DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनता की भी सुनिए

आम चुनाव के लिए अलग-अलग राजनीतिक दल अपने घोषणापत्र को अंतिम रूप दे रहे हैं, तो इसके बारे में मेरे भी कुछ सुझाव हैं। पहला सुझाव कैंसर ग्रस्त लोगों के बारे में है। मेरा अनुभव है, कइयों का होगा, कि कैंसर एक तबाही लाता है। आर्थिक और मनोवैज्ञानिक स्तर पर। इसलिए सरकार को कैंसरग्रस्त रोगियों को लेकर एक कल्याणकारी योजना बनानी चाहिए। कैंसर की दवाइयां काफी महंगी आती हैं, कीमोथिरेपी में कैंसरग्रस्त का दीवाला निकल जाता है और बड़े शहरों में जाकर इलाज के लिए परिवार के सदस्यों के रहने का खर्च इतना ज्यादा हो जाता है कि जिस किसी के घर में कैंसर हुआ, वह लगभग विपन्न हो जाता है।

अगर वह सामान्य मध्यवर्ग या गरीब वर्ग का हुआ तो। कैंसर की बीमारी जिस तरह से फैल रही है, उसके इलाज के लिए उचित संख्या में सही अस्पताल या डॉक्टर तक नहीं है। बीमार को थक-हारकर दिल्ली-मुंबई आना पड़ता है। क्या हमारे दल इसके बारे में सोचेंगे? कइयों की तरह मेरा भी मानना है कि दिल्ली में मेट्रो का किराया काफी ज्यादा है। दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के आम लोगों पर यह बड़ा बोझ है। इस बोझ को आधा किया जाना चाहिए। अब तो यह खबर भी आ गई है कि मेट्रो यात्रियों की संख्या कम हो रही है। फिर किराया ज्यादा रखने का क्या तुक?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hindustan Cyber Sansar Column March 29