फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ ब्रांड स्टोरीज़नीट 2022 में आकाश + बायजूस पटना सेंटर के विद्यार्थियों ने कठिन परिश्रम व शिक्षकों की मदद से हासिल की सफलता की ऊंचाई, वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम 'व्योम' में संस्थान ने मेधावियों को किया सम्मानित

नीट 2022 में आकाश + बायजूस पटना सेंटर के विद्यार्थियों ने कठिन परिश्रम व शिक्षकों की मदद से हासिल की सफलता की ऊंचाई, वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम 'व्योम' में संस्थान ने मेधावियों को किया सम्मानित

मेडिकल की प्रवेश परीक्षा नीट की तैयारी के लिए आकाश + बायजूस पटना सेंटर एक जाना माना नाम है। इस संस्थान से शिक्षा प्राप्त अनेक छात्र भारत के विभिन्न मेडिकल कॉलेज में शिक्षा प्राप्त कर रहे है

नीट  2022  में  आकाश + बायजूस  पटना सेंटर  के विद्यार्थियों ने कठिन परिश्रम व शिक्षकों की मदद से हासिल की सफलता की ऊंचाई, वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम 'व्योम' में संस्थान ने मेधावियों को किया सम्मानित
HpandeyBrand PostWed, 21 Sep 2022 03:33 PM
ऐप पर पढ़ें

मेडिकल की प्रतिष्ठित प्रवेश परीक्षा नीट की तैयारी के लिए आकाश + बायजूस  पटना सेंटर एक जाना- माना नाम है। इस संस्थान से शिक्षा प्राप्त कर रहे अनेक छात्र वर्तमान में भारत के विभिन्न मेडिकल कॉलेजेस में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी संस्थान के  छात्र - छात्राओं ने नीट में शानदार प्रदर्शन कर सफलता का परचम लहराया है। ऐसे मेधावी छात्रों को सम्मानित करने हेतु आकाश + बायजूस  पटना सेंटर हर वर्ष 'व्योम' कार्यक्रम का आयोजन करता है। इसी क्रम में इस वर्ष भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित करने हेतु इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में देश की बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल उपस्थित रहीं और मेधावियों को सम्मानित कर उनका उत्साहवर्धन किया।

 

पटना के बापू सभागार में मेडिकल के टॉप रैंकर्स का संस्थान ने किया सम्मान

आकाश + बायजूस  पटना सेंटर  द्वारा  पटना के बापू सभागार में करीब 5 हजार छात्र - छात्राओं के बीच मेडिकल के टॉप रैंकर (600 से अधिक अंक लाने वाले) विद्यार्थियों को वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम व्योम में गत 19 सितंबर को बतौर मुख्य अतिथि साइना नेहवाल  द्वारा प्रशस्ति पत्र  देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर  साइना नेहवाल  ने कहा कि निरंतर प्रयास से किसी भी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है, लेकिन ऊंचाई पर पहुंचकर आराम करने वाले कभी भी सफलता हासिल नहीं कर पाते और जरा सी चूक से वो हार जाते हैं। ऐसे लोगों के लिए मंजिल सिर्फ एक पड़ाव से ज्यादा कुछ नहीं होती, जबकि मेधावी युवाओं के लिए मंजिल एकमात्र लक्ष्य होता है। ऐसे में अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए दृढ़ इच्छाशक्ति के संग प्रयत्नशील रहें। सफलता आपके कदम अवश्य चूमेगी । कार्यक्रम में संस्थान के सीईओ अभिषेक माहेश्वरी एवं पटना सेंटर के  व्यवस्थापक व संस्थापक उपस्थित रहे। साथ ही बच्चों को सफलता के शिखर तक पहुंचाने वाले बहुआयामी प्रतिभा के धनी शिक्षक व अभिभावक गण भी इस प्रतिभा सम्मान के साक्षी बने।

 

नीट-2022 में संस्थान के छात्रों ने लहराया सफलता का परचम, 600 से अधिक अंक हासिल कर बनाया कीर्तिमान

