DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सलाम अमृता

तेलंगाना में एक हंसते-खेलते जोडे़ को लड़की के पिता की बुरी नजर लग गई। उसने अपनी बेटी के पति की सरेआम हत्या करा दी। उस लड़की ने अब एक बच्चे को जन्म दिया है। प्रणय और अमृता ने शादी से पहले प्री-वेडिंग फोटोग्राफी (फोटोशूट) कराई। दोनों उन तस्वीरों में बेहद खुश नजर आते हैं। दो वयस्क युवाओं की सहमति से शादी को यूं तो बेहद साधारण बात होनी चाहिए थी, लेकिन वह शादी खास थी। प्रणय दलित थे और अमृता सवर्ण जाति से। भारतीय समाज की जाति-व्यवस्था के शास्त्रीय ताने-बाने पर यह शादी एक तमाचा थी। अपने देश में शादी दो वयस्कों के बीच आपसी करार नहीं, एक धार्मिक कृत्य है। अपनी कन्या को अपनी ही जाति में ब्याहना पिता का अनिवार्य सामाजिक और धार्मिक कर्तव्य है। हत्या का वाकया तब हुआ, जब अमृता प्रेगनेंट थीं और पति-पत्नी, दोनों अस्पताल जा रहे थे। सोचिए, गर्भवती पत्नी के सामने पति की हत्या। लेकिन वह नहीं टूटतीं। 30 जनवरी को वह बच्चे को जन्म देती हैं। वह अपनी और बच्चे की तस्वीर भी सोशल मीडिया पर डालती हैं। तस्वीर के बैकग्राउंड में प्रणय की तस्वीर है। साथ में एक स्टिकर है, जिस पर लिखा है, ‘डैड माई फॉरएवर हीरो।’ यह तस्वीर जातिवादियों की तमाम क्रूरता पर भारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cyber sansar Hindustan column on 11 february