DA Image
24 जनवरी, 2020|3:44|IST

अगली स्टोरी

तिरछी नज़र

  • लगता है कि हिंदी का अब कुछ नहीं हो सकता! जरा देखिए तो कि सब भाषाओं के दिन फिरे, लेकिन हिंदी के आज तक नहीं फिरे! उनका जीरो से जीरो लेखक भी अचानक हीरो बन जाता है, लेकिन हिंदी का बड़े से बड़ा लेखक जीरो का...

    Sat, 18 Jan 2020 11:27 PM IST Hindustan Tirchi Nazar
  • पता नहीं क्यों, कुछ लोगों ने ईष्र्या-द्वेष को नकारात्मक भाव सिद्ध कर उनको रचनात्मक जगत से खारिज कर रखा है? हमारे लेखे तो इनसे अधिक रचनात्मक भाव कोई और नहीं। यकीन न हो, तो इनकी रचनात्मक क्षमता को...

    Sat, 11 Jan 2020 10:49 PM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • बरस की टॉप की बीस रचनाएं। टॉप के पांच रचनाकार। बरस के बेस्ट सेलर। लिस्ट पर लिस्ट बन रही हैं। जिस लेखक का नाम आ जाता है, वह नाचने लगता है, जिसका नहीं आता, वह गीता  का ‘निष्काम...

    Sat, 04 Jan 2020 09:45 PM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • हिंदी में तीन तरह के साहित्यकार हैं- उत्तम, मध्यम, अधम। वे ‘उत्तम कोटि’ में आते हैं और मैं ‘अधम कोटि’ में।  मैं इस सत्य को बहुत दिन बाद ही जान पाया कि साहित्यकार होने के...

    Sat, 28 Dec 2019 10:00 PM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • मन कर रहा है कि अब लौटा ही दूं, बड़ी खबर बनूं और मीडिया में छा जाऊं। चैनल वाले पीछे पड़ जाएं। इंटरव्यू लें, बार बार दिखाएं और मैं उनको बताऊं कि मैं क्यों लौटा रहा हूं? क्या कहना है? कैसे कहना है? कितना...

    Sat, 21 Dec 2019 09:29 PM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • जो पढ़ सकता है सो पाठक, जो लिख सकता है सो लेखक। अब इस तर्क से हिंदी में लेखक ही लेखक हैं। कोई ‘पल दो पल’ का है, तो कोई आधे घंटे-एक घंटे का है, तो कोई चौबीस बाई सात का है। इनमें भी कोई...

    Sat, 14 Dec 2019 10:13 PM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • एक लेखक ने दूसरे के बारे में कहा- वह तो ‘दो टके’ का लेखक है। दूसरी तरफ से जवाबी जुमला आया- क्या वह खुद ‘चवन्नी छाप’ है? इस ‘साइबरी विमर्श’ को देखकर लगा कि और कुछ...

    Sun, 08 Dec 2019 12:10 AM IST Tirchi Najar Hindustan Column
  • एक दिन हमारे मित्र साहित्य की चर्चा करते-करते अचानक पूछ बैठे- साथी यह बताइए, हिंदी के साहित्यकारों की लंबी उम्र का रहस्य क्या है? कभी साहित्यकार मुश्किल से 40 पार कर जाता था, तो चमत्कार माना जाता था।...

    Sat, 30 Nov 2019 08:41 PM IST Tirchi Nazar Hindustan Tirchi Nazar
  • सुधीर पचौरी

    एक बार फिर हिंदी में कुछ ‘विश्व स्तरीय’ होने जा रहा था। ‘वाट्सएप’ पर फॉरवर्डेड कार्यक्रम बता रहा था कि कोई पाब्लो नेरूदा की कविताओं का हिंदी अनुवाद पढ़ने जा रहा था, तो कोई...

    Sat, 23 Nov 2019 11:03 PM IST Tirchi Nazar Hindustan Tirchi Nazar
  • साहित्य का सीजन शुरू है। जिधर देखो, उधर साहित्य हो रहा है। अभी-अभी एक चैनल ने भव्य साहित्योत्सव मनाया। एक अन्य भी करने वाला है। गोवा में हो चुका है। पुडुचेरी में भी हो चुका है। दून में भी हुआ है।...

    Sun, 17 Nov 2019 02:19 AM IST Tirchi Nazar Hindustan
  • मेरा सविनय निवेदन यह है कि...। मैं पूरी विनम्रता के साथ अपनी बात कहना चाहता हूं...। मैं आप लोगों के समान लेखक नहीं हूंं, मैं यहां एक आम आदमी तरह बात करना चाहता हूं...। अब तक बहुत-सी बातें हो चुकी...

    Sun, 03 Nov 2019 12:08 AM IST Tirchi Nazar Hindustan Tirchi Nazar
  • सुधीर पचौरी

    गांधी जी की डेढ़ सौवीं जयंती मनाई जा रही है, मगर हिंदी में खोजिए, तो डेढ़ गांधीवादी लेखक भी नहीं मिलेगा। इस ‘डेढ़’ में भी एक ‘मैं’ हूं, बाकी में आप अपने को समझ लें। शेष तो...

    Sat, 26 Oct 2019 11:38 PM IST Tirchi Nazar Hindustan Tirchi Nazar
  • sudheesh-pachauri jpg

    उस दिन अपना ‘हिंदी साहित्य’(शॉर्ट में ‘हिंसा’) बोला- भाई साब, आजकल बड़े संकट में हूं। मुझे उबारिए। मैंने हमदर्दी जताते हुए पूछा- मेरे प्यारे, क्या तुमको किसी ने पीटा है? किसी...

    Sat, 19 Oct 2019 11:01 PM IST Tirachee Nazar Column Tirachee Nazar Column Of Hindustan Paper Hindustan Hindi Newspaper अन्य...
  • sudheesh-pachauri jpg

    इन दिनों जब सड़ी गरमी विदा हो रही होती है और हवा में हलकी ठंड की खुनक घुलने लगती है, मेरा साहित्य-विरह-कातर मन ‘लिटफेस्टों’ की बाट जोहने लगता है। जैसे चातक पक्षी स्वाति नक्षत्र के सीजन की...

    Sat, 12 Oct 2019 11:51 PM IST Teerachi Nazar Column Hindustan Hindi News Paper Sudhish Pachauri Column Teerachi Nazar अन्य...
  • sudeesh pachauri jpg

    लेखक हैं, लेकिन पाठक नहीं हैं। वक्ता हैं, लेकिन श्रोता नहीं हैं। फिर भी हिंदी साहित्य खूब फल-फूल रहा है। साहित्यकारों का दावा मानें, तो वह विश्व स्तर का तो हो ही चुका है और विश्व के स्तर से भी बहुत...

    Sat, 05 Oct 2019 11:46 PM IST Dukhwa Kason Kahon Mori Selfie Tirachee Nazar Column Sudheesh Pachauri अन्य...
  • 1
  • of
  • 10

चुटकुले

ऑफिस से लौटते समय सब्जी लेते आना

पत्नी ने पति को मैसेज किया :- ऑफिस से लौटते समय सब्जी लेते आना, और हाँ, पड़ोसन ने  तुम्हारे लिए हैलो कहा है।

पति :  कौन सी पड़ोसन ?

पत्नी : कोई नहीं,  मैंने मैसेज के अंत मे पड़ोसन का नाम इसलिए लिखा ताकि मैं निश्चित हो सकूं कि तुमने मेरा पूरा मैसेज पढ़ा लिया।