आकाश + बायजूस  पटना सेंटर मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की गुणवत्तायुक्त कोचिंग उपलब्ध कराने के लिए जाना जाता है। यह संस्थान इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाएं जैसे  जेईई मेन, जेईई एडवांस  के साथ-साथ मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के लिए विश्वसनीय कोचिंग इंस्टिट्यूट है। हाल ही में संस्थान  के छात्रों ने नीट-2022 के परीक्षा परिणामों में  सफलता का परचम लहरा संस्थान का मान बढ़ाया है।  बता दें कि आकाश + बायजूस  पटना सेंटर के छात्र अक्षत रंजन ने 720 में से सर्वाधिक 700 अंक एवं AIR 64 - जनरल कैटेगरी, लाकर संस्थान को और बिहार राज्य को फिर से गौरवानन्वित किया।

 संस्थान ने कोरोना महामारी के समय भी बच्चों को अत्याधुनिक तकनीक के माध्यम से उत्कृष्ट शिक्षा की सुविधा मुहैया कराई, जिसका परिणाम आज बच्चों के शानदार प्रदर्शन के रूप में सबके सामने है। इस सफलता के लिए संस्थान के शैक्षणिक प्रमुख डॉ. सुभाष सिंह के साथ आकाश परिवार के  सभी शिक्षकगण एवं कर्मचारियों ने वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम व्योम  में सफल छात्रों को बधाई दी एवं उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। बता दें कि आकाश + बायजूस  पटना सेंटर कोरोना काल में बिहार का प्रथम संस्थान रहा,जिसने हाइब्रिड माध्यम से छात्रों का मार्गदर्शन किया।

 

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन व सरस्वती वंदना से

वार्षिक अभिनंदन कार्यक्रम व्योम की शुरुआत सरस्वती वंदना व मुख्य अतिथि साइना नेहवाल एवं संस्थान के सीईओ अभिषेक माहेश्वरी के हाथों दीप प्रज्ज्वलन से की गई। कार्यक्रम में ऊर्जा भरने  हेतु संस्थान की ही  नीट में सफलता प्राप्त छात्राओं ने भरतनाट्यम और रमणीय कत्थक नृत्य प्रस्तुत कर सभागार में उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।

 

ऊर्जा और उत्साह से भरा रहा  बापू सभागार  

संस्थान द्वारा बापू सभागार में आयोजित छात्र अभिनंदन समारोह व्योम में  ऊर्जा अपने चरम पर थी।  चमकते चेहरे, आंखों में दुनिया जीत लेने की ललक और अपार उत्साह से भरा बापू सभागार आज गवाह बना भविष्य के चिकित्सकों से।  बापू सभागार उन प्रतिभाशाली बच्चों और अभिभावकों से भरा हुआ था, जिनकी आंखें कह रही थीं कि आने वाला समय उनका है।  प्रतिभाशाली छात्रों के साथ-साथ उनके अभिभावक और शिक्षक भी इस दौरान उत्साहित नजर जाए।

 

अभिभावकों ने बढ़ाया छात्र -छात्राओं  का उत्साह

छात्र अभिनंदन कार्यक्रम 'व्योम' में उपस्थित मेधावी छात्र - छात्राओं के अभिभावकों ने उनका उत्साह बढ़ाया। कुछ अभिभावक और छात्र इस दौरान भावुक नजर आए। इस अवसर पर अभिभावकों ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य होते हैं और उनके साथ खड़े होकर उनका मनोबल बढ़ाते रहना चाहिए। बच्चे गलत संगत में न पड़े, इसके लिए जरूरी है कि वे निगरानी में रहें और यह कार्य यह संस्थान बखूबी कर रहा है। यहां के शिक्षकों ने बच्चों को  अच्छे-बुरे की पहचान सिखाई  ताकि वे गलत दिशा में जाने से बचें। आज हमारे समाज को ऐसे ही  शिक्षकों की जरूरत है, जिनके मार्गदर्शन में  युवा मार्ग न भटकें और सही दिशा में अग्रसर रहें। अभिभावकों ने छात्रों की उपलब्धि के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया, साथ ही उनकी सफलता के सारथी शिक्षकों की सराहना भी की।

 

सफल छात्र छात्राओं को बधाई और उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं : अभिषेक माहेश्वरी, सीईओ

