DA Image
हिंदी न्यूज़ › ब्रांड स्टोरीज़ › एमआईटी-डब्ल्यूपीयू ने इकोनॉमिक्स में प्रतिष्ठित बी.एससी और एम.एससी प्रोग्रामों के लिए आवेदन आमंत्रित किए
ब्रांड स्टोरीज़

एमआईटी-डब्ल्यूपीयू ने इकोनॉमिक्स में प्रतिष्ठित बी.एससी और एम.एससी प्रोग्रामों के लिए आवेदन आमंत्रित किए

HT Brand StudioPublished By: Pratyush Chaurasia
Fri, 23 Jul 2021 11:35 AM
एमआईटी-डब्ल्यूपीयू ने इकोनॉमिक्स में प्रतिष्ठित बी.एससी और एम.एससी प्रोग्रामों के लिए आवेदन आमंत्रित किए

भारत, 22 जुलाई, 2021: भारत की तीसरी सर्वश्रेष्ठ निजी युनिवर्सिटी एमआईटी वर्ल्ड पीस युनिवर्सिटी (एमआईटी-डब्ल्यूपीयू) जिसकी शिक्षा के क्षेत्र में चार दशक की धरोहर है, स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के नेतृत्व में बीएससी इकोनॉमिक्स (ऑनर्स) एवं एम.एससी. इकोनॉमिक्स प्रोग्राम के लिए आवेदन स्वीकार कर रही है। स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स 23 स्टार्ट-अप्स को इन्क्युबेट कर चुका है और 30 से अधिक पीयर-रीव्यूड रिसर्च पेपर्स प्रकाशित कर चुका है। दोनों प्रोग्रामों के लिए एक संतुलित दृष्टिकोण अपनाया जाएगा, जिसमें इकोनॉमिक्स थ्योरी के मुख्य अवयवों पर ध्यान केन्द्रित किया जाएगा। ये प्रोग्राम समस्या के समाधान पर आधारित लर्निंग, प्रशिक्षण तथा उद्योग जगत में सोशल कंटेंट पर ज़ोर देते हुए छात्रों को इकोनॉमिक्स मॉडल्स के लिए आवेदन का अवसर देंगे। 
बीएससी इकोनॉमिक्स (ऑनर्स) एक तीन वर्षीय फुल-टाईम अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है, जिसमें इंटर्नशिप, डिस्सरटेशन तथा फील्ड वर्क शामिल है। इसी तरह एम.एससी इकोनॉमिक्स दो वर्षीय पोस्ट-ग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसमें इंटर्नशिप, डिस्सरटेशन और रीसर्च पेपर के प्रकाशन का काम शामिल है। यूनिवर्सिटी देश में हर स्तर पर और जीवन के हर क्षेत्र में नैतिक मूल्यों से युक्त उत्साही एवं प्रतिबद्ध इकोनोमिक लीडर्स बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। मूल्य आधारित एवं तकनीक उन्मुख शिक्षा प्रणाली के माध्यम से छात्रों के समग्र भावी विकास को सुनिश्चित करना स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स का उद्देश्य है। इस संदर्भ में हमें यह बताते हुए गर्व का अनुभव हो रहा है कि स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स ओेलम्पियाड में टीम इंडिया का नेतृत्व कर रहा है। 

करियर की संभावनाएं- एमआईटी-डब्ल्यूपीयू के बी.एससी एवं एम.एससी.-इकोनॉमिक्स प्रोग्राम इस तरह से डिज़ाइन किए गए हैं कि ये छात्रों को इकोनॉमिक्स (अर्थशास्त्र) के क्षेत्र में हर ज़रूरी जानकारी, उपकरण, तरीके एवं सैद्धान्तिक ज्ञान उपलब्ध कराते हैं। छात्रों को उद्योग जगत की आवश्यकतानुसार इकोनॉमिक मॉडलिंग, अनुसंधान एवं नीतिगत विश्लेषण; लाईव परियोजनाओं; फील्ड विज़िट एवं ग्रामीण इमर्ज़न प्रोग्राम, तथा उद्योग जगत के जाने-माने फैकल्टीज़ से गेस्ट लेक्चर्स के ज़रिए अध्ययन का अवसर मिलता है। दोनों प्रोग्रामों से ग्रेजुएशन करने वाले छात्रों को विभिन्न पदों जैसे एक्चुरियल एनालिस्ट, डेटा एनालिस्ट, इकोनॉमिस्ट, फाइनैंशियल रिस्क एनालिस्ट, स्टॉकब्रोकर, डिप्लोमेटिक सर्विसेज़ ऑफिसर, पॉलिसी मेकर, क्रेडिट एनालिस्ट, डेटा साइन्टिस्ट आदि के लिए आवश्यक कौशल प्रदान किया जाता है।

प्रोग्राम के मुख्य बिन्दुः इकोनॉमिक्स में तीन वर्षीय फुल टाईम बी. एससी. प्रोग्राम में 140 क्रेडिट्स शामिल हैं, जिनके लिए क्वान्टिटेटिव इकोनॉमिक्स, इकोनॉमेट्रिक्स और वैल्यू-एडेड सर्टिफिकेशन कोर्सेज़ पेश किए जाते हैं। इकोनॉमिक्स में दो वर्षी पोस्ट ग्रेजुएशन प्रोग्राम-एम.एससी. में 92 क्रेडिट्स और 32 विषय शामिल हैं, जिनमें वैल्यू एडेड सर्टिफिकेशन कोर्सेज़ पेश किए जाते हैं। दोनों प्रोग्रामों को इस तरह से डिज़ाइन किया गया है कि छात्रों को अकादमिक सहयोग एवं व्यवहारिक लर्निंग के द्वारा उद्योग जगत की ज़रूरतों के अनुसार तैयार किया जा सके। दोनां प्रोग्रामों के छात्रों को एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेन्ट, वेंचर कैपिटल, क्वांटिटेटिव इकोनॉमिक्स, इकोनॉमिक्स मॉडलिंग, इकोनॉमिक्स रिसर्च एवं पॉलिसी एनालिसिस, नेशनल स्टडी टूर्स तथा इंडस्ट्री इंटर्नशिप में अध्ययन के अवसर दिए जाते हैं। इसके अलावा छात्रों को एमआईटी-डब्ल्यूपीयू में योग्यता आधारित छात्रवृत्ति के आवेदन के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है। यह छात्रवृत्ति छात्रों के अकादमिक एवं गैर-अकादमिक परफोर्मेन्स के आधार पर आर्थिक सहायता मुहैया कराती है। 

प्लेसमेन्ट और भर्तियां: पिछले कुछ दशकों में वैश्वीकरण के चलते अर्थशास्त्र (इकोनॉमिक्स) के क्षेत्र में तेज़ी से प्रगति हुई है। कई कंपनियां प्लेसमेन्ट के लिए यूनिवर्सिटी परिसर में आती हैं, यूनिवर्सिटी के इनके साथ अच्छे संबंध है। अधिकतम 10 लाख सालाना का पैकेज ऑफर किया जा चुका है और एमआईपी-डब्ल्यूपीयू छात्रों को प्लेसमेन्ट में 100 फीसदी सहायता देती है। वर्तमान में ऑनलाईन प्लेसमेन्ट एवं इंटर्नशिप्स हो रही हैं और छात्रों को रिमोट वर्किंग के अवसर मिल रहे हैं। भर्ती करने वाली कुछ अग्रणी कंपिनयों में शामिल हैं: लायन मोर्टगेज, एसजी एनालिटिक्स, FRIOR मार्केट्स, आदित्य बिरला फाइनैंस, एसबीआई म्यूचुअल फंड आदि।

