Hindustan videshi media column on 26th Aug: Article on Sher Bahadur Deuba in Kathmandu post - देउबा की जंबो कैबिनेट DA Image
18 नबम्बर, 2019|9:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देउबा की जंबो कैबिनेट

लगता है प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा रिकॉर्ड तोड़ने में शोहरत कमाना चाहते हैं। 1996 में उन्होंने नेपाल के इतिहास के सबसे बड़े 48 सदस्यीय मंत्रिमंडल का रिकॉर्ड बनाया था। अब उन्होंने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए 50 सदस्यों के साथ नेपाल के इतिहास का सबसे बड़ा मंत्रिमंडल बनाने का खिताब हासिल कर लिया है। पिछले दो माह में यह चौथा कैबिनेट विस्तार है, जब 15 और मंत्रियों को शपथ दिलाई गई है। अब उन्होंने अपने पूर्ववर्तियों केपी शर्मा ओली कैबिनेट के 40, पुष्प कमल दाहाल कैबिनेट के 46, यहां तक कि 49 मंत्रियों वाले बाबूराम भट्टाराई कैबिनेट को भी पछाड़ दिया है। देउबा सबसे बड़े कैबिनेट का नेतृत्व भले ही कर रहे हों, लेकिन हालात देखकर लगता है कि यह भी उनका अंतिम विस्तार नहीं है। खुद देउबा के पास अब भी उद्योग, वन एवं मृदा संरक्षण, विज्ञान व तकनीक के साथ ही शांति और पुनर्निर्माण जैसे मंत्रालय हैं। उन्हें गठबंधन धर्म में अभी कई लोगों-दलों को संतुष्ट करना होगा, जिसे देखते हुए यह कैबिनेट जल्द ही 55 की संख्या पार कर जाए, तो आश्चर्य नहीं। इतने विशाल मंत्रिमंडल के स्वाभाविक तौर पर कुछ खतरे भी हैं। कैबिनेट के सभी सदस्यों की प्रशासनिक जरूरतें पूरी करने से उपजा आर्थिक दबाव पहली और बड़ी समस्या है। माना जा रहा है कि पिछले दो विस्तार से सरकार पर 10 करोड़ रुपये प्रतिमाह से ज्यादा का बोझ बढ़ा है। इन मंत्रियों के लिए आवासीय भवन-दफ्तर व अन्य सुविधाएं जुटाना भी बड़ी समस्या है, क्योंकि भूकंप में खासे कमजोर हो चुके सिंह दरबार में 31 मंत्रियों के दफ्तर ही बमुश्किल चल पा रहे हैं। इससे अलग एक समस्या भविष्य में आने वाली है, जिस पर किसी का ध्यान शायद नहीं है। वर्तमान समय में तो कैबिनेट की सदस्य संख्या फिलहाल तय नहीं है, लेकिन चुनावों के बाद जब अनुच्छेद-76 अस्तित्व में आ जाएगा, तब नई समस्या पैदा होगी, क्योंकि इसमें सिर्फ 25 सदस्यीय कैबिनेट का ही प्रावधान है। बेहतर होता कि देउबा भविष्य का आकलन करते हुए अभी से तार्किकता का सहारा लेते और अपेक्षाकृत छोटी कैबिनेट लेकर चलने की परंपरा शुरू करते। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hindustan videshi media column on 26th Aug: Article on Sher Bahadur Deuba in Kathmandu post