DA Image
7 अगस्त, 2020|6:25|IST

अगली स्टोरी

मनसा वाचा कर्मणा

  • हमारे समय स्कूलों में नैतिक शिक्षा की एक कक्षा होती थी, जिसमें नैतिकता से संबंधित बहुत सारी बातें बताई जाती थीं। लेकिन आज न तो इसके बारे में सोचने का समय है और न ही हम इन बातों पर आगे बढ़ना चाहते हैं,...

    Thu, 06 Aug 2020 11:41 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • मानवीय मूल्यों पर आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय सेमिनार में भूटान के रॉयल विश्वविद्यालय के कुलपति निदुप दोरजी हिस्सा ले रहे थे। उनसे पूछा गया, भूटान के लोग इतने खुशमिजाज कैसे हैं? उन्होंने मुस्कराते हुए...

    Wed, 05 Aug 2020 11:47 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • जब अमीर खुसरो अवध या अयोध्या में घूमने निकले, तो वहां के आम लोगों ने उनसे कहा कि भगवान श्रीरामचंद्र की नगरी में आपका स्वागत है, आप खुश रहें। यह सुनकर अमीर खुसरो गद्गद हो गए। उस वक्त अवध की राजधानी...

    Tue, 04 Aug 2020 11:21 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • अमरता आदमी की सबसे बड़ी चाह है। हम जिस दुनिया में रहते हैं, वह पदार्थों की दुनिया है। ठोस पदार्थ के तीन अवयव हैं- लंबाई, चौड़ाई और मोटाई। ये पदार्थ के तीन आयाम हैं। चौथा आयाम है काल। हम समय के अपार...

    Mon, 03 Aug 2020 11:40 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी के मनोवैज्ञानिकों ने लोगों का अवलोकन करके यह डाटा हासिल किया है कि लगभग पचास प्रतिशत लोग अपना समय दिवास्वप्न देखने में बिताते हैं। या तो वे अतीत की घटनाओं के बारे में सोच रहे...

    Sun, 02 Aug 2020 11:25 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • अपनी कुरसी पर धंसे बैठे थे। उखडे़ हुए और उदास। दोस्त का फोन आया, तो मजबूरन उठाकर बोले, ‘अभी बहुत खराब महसूस कर रहा हूं। कल बात करते हैं।’ ‘हमें अपनी भावनाओं को समझना चाहिए। उन्हें...

    Fri, 31 Jul 2020 11:39 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • अक्सर प्र्रसिद्धि से लोग अच्छाई को भी जोड़ लेते हैं, पर ऐसा है नहीं। पवित्रता का मोल हत्यारे भी जानते हैं। वे भी यही जताने की कोशिश करते हैं कि उन्होंने गलत नहीं किया। मारियो पूजो के उपन्यास द गॉडफादर...

    Thu, 30 Jul 2020 11:07 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • समाज में सत्य कहने वालों के दिल में यदि पे्रम और आंखों में करुणा न हो और सत्य बोलने का ढंग ठीक न हो, तो वह लोगों पर असर नहीं करता। ऐसा कई बार देखने में आता है कि मनुष्य सत्य तो बोलता है, मगर वह...

    Wed, 29 Jul 2020 10:59 PM
  • पुराने विचारकों का एक रोचक कथन है- निपुण से निपुण आदमी भी अपने कंधे पर नहीं चढ़ सकता। बांग्ला कवि सुभाष मुखोपाध्याय की एक कविता की पंक्ति है- आमार कांधेर ऊपरे हाथ राखलो समय, यानी जब कोई नहीं था मेरे...

    Tue, 28 Jul 2020 11:01 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • यदि आपको जिंदगी में दिक्कतों का सामना न करना पड़े, तो समझिए कि आप गलत गाड़ी में सफर कर रहे हैं, यह कहना है स्वामी विवेकानंद का। इसीलिए जाने-माने अमेरिकी कारोबारी जेम्स सी पेनी कहते हैं कि दिक्कतों से...

    Mon, 27 Jul 2020 11:02 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • एक बार मैं साड़ियों की दुकान में थी। वहां एक और युवती साड़ियां खरीद रही थी। मेरी और उसकी कोई जान-पहचान नहीं थी, पर उसने दो-तीन साड़ियां अपने ऊपर लपेटकर मुझसे पूछा, ‘इनमें से कौन सी सुंदर लग रही...

    Sun, 26 Jul 2020 10:26 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • गुस्से में हैं बॉस। यह मीटिंग के शुरू में ही पता चल गया था। जाते-जाते कह गए। ‘अपने से झूठ बोलकर कहां जाओगे?’ ‘हम अगर अपने प्रति ईमानदार नहीं हैं, तो दूसरों के प्रति कैसे हो सकते...

    Fri, 24 Jul 2020 11:16 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • यह मानवीय कमजोरी है कि जब हम किसी क्षेत्र में सफल होते हैं, तो उसका श्रेय स्वयं को देते हैं और जब असफल होने लगते हैं या कोई बाजी हाथ से निकलती हुई प्रतीत होती है, तो इसका जिम्मेदार भाग्य या ईश्वर को...

    Thu, 23 Jul 2020 10:53 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • आकाश लोहित हो चला था। सिंदूरी आभा बिखेरते भगवान भास्कर अस्त होने जा रहे थे। समंदर तट की गहमागहमी से बिल्कुल इतर रेत पर बैठा एक अधेड़ व्यक्ति अस्ताचलगामी सूर्य के इस विहंगम दृश्य को देखकर पता नहीं,...

    Wed, 22 Jul 2020 11:11 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana Column
  • किसी ने दलाई लामा से पूछा कि मनुष्य के संबंध में वह कौन सी चीज है, जो आपको सबसे ज्यादा चकित करती है? दलाई लामा ने कहा- स्वयं मनुष्य, क्योंकि वह पैसे कमाने के लिए अपने स्वास्थ्य को गंवाता है, और फिर...

    Tue, 21 Jul 2020 11:56 PM Hindustan Mansa Vacha Karmana
  • 1
  • of
  • 69

चुटकुले

जब आदमी ने दूसरे आदमी से पूछा, भाभीजी लेफ्टी हैं क्या? 

रास्ते में एक आदमी ने दूसरे आदमी को रोककर पूछा-
भाई साहब, भाभीजी लेफ्टी हैं क्या? 


दूसरा आदमी - हां, पर आपको कैसे पता? 

पहले आदमी - क्योंकि आपका दायां गाल सूजा हुआ है...!!!