नीट  सरीखी प्रतिष्ठित प्रतियोगी परीक्षा में छात्रों के शानदार प्रदर्शन से हम अभिभूत हैं। इस सफलता के पीछे आकाश कोचिंग इंस्टीट्यूट के मैनेजमेंट, शिक्षकों और छात्रों की मेहनत और लगन है। छात्रों को उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं। मुझे पूरा विश्वास है कि भविष्य में भी हमारे छात्र सफलता का परचम  लहराएंगे और बिहार के साथ- साथ देश का नाम भी रोशन करेंगे। याद रखें संकल्पबद्ध होकर ही लक्ष्य की प्राप्ति संभव है।

साइना नेहवाल ने मेधावियों को किया सम्मानित

व्योम कार्यक्रम की मुख्य अतिथि बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल ने नीट में 720 में से सर्वाधिक 700 अंक लाकर संस्थान को गौरवानन्वित करने वाले छात्र अक्षत रंजन को चेक के रूप में पुरस्कार राशि और प्रशस्तिपत्र  देकर सम्मानित किया। इसके अलावा अन्य सफल छात्रों को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इन सभी छात्रों ने नीट 2022 में शानदार सफलता प्राप्त कर संस्थान के साथ-साथ राज्य का मान भी बढ़ाया है।

 

मेहनत है सफलता की कुंजी : साइना नेहवाल

आकाश + बायजूस  पटना सेंटर के अभिनंदन समारोह की मुख्य अतिथि यूथ आइकॉन साइना नेहवाल ने नीट परीक्षा के सफल अभ्यर्थियों को बधाई देते हुए कहा कि कठिनाइयां जीवन के हर क्षेत्र में होती हैं, चाहे स्पोर्ट्स हो या पढ़ाई। ऐसे में जरूरत है ज्यादा से ज्यादा मेहनत करने की। मेहनत ही आपके सफलता की असल कुंजी है।  छात्र स्ट्रेस फ्री रहने के लिए दिन में 30 से 40 मिनट तक कोई भी स्पोर्ट खेल सकते हैं,  जिससे वे तनावरहित रहने के साथ-साथ फिट भी रह सकेंगे। इससे उनमें एकाग्रता बढ़ेगी। अभिनंदन समारोह का हिस्सा बनने पर उन्हें उनके कॉलेज के दिनों की याद आ गई, जब वह भी किसी क्षेत्र विशेष की बड़ी शख्सियत से मिलने के लिए उत्सुक रहा करती थीं।

 

मेधावियों ने शिक्षकों और अभिभावकों को दिया सफलता का श्रेय

 

1. अक्षत रंजन

मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, गुरूजनों और संस्थान को देना चाहूंगा। उनके सहयोग के बिना मेरे लिए यह सफर वाकई काफी मुश्किल होता। मैं अपनी इस सक्सेस पर बहुत खुश हूं। मेरे दो साल की लगातार की गई मेहनत रंग लाई। जो भी अभ्यर्थी नीट एक्जाम को क्रैक करना चाहते हैं वह एनसीईआरटी की पुस्तकों  पर  अपना ध्यान केंद्रित करें, साथ ही प्रैक्टिस टेस्ट भी देते रहें।

 

2.निश्चय निष्कर्ष

मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने पैरेंट्स व संस्थान के शिक्षकों  को देना चाहूंगा। मेरी सफलता में मेरे माता -पिता के साथ-साथ मेरे टीचर्स की भी उतनी ही भागीदारी है जितनी मेरी स्वयं की। नीट में बेहतर प्रदर्शन कर मैं बहुत खुश हूं, क्योंकि यह सिर्फ मेरी नहीं बल्कि मेरे अपनों की मेहनत का परिणाम है। नीट में बेहतर रिजल्ट लाने के लिए मैं छात्रों से इतना ही कहना चाहूंगा कि वह भटकाव से बचते हुए लगातार मेहनत करें।

 

3. अदिति

मैं अपनी सक्सेस का पूरा श्रेय अपने माता-पिता व संस्थान के टीचर्स को देना चाहूंगी। उन्होंने सही समय पर मुझे सही राह दिखाई। अपनी सफलता से मैं बहुत खुश हूं। आखिरकार मेरी दो साल की लगातार की गई मेहनत रंग लाई। जो भी छात्र नीट को क्रैक करना करना चाहते हैं वह जमकर पढ़े, खूब मेहनत करें।

