DA Image
11 अगस्त, 2020|11:53|IST

अगली स्टोरी

पारंपरिक ऑफिस / को-वर्किंग स्पेस मॉडल

बीते सालों में को-वर्किंग स्पेस में लोगों के काम करने के तरीकों के मुताबिक बदलाव आया है। ये मॉडल स्टार्टअप्स, आईटी से लेकर बड़े प्लेयर्स के बीच काफी सफल हो रहा है। यहां को-वर्किंग स्पेस और पारंपरिक ऑफिस की तुलना की जा रही है।

 

 

6 लाख से निवेश शुरू करें , टैक्स और अतिरिक्त शुल्क एक्स्ट्रा, कॉल करें 0120 4909090 पर और अधिक जानकारी के लियें |