फोटो गैलरी

Hindi News ब्रांड स्टोरीज़निवेश के बाद जो राशि बचे उसे ही खर्च करें 

निवेश के बाद जो राशि बचे उसे ही खर्च करें 

निवेश की आदत भविष्य की चुनौतियों में मददगार बनेगी, अभी पैसा बचायेंगे तो आपको जरूरत के समय बचायेगा, कोरोना में मिली सीख, म्यूचुअल फंड में बढ़ा लोगों का भरोसा 

निवेश के बाद जो राशि बचे उसे ही खर्च करें 
Anant JoshiBrand PostFri, 23 Feb 2024 07:03 PM
ऐप पर पढ़ें

शनिवार को कचहरी चौक स्थित एक होटल में हिन्दुस्तान और आदित्य बिरला सन लाइफ म्यूचुअल फंड आदित्य बिरला कैपिटल की ओर से निवेशकों का अमृत काल म्यूचुअल फंड विषय पर आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन करते अतिथिगण। तीन घंटे तक चली कार्यशाला में लोगों ने निवेश से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त की। ● हिन्दुस्तान 

विशेषज्ञ ने दिए टिप्स 

● निवेश से पहले प्रॉफिट या नुकसान के बजाय कंपनी की बैलेंस सीट व पूर्व की स्थिति को देखकर चुनें। 

● वित्तीय लक्ष्य को पूरा करने के लिए निवेश जरूरी है। यह काफी सोच-समझकर करें। 

● वैश्विक बाजार की स्थिति और सरकार की योजनाओं में देखकर ही निवेश करें। 

● शेयर व म्यूचुअल फंड में निवेश के समय नॉमिनी जरूरी है। 

● म्यूचुअल फंड में हमेशा लंबी अवधि के लिए निवेश करें, होगा काफी फायदा। 

● निवेश से पहले टैक्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर लें अन्यथा नुकसान हो सकता है। 

● निवेश से पहले इंटरनेट व वृत्तीय सलाहकारों से अवश्य जानकारी ले लें। 

● गोल व समय सीमा तय करके ही निवेश के लिए स्कीम चुनें। 

 शनिवार को कचहरी चौक स्थित एक होटल में हिन्दुस्तान और आदित्य बिरला कैपिटल की ओर से आयोजित कार्यशाला में मौजूद लोग। 

भागलपुर, वरीय संवाददाता। भविष्य में आपको क्या चाहिए। यह पहले ही तय कर लेना चाहिए। लोग जमीन, मकान, गोल्ड, शेयर, म्यूचुअल फंड, बैंक एफडी आदि में निवेश करते हैं। लोगों को निवेश काफी सोच-समझकर करना चाहिए। कुछ मार, आर्थिक सलाहकार व सीए प्रदीप कुमार झुनझुनवाला, ईस्टर्न बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के उपाध्यक्ष आलोक अग्रवाल, निवेश सलाहकार उत्तम झुनझुनवाला व रोटरी पिंक विक्रमशिला के उप जिलापाल चंदना चौधरी ने संयुक्त रूप से किया। मुख्य वक्ता के रूप में शामिल आदित्य बिरला सन लाइफ एएमसी लिमिटेड के जोनल मैनेजर मोहम्मद आमिर सुलैमान ने बताया कि पैसा बोलता है। पैसा बचायेंगे तो वह आपको बचायेगा। कोरोना काल में लोग ऐसी स्थिति को देख चुके हैं। कई लोगों के रुपये कैसे पल में खत्म हो गया। 

म्यूचुअल फंड निवेश का जरिया, जरूरत होती है पूरी 

आदित्य बिरला सन लाइफ म्यूचुअल फंड बिहार-झारखंड रिटेल सेल्स के रिजनल हेड वीरेंद्र सिंह ने कहा कि म्यूचुअल फंड निवेश का अच्छा जरिया है। यह हर जरूरत को पूरा करता है। इसमें रिस्क कम होता है। उनके रुपये को अच्छी कंपनियों में निवेश किया जाता है। जरूरत के समय आप म्यूचुअल फंड को निकाल सकते हैं। उन्होंने बताया कि लोग अक्सर निवेश के वक्त टैक्स पर ध्यान नहीं देते हैं। टैक्स को ध्यान में रखकर निवेश करना चाहिए। 

ईस्टर्न बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष सीए दीपक सुल्तानिया, रोटरी पिंक क्लब की पूर्व अध्यक्ष किरण गोस्वामी, अंजना प्रकाश, कमला साहू, बबीता साह, रोटरी विक्रमशिला के अध्यक्ष बिजय आनंद, व्यवसायी बंटी शर्मा, अमित, पवन साह, सुबोध मंडल आदि मौजूद रहे। 

कार्यशाला में इनकी रही मौजूदगी 

53 लाख करोड़ म्यूचुअल फंड में जमा 

इसीलिए रुपये को अच्छी जगहों पर निवेश करें। लोग रियल इस्टेट, शेयर, गोल्ड, एफडी, म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं। निवेश का एक अच्छा तरीका है कि आपको जरूरत कब किस चीज की है, उस अनुसार प्लानिंग करके करें। निवेश के समय वित्तीय जरूरतों का ध्यान रखें। कई ऐसे लोग हैं जो इमरजेंसी व रिटायरमेंट की बात सोचकर पहले से प्लान कर लेते हैं। किसी में लंबा निवेश हर हमेशा अच्छा रहता है। उसमें म्यूचुअल फंड एक है। म्यूचुअल फंड में किसी की जमा राशि को फंड मैनेजर के द्वारा कई कंपनियों में लगाया जाता है और ग्राहकों को लाभ पहुंचाते हैं। उन्होंने बताया कि म्यूचुअल फंड हर आदमी के साथ हर घर के लिए जरूरी है। वो एसआईपी के माध्यम से इसमें हर माह राशि जमा कर सकते हैं। बाजार अगर गिरता भी है तो उसमें निवेशकों को चिंता की बात नहीं है। उस समय कुछ ऐसे लोग हैं जो और राशि निवेश कर देते हैं। इससे उन्हें आगे फायदा पहुंचता है। जोनल मैनेजर ने बताया कि हर वर्ग के लोगों को निवेश में अपनी आदत को विकसित करनी चाहिए। म्यूचुअल फंड से सिर्फ आप नहीं, बल्कि देश की अर्थवस्था मजबूत होगी। वर्तमान समय में लगभग 53 लाख करोड़ रुपये म्यूचुअल फंड में जमा है। 

अस्वीकरण : इस लेख में किए गए दावों की सत्यता की पूरी जिम्मेदारी संबंधित व्यक्ति / संस्थान की है।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें