अगली स्टोरी

मुझे पानी से प्यार हो गया था

मुझे पानी से प्यार हो गया था

उन दिनों कस्र्टी का परिवार जिम्बॉब्वे की राजधानी हरारे में रहता था। उनके घर में ही एक छोटा सा तालाब था। बचपन में ही उन्हें पानी से प्यार हो गया। दरअसल, जब वह 18 महीने की थीं, तभी मां ने उन्हें इस...

देसी आदमियों की खासियत

संता बिना पानी मिलाये दारू पी रहा था

सोहन– क्या बात है पाजी आपने

पानी भी नहीं मिलाया,

संता – अबे पागल हम देसी आदमी हैं

इतना पानी तो हमारे मुंह में दारू देखकर ही आ जाता है