्ष प्लेसमेंट के लिए यूएई और यूरोप से कंपनियां आईं। हमारे पूर्व छात्रों ने इन अवसरों का अधिकतम लाभ उठाया। 22.3 एलपीए के पैकेज पर एबीबीएस- एसएम में 2021 में कोविड -19 के बावजूद छात्रों का शानदार प्लेसमेंट संभव हुआ।

4. नेतृत्व और नैतिकता

इन दिनों लोगों के अंदर नैतिकता और नैतिक नेतृत्व की भारी कमी देखी जा रही है। एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में, कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी स्पिरिचुअलिटी जैसे मॉड्यूल के विषय बताया जाता है। यहां 'कैम्पस टू कम्युनिटी' नामक एक अद्वितीय परियोजना के अंतर्गत छात्रों को नैतिक मूल्यों और सामुदायिक विकास के महत्व के बारे में बताया जाता है। यह छात्रों के नैतिक विकास में बेहद सहायक है।
एबीबीएस में हर वर्ष दुनिया भर के शीर्ष प्रतिनिधि बिजनेस इथिक्स, पीस साइंस, स्प्रिचुअलिटी और मैनेजमेंट जैसे विषयों पर छात्रों के संग अपने अनुभव सांझा करते हैं, जो छात्रों के सर्वांगीण विकास में सहायक सिद्ध होता है।

5. मूल्य वर्धित प्रमाणपत्र

इंडस्ट्रीज के साथ जुड़े प्रमाणपत्र हमेशा ही छात्रों को साक्षात्कार में बेहतर प्रदर्शन करने और जॉब पाने में मदद करते हैं। एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में छात्रों को शुरुआत से ही व्यावसायिक संचार में कुशलता प्राप्त करने के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है। छात्रों के सर्वांगीण विकास में लिए हर वर्ष उन्हें सिक्स-सिग्मा, ग्रीन बेल्ट सर्टिफिकेशन, बिजनेस एनालिटिक्स, स्क्रम एंड एजाइल आदि पर विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है।

एक ऐसे बी-स्कूल की तलाश करना बेहद अहम है जो छात्रों की शिक्षा पर खास ध्यान देता हो एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में छात्रों के समग्र विकास के लिए उन्हें 21 वीं सदी के हिसाब से तैयार किया जाता है। छात्रों को विभिन्न क्षेत्रों में कुशल बनाया जाता है, साथ ही डिजिटल साक्षरता प्रदान कर उनका स्वर्णिम भविष्य सुनिश्चित किया जाता है। एबीबीएस से स्नातक करने के बाद यहां के छात्रों को ना सिर्फ बेहतर जॉब मिलती है, बल्कि उनमें रोजगार सृजन की क्षमता भी विकसित होती है। संस्थान में उपलब्ध विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से विकसित होने वाली
मेटा- स्किल्स का इसमें अहम योगदान है।

एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट के विषय में अधिक जानकारी के लिए संस्थान की वेबसाइट https://www.abbssm.edu.in पर जाएं।

प्रवेश प्रारंभ :

एबीबीएस स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में पीजीडीएम 2022-24 बैच में प्रवेश प्रारंभ है।

श्री अजितेश बसानी
कार्यकारी निदेशक,
एबीबीएस बेंगलुरु

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें