फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News ब्रांड स्टोरीज़भारत के 3 प्रमुख ज्योतिष 

भारत के 3 प्रमुख ज्योतिष 

भारत में सदियों से ज्योतिष शास्त्र की काफी मान्यता रही है। 

भारत के 3 प्रमुख ज्योतिष 
Anant JoshiBrand PostWed, 17 Apr 2024 02:07 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत में सदियों से ज्योतिष शास्त्र की काफी मान्यता रही है | भारतीय परिवारों में किसी भी शुभ काम से पहले जैसे की शादी, खुद का व्यापार, शिक्षा या भी विदेश यात्रा हर चीज़ की शुरुआत से पहले आज भी ज्योतिषाचार्य की सलाह ली जाती है | भारत हमेशा से ही ज्योतिषाचार्यों के लिए  प्रसिद्ध रहा है आज हम आपको भारत के ऐसे ही तीन बेहतरीन ज्योतिषाचार्यों के बारे में बतायंगे जिन्होंने ज्योतिष के क्षेत्र में काफी नाम कमाया और जिन्होंने बहुत बड़ी बड़ी भविष्यवाणियाँ की | तो आइये जानते हैं इन्ही ज्योतिषाचार्यों के बारे में |  

प्रदीप वर्मा  

प्रदीप वर्मा जी भारत में एक मशहूर ज्योतिषी हैं। वे ज्योतिष शास्त्र, रत्न, और वास्तु शास्त्र  तीनो क्षेत्रों में काफी जानकारी रखते हैं | वो दिल्ली में रहते है और लोगो की कुंडली देख कर उन्हे उनका भविष्य बताते है। वो टेलीविजन पर भी आते है और कई बड़े चैंनलों के प्रोग्राम में ज्योतिष सम्बन्धी जानकारियां देते हैं । दुनिया भर से लोग उनसे मिलने आते है और उनकी सलाह से फायदा लेते है।  

प्रदीप वर्मा जी ज्योतिष और वास्तुशास्त्र के क्षेत्र में सबसे ज्ञानी और सक्षम विशेषज्ञों में से एक माने जाते हैं। उनका काम और सेवाएं इतनी सफल रही है कि उन्हें कई पुरस्कार और सम्मान मिले हैं।  

हालांकि, उनका मानना है कि उनका सच्चा सम्मान उनके पास आये लोगो की संतुष्टि से आता है। लोगों की समस्याओं को सुनने और उन्हें समाधान देना उनका लक्ष्य हमेशा रहा है| कई वर्षों से, प्रदीप जी से लोग उनसे जुड़े हुए हैं और उनके द्वारा दिए गए मार्गदर्शन से खुश हैं। उनका विशेष ज्ञान और कौशल लोगों की परेशानियों को दूर करने में सहायक सिद्ध हुआ है। 

प्रदीप वर्मा जी वैदिक ज्योतिष और खगोलशास्त्र का भी गहरा ज्ञान रखते हैं। यही नहीं प्रदीप वर्मा जी मेडिकल एस्ट्रोलॉजी में भी अच्छा खासा ज्ञान रखते हैं और यही नहीं उनका ज्ञान कॉर्पोरेट एस्ट्रोलॉजी में काफी प्रसिद्ध है | देश दुनिया के कई बड़े व्यापारी उनके पास सलाह और अपनी समस्याओ के समाधान के लिए आते हैं | उनका ज्ञान प्राचीन ज्योतिष ग्रंथों के अध्यन पर आधारित है । अन्य ज्योतिषियों के विपरीत, वो केवल भविष्यवाणी नहीं करते बल्कि व्यक्ति के वर्तमान और भविष्य ध्यान रखते हैं। इससे व्यक्ति की समस्याओं का समाधान होता है। 

प्रदीप वर्मा जी 20 वर्षो से ज्योतिष को अपना व्यवसाय बनाए हुए है। उनके पास भारत के अति प्रभावशाली व्यक्ति और विदेशों से भी लोग आते हैं। वो अपने ग्राहकों की गोपनीयता को बनाए रखते है इसलिए लोगों में उनका भरोसा है।  

यदि आपके जीवन में भी कोई परेशानी या समस्या है तो आप भी प्रदीप वर्मा जी का मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं  इसके लिए आप उनसे संपर्क कर सकते हैं | संपर्क करने के लिए आप उनकी वेबसाइट  

