फोटो गैलरी

Hindi News ब्रांड स्टोरीज़वर्ष 2022 में लूम सोलर 2 अरब अमेरिकी डॉलर के भारतीय लिथियम-आयन बैटरी सेक्टर में प्रवेश करेगी

वर्ष 2022 में लूम सोलर 2 अरब अमेरिकी डॉलर के भारतीय लिथियम-आयन बैटरी सेक्टर में प्रवेश करेगी

  23 दिसंबर, 2021: अक्षय ऊर्जा क्षेत्र (रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर) में नए और सफल उत्पादों को वितरित करने के अपने एजेंडे को जारी रखते हुए, लूम सोलर, ने आज कैलेंडर वर्ष 2022 में 2 अरब अमेरिकी...

वर्ष 2022 में लूम सोलर 2 अरब अमेरिकी डॉलर के भारतीय लिथियम-आयन बैटरी सेक्टर में प्रवेश करेगी
HT Brand Studio,IndiaThu, 30 Dec 2021 05:24 PM
ऐप पर पढ़ें

 

23 दिसंबर, 2021: अक्षय ऊर्जा क्षेत्र (रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर) में नए और सफल उत्पादों को वितरित करने के अपने एजेंडे को जारी रखते हुए, लूम सोलर, ने आज कैलेंडर वर्ष 2022 में 2 अरब अमेरिकी डॉलर के भारतीय लिथियम-आयन बैटरी क्षेत्र में प्रवेश करने की अपनी योजना की घोषणा की। लूम सोलर, भारत सरकार की स्टार्ट अप इंडिया पहल के तहत एक उभरता हुआ सोलरटेक स्टार्ट-अप और मोनो पैनल श्रेणी में अग्रणी कंपनियों में से एक है। 

 

इस नई उत्पाद लाइन के निर्माण की गति को स्थापित करते हुए, लूम सोलर की प्रारंभिक चरण में हरित ऊर्जा क्षेत्र में ऊर्जा कुशल और स्मार्ट प्रौद्योगिकी समाधान विकसित करने के लिए एक समर्पित अनुसंधान एवं विकास और विनिर्माण ढांचा स्थापित करने की योजना है। कंपनी ने बैटरी क्षेत्र में अधिक व्यापक और मजबूत समाधान विकसित करने के लिए उपयोगकर्ताओं के इनपुट जुटाने के लिए ली-आयन बैटरी के लिए अपने बीटा फेज की भी शुरुआत की है। लिथियम आयन बैटरी पर गहन जानकारी www.loomsolar.com/collections/lithium-battery से फ़ास्ट चार्जिंग, उच्च दक्षता, रखरखाव मुक्त, लॉन्ग लाइफ साइक्लि आदि जैसे इनपुट के लिए एकत्र की जा सकती है।

 

इस अवसर पर बोलते हुए, लूम सोलर के सह-संस्थापक और डायरेक्टर, आमोद आनंद ने कहा कि “उत्पाद इनोवेशन और रिसर्च हरित ऊर्जा क्षेत्र में बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रमुख संचालक बन गए हैं। हमारे सौर समाधानों के अलावा, हम साल 2022 में लिथियम-आयन (ली-आयन) बैटरी के साथ कई इनोवेटिव समाधानों की एक और सीरीज शुरू करने की परिकल्पना करते हैं। भविष्य के लिए तैयार समाधानों की पहचान करने के लिए हमारे ध्यान के साथ, हमारी शोध और विकास टीम आवश्यक उत्पाद इंजीनियरिंग के हमारे संरक्षकों के साथ मिलकर काम करेगी।”

 

लूम सोलर का लिथियम-आयन या लिथियम बैटरी बीटा होम लाइटिंग सिस्टम, इन्वर्टर कम्पेटेबल सॉल्यूशंस, ईवीएस (इलेक्ट्रिक वाहन), विज्ञान या डीआईवाई परियोजनाओं और खेती के लिए टिकाऊ और हरित समाधान पेश करने के लिए खुला है। लिथियम-आयन सीमित पर्यावरणीय प्रभाव के लिए एक उपयोग केस समाधान है और इसमें हाई-पावर डेनसिटी, लॉन्ग लाइफ, लेसर सेल्फ-डिस्चार्ज और कम रखरखाव लागत जैसी विशेषताएं हैं, इस प्रकार कैप्टिव बैकअप पावर समाधान और ईवी के लिए पसंदीदा विकल्प बन रहा है।

 

कुछ शोध संगठनों की रिपोर्ट इस दशक के दौरान भारतीय लिथियम-आयन इंडस्ट्री में 15 प्रतिशत से अधिक सीएजीआर के साथ घर और कार्यालयों के लिए सौर ऊर्जा प्रणालियों, बिजली के वाहनों, ऊर्जा भंडारण प्रणालियों, इनवर्टर जैसी श्रेणियों में सभी कैप्टिव बिजली जरूरतों के साथ संयुक्त रूप से पर्याप्त वृद्धि का संकेत देती है। इसके साथ पावर बैकअप के लिए और यूपीएस की बिक्री में व्यापक बढ़ोतरी का संकेत मिल रहे हैं।

 

लूम सोलरः परिचय

फरीदाबाद, हरियाणा, भारत में मुख्यालय के साथ लूम सोलर प्राइवेट लिमिटेड सबसे तेजी से विकसित हो रहे सोलर-टेक्नोलॉजी स्टार्ट-अप में से एक है जो आवासीय सोलर सेक्टर में लगातार इनोवेशन को जारी रखता है। 2018 में स्थापित, कंपनी ने मोनो सोलर पैनल, ग्रिड से जुड़े एसी मॉड्यूल, शार्क सीरीज़ में शार्क बायफेशियल जैसे उत्पादों को पेश करते हुए खुद को समय से आगे रखा है। भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त आईएसओ 9001-2015 प्रमाणित कंपनी 10 वाट से 530 वाट तक के सौर पैनलों की व्यापक रेंज प्रदान करती है और कंपनी की हरियाणा में ’मेक इन इंडिया’ मिशन की पुष्टि करने वाली एक विनिर्माण इकाई भी है। 3500 से अधिक पुनर्विक्रेताओं के साथ 500 जिलों में उपस्थिति के अलावा, लूम सोलर ’डिजिटल इंडिया’ को अपना रहा है, इसके उत्पाद पूरे भारत में और अमेज़ॅन, फ्लिपकार्ट और www.loomsolar.com जैसे ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म पर आसानी से उपलब्ध हैं।

Disclaimer: यह एक कंपनी प्रेस रिलीज़ है| इसमें किसी HT पत्रकार का कोई योगदान नहीं है| 

--

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें