DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जब कीर्ति ने चौंकाया 

 

 

भारत के अनौपचारिक मैदानों में पिच-विच तो होती नहीं, जहां जगह मिल जाए, वही पिच है। अब उसमें बाउंस कहां से होगी? टेनिस बॉल उछल भी जाए, एसजी या कूकाबुर्रा तो बिल्कुल न उछले। कई गेंदें तो टप्पा खाने के बाद जमीन पर लोटती हुई आती हैं। और भाई लोग भी गेंद को जमीन से खोद-खोदकर उड़ाते हैं, जिसको अब हेलीकॉप्टर