या फिर उनके मोबाइल नंबर  +91 99109 93008 पर कॉल कर के अपॉइंटमेंट ले सकते हैं |  

के.एन.राव 

प्रसिद्ध ज्योतिषी और साहित्यकार प्रोफेसर कोटमराजू नारायण राव आंध्रप्रदेश के एक प्रतिष्ठित ब्राह्मण परिवार से हैं। उनके पिता श्री के. रामाराव एक प्रसिद्ध पत्रकार थे। 

कोटमराजू जी खुद लंबे समय तक पत्रकार रहे और कई पत्र-पत्रिकाओं के संपादक रहे। उनके तीन भाई भी पत्रकारिता और साहित्य से जुड़े रहे। एक भाई अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राजदूत बने तो दूसरे ने पत्रकार संगठन का नेतृत्व किया। 

परिवार में से एक भाई बैंक में कार्यरत थे लेकिन अब वह प्रोफेसर कोटमराजू के साथ ज्योतिष पत्रिका का संपादन कर रहे हैं। इस प्रकार पूरा परिवार साहित्य और ज्योतिष जगत से जुड़ा हुआ है। 

के.एन. राव जी अंग्रेजी साहित्य में स्नातकोत्तर (graduation)  की डिग्री प्राप्त करने के बाद शिक्षक के रूप में कार्यरत थे। उन्होंने भारतीय लेखा परीक्षक के पद पर भी काम किया। उन्हें लेखा परीक्षा के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तीन कार्यक्रमों के लिए योजना बनाने और उनका संचालन करने का अनुभव है। वह इस क्षेत्र में उच्च पदों पर कार्यरत रहे। के.एन. राव जी को ज्योतिष में शिक्षा उनकी माँ ने 12 वर्ष की उम्र में दी थी। वह ज्योतिष के तीन महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अपनी माँ को गुरु मानते हैं।  

के.एन.राव कई वर्षों से कुण्डलियों का संग्रह किया है। अब उनके पास 50,000 से अधिक कुण्डलियाँ हैं। किसी भी ज्योतिषी की तुलना में यह सबसे बड़ी संख्या है।राव जी को ज्योतिष को बिना फीस लिए प्रचारित करने में कई समस्याएं हुईं। कई बार वह इसे छोड़ने के मूड में थे। 

लेकिन 1981 में दिल्ली में उनका सम्बोधन बहुत प्रभावशाली रहा। इसके बाद से उनके लेखों की मांग बढ़ी। 1993-95 के दौरान वह अमेरिका की यात्रा पर गए। वहाँ उनके भाषण इतने लोकप्रिय हुए कि उन्हें दोहराकर बुलाया गया। राव जी ज्योतिष का शोध और शिक्षण करते हैं। अब वह भारत में 1000 से अधिक और अमेरिका में 200 छात्रों के मार्गदर्शन करते हैं। 

बेजान दारुवाला 

मशहूर ज्योतिषी बेजान दारूवाला का जन्म 11 जुलाई 1931 को हुआ था। पारसी परिवार में जन्म लेने के बावजूद दारूवाला भगवान गणेश के भक्त थे।बेजान दारूवाला अपनी भविष्यवाणियों को लेकर चर्चा में रहे हैं। राजनीति से जुड़ी कई सटीक भविष्यवाणियों के लिए उनका जिक्र किया जाता है। इनकी कई भविष्यवाणियां काफी चर्चित है, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पीएम बनने से लेकर मोरारजी देसाई और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पीएम बनने की भविष्यवाणी शामिल हैं।इन्होंने नरेंद्र मोदी को दूसरी बार भी सत्ता में लौटने की भविष्यवाणी की थी। इनकी राजनीतिक भविष्यवाणियों के अलावा सबसे चर्चित भविष्यवाणी संजय गाँधी को लेकर कही जाती है। इन्होंने कहा था कि संजय गाँधी की मृत्यु एक दुर्घटना में होगी।साथ ही देश में फैली कोरोना महामारी को लेकर भी चुनौती दी थी। 

अस्वीकरण : इस लेख में किए गए दावों की सत्यता की पूरी जिम्मेदारी संबंधित व्यक्ति/ संस्थान की है।