DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

और अब ‘पटना स्मार्ट’

शशि शेखर

आज के ‘हिन्दुस्तान’ के साथ संलग्न - ‘पटना स्मार्ट’ देखा क्या? अगर नहीं, तो एकबार आरम्भ से अंत तक गहरी नजर से पढ़ जरूर लें। आपके अपने अखबार का यह अनूठा प्रयोग है। हम हर रोज अब ‘पटना स्मार्ट’ के साथ ही इस शहर के सुधी पाठकों के दरवाजे खटखटाया करेंगे। ‘पटना स्मार्ट’ एक संपूर्ण अखबार होगा, पर इसकी प्रस्तुति और विषय-वस्तु के केंद्र में पटना के वे लोग होंगे, जिन्हें जबरन थोपी गई वंचना का शिकार होना पड़ा है। ये वो लोग हैं जो आज भी हिम्मत-हौसले से काम चलाते हैं और अपनी तरक्की के रास्ते खुद खोलते हैं। इन हौसलामंद लोगों को जरूरत है तो नए नजरिए की। ‘स्मार्ट’ आज से इस कमी को पूरा करेगा। क्या कमाल है? जिन सरकारी संस्थाओं पर इस वर्ग को शिक्षित और स्वस्थ रखने की जिम्मेदारी है, वे खुद बीमार हो गई हैं। नई दिल्ली हो या पटना हुकूमतें बदलती गईं पर कुछ रवायतें जस की तस कायम रहीं। हम ऐसी सरकारों से उम्मीद भी क्या करें, जो करोड़पति नेताओं से बनती और संचालित होती हैं? ‘पटना स्मार्ट’ में आज की लीड खबर ‘पटना गरीब, नेता अमीर’ इसी विषमता को उजागर करती है।

‘पटना स्मार्ट’ शहर के उन परिवारों की सामूहिक संपत्ति होगा, जो दो या तीन पीढ़ियों से मिलकर बनते हैं, जो साथ रहते हैं, साथ तरक्की के सतरंगी सपने देखते हैं और एक साथ अपनी मंजिल को पाना चाहते हैं। पटना इस मायने में भाग्यशाली है। यहां आज भी परंपराएं सांस लेती हैं और लोग खुद को गर्व से पटनावासी कहते हैं। आज से ‘पटना स्मार्ट’ आपको आपके लिए जरूरी दुनिया से ही नहीं जोडे़गा, बल्कि शहर की हर हलचल को अलग नजर और नजरिए से दिखाने की कोशिश करेगा। यह अनूठा अखबार आपकी जेब पर अतिरिक्त बोझ न डाले, इसके लिए इसकी कीमत भी पहुंच के अंदर रखी गई है - महज दो रुपये। एक चाय की प्याली से चौथाई कीमत वाला यह अखबार न केवल आपको दिमागी तौर पर तर-ओ-ताजा रखेगा, बल्कि प्रगति के रास्ते भी खोलेगा। इस नेक काम के लिए ‘हिन्दुस्तान’ के साथियों ने खासतौर पर समूचे परिवार के लिए 12 बेहद जरूरी विषयों पर फीचर-पृष्ठ संयोजित किए हैं, ताकि अपने शहर की सरजमीं पर पैर जमाए हुए आप लोग ‘ग्लोबल विलेज’ के सजग और सम्मानित सदस्य बने रह सकें। ‘पटना स्मार्ट’ सच्चे अर्थों में पटना की तरक्की का नया नजरिया होगा।

एक जिम्मेदार अखबार होने के नाते ‘हिन्दुस्तान’ इससे पहले भी बिहार के लोगों की प्रगति के लिए अनूठे प्रयोग करता रहा है। हर आयु वर्ग की महिलाओं के लिए ‘अनोखी’, अंग्रेजी के तलबगारों के लिए ‘जानो इंग्लिश’ और नौकरी की चाहत रखने वाले नौजवानों के लिए ‘जॉब सर्च’ हमारी इसी सोच का आईना हैं। हमारी खुशनसीबी कि इन सभी को आपने हर बार हाथों-हाथ लिया। आपके इस प्यार से ‘हिन्दुस्तान’ के साथियों का यकीन बार-बार पुख्ता हुआ कि बिहार में तरक्की की भूख जिंदा है और संसार को तमाम अनूठी देन देने वाला यह प्रदेश आज भी अपने गर्भ में असीम संभावनाएं छिपाए हुए है। पटना बिहार की आन-बान-शान है। इस महानगर को बिहार का चेहरा माना जाता है। यहां की तरक्की, पूरे प्रदेश की बढ़ोतरी का रास्ता खोलती है। ‘पटना स्मार्ट’ विकास की संभावनाओं को पंख देने का काम करेगा। उम्मीद है, हमेशा की तरह आपका सहयोग हमारा संबल बना रहेगा।

Twitter Handle: @shekharkahin 
शशि शेखर के फेसबुक पेज से जुड़ें
shashi.shekhar@livehindustan.com

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Editor in chief Shashi Shekhar message on hindustan smart launching in Patna Bihar