योग्यता के मापदण्ड : इकोनॉमिक्स में बी.एससी और एम.एससी प्रोग्राम के लिए आवेदन करने वाले छात्र को लिखित परीक्षा (100 एमसीक्यू) और साक्षात्कार (50 अंक) देना होता है। जिसका आयोजन एमआईटी-डब्ल्यूपीयू द्वारा किया जाता है। इसके अलावा बी.एससी. प्रोग्राम के लिए ज़रूरी है कि छात्र से कम से कम 50 फीसदी अंक के साथ एआईयू द्वारा मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी विषय HSC/10+2 परीक्षा पास की हो। वहीं इकोनॉमिक्स में एम.एससी. के लिए छात्र के पास भारत के मान्यता प्राप्त कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए जिसमें कम से कम 50 फीसदी अंक स्कोर किए हों और साथ ही बी.टेक में गणित/ अर्थशास्त्र अनिवार्य विषय रहे हों। 
 

ऑनलाईन प्रवेश प्रक्रियाः वर्तमान में MIT WPU में इकोनॉमिक्स में बी.एससी और एम.एससी के लिए ऑनलाईन आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं। आवेदन प्रक्रिया बेहद आसान और सरल है। छात्र अपने घर बैठे, पूरी सुरक्षा के साथ ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और सभी एडमिशन राउंड्स में हिस्सा ले सकते हैं। महामारी को ध्यान में रखते हुए महत्वपूर्ण परीक्षाएं स्थगित की गई हैं, जिसके चलते छात्र अब एआईटी-डब्ल्यूपी में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।  

इकोनॉमिक्स में बी.एससी के लिए ऑनलाईन आवेदन हेतु यहां आवेदन फॉर्म भरें   https://bit.ly/2W9ei8t
इकोनॉमिक्स में एम.एससी के लिए ऑनलाईन आवेदन हेतु यहां आवेदन फॉर्म भरें   https://bit.ly/3kD95zR

कोविड नीतियां- MIT-WPU अपने छात्रों की सुरक्षा को प्राथमिकता देती है और इसीलिए इसने अपनी पूरी प्रवेश प्रक्रिया को ऑनलाईन बना दिया है। सरकार के निर्देशानुसार, तथा छात्रों का महत्वपूर्ण साल खराब न हो, इसे ध्यान में रखते हुए MIT-WPU के सभी अध्ययन प्रोग्राम ऑनलाईन एवं ब्लेंडेड मोड ऑफ लर्निंग में चलाए जा रहे हैं। सरकार के विनियमों के अनुसार पूरी तरह से सुरक्षित होने पर ही छात्रों के लिए परिसर खोला जाएगा। 
अनुसंधान एवं अन्तर्राष्ट्रीय एक्सपोज़रः स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स ग्रामीण इमर्ज़न प्रोग्राम पेश करता है, युनिविर्सटी में विदेशी प्रतिनिधी आते हैं जो छात्रों को गेस्ट लेक्चर देते हैं। छात्रों के समग्र विकास को सुनिश्चित करने के लिए यहां एक काउन्सलिंग क्लब और जर्नल क्लब भी है। इसके अलावा, छात्रों को प्रख्यात संस्थानों के सहयोग से अनुसंधान के अवसर भी दिए जाते हैं, जिनका वित्तपोषण डीएसटी, डीबीटी, एआईसीटीई आदि के द्वारा किया जाता है। 
उद्योग जगत के साथ साझेदारियां: स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स का व्यापक विश्वस्तरीय नेटवर्क है। एल्युमनाई और फेकल्टी के उद्योग जगत के विशेषज्ञों के साथ मजबूत संबंध हैं, जिससे उन्हें सर्वश्रेष्ठ साझेदारियों के अवसर मिलते हैं। एमआईटी-डब्ल्यूपीयू ने कॉर्पोरेट, बैंकिंग एवं अनुसंधान क्षेत्र की जानी-मानी कंपनियों के साथ साझेदारियां की हैं, ताकि छात्रों को पेशेवर विकास के अवसर मिल सकें। 

एमआईटी-डब्ल्यूपीयू में इकोनॉमिक्स में बी.एस.सी में आवेदन के लिए क्लिक करें:     https://bit.ly/2W9ei8t
एमआईटी-डब्ल्यूपीयू में इकोनॉमिक्स में एम.एससी में आवेदन के लिए क्लिक करें:  https://bit.ly/3kD95zR
अधिक जानकारी के लिए विज़िट करें  https://mitwpu.edu.in/

संबंधित खबरें