 

4. पाखी

मैं अपनी सक्सेस का पूरा श्रेय अपने पैरेंट्स, टीचर्स व संस्थान को दूंगी। नीट में इतनी बेहतर  रैंक आने पर मैं बहुत खुश हूं। जो भी छात्र नीट की तैयारी कर रहे हैं वह लगातार मेहनत करें सकारात्मक बने रहें।

 

5. अंशुल कुमार

मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता और संस्थान के गुरूजनों को देना चाहूंगा। वे हर वक्त  मेरे लिए मौजूद रहें। मैं अपनी सफलता से बहुत ही संतुष्ट हूं। नीट एग्जाम की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों से मैं यही कहूंगा कि मेहनत करते रहें, सफलता अवश्य मिलेगी।

 

6. आदित्य प्रियदर्शी

मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने पैरेंट्स व संस्थान के टीचर्स को देना चाहूंगा। मेरी दो साल की लगातार की यह कोशिश है कि नीट में मुझे इतना अच्छा रैंक मिला, मैं बहुत खुश हूं। नीट एस्पिरेंट्स से मैं यही कहना चाहूंगा कि वह एनसीईआरटी की पुस्तकों पर फोकस करें व प्रैक्टिस टेस्ट देते रहें।

 

7. अनुभव ओझा

मैं अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता, संस्थान के  टीचर्स और वहां उपलब्ध सुविधाओं को देता हूं।  नीट अभ्यर्थियों से मैं यही कहूंगा कि पढ़ाई में घंटे गिनने की बजाय क्वालिटी स्टडी पर ध्यान दें।  इसी से आपकी सफलता तय होगी।

 

 हाइब्रिड क्लासेस के जरिए विपरीत परिस्थतियों में भी नहीं थमेगा शिक्षा का रथ

\आकाश + बायजूस  सेंटर  की भारत में 360 से अधिक  क्लासरूम सेंटर हैं। साथ ही भविष्य में एयर भी सेंटर खुलने की योजना पर कार्य चल रहा है। बता दें कि आकाश + बायजूस  पटना सेंटर  द्वारा उपलब्ध कराई जा रही विशेष हाइब्रिड क्लासेस विपरीत परिस्थितियों में भी  शिक्षा का रथ थमने नहीं देंगी। इस इंस्टिट्यूट में कक्षा आठवीं से लेकर कक्षा 12 वीं एवं रिपीटर छात्र - छात्राओं को विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं के साथ स्कूल एवं बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी भी कराई जाती है। साथ ही ऐसे विद्यार्थी जो योग्य हैं, लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर है, उन्हें नि:शुल्क शिक्षा देने की भी व्यवस्था है।

 

क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट की सुविधा

संस्थान में शिक्षा  के साथ-साथ  छात्र छात्राओं को काउंसलर्स व क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट की सेवाएं भी मिल रही हैं,  जो बच्चों का ध्यान रखते हैं और उन्हें मोटिवेट करते हैं। संस्थान के क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट विद्यार्थियों  को अपने विचार और व्यवहार में सकारात्मक बदलाव लाने में मदद करते हैं। वह विद्यार्थियों  के विचार और व्यवहार को समझ कर उनकी मानसिक समस्या को दूर करते हैं, जिससे छात्र उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सकें।

 

कार्यक्रम के अहम बिंदु

• मेधावी छात्राओं ने भरतनाट्यम कर कार्यक्रम में लगाया चार चांद

• रमणीय कत्थक नृत्य प्रस्तुत कर छात्राओं ने दिखाई अपनी प्रतिभा

• मुख्य अतिथि के रूप में बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल रहीं उपस्थित, नीट के मेधावियों को किया सम्मानित  

• बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल ने शटलकॉक उछाल कर किया छात्र छात्राओं का उत्साहवर्धन

 

(अस्वीकरण : इस लेख में किए गए दावों की सत्यता की पूरी जिम्मेदारी संबंधित व्यक्ति/ संस्थान की है)

 

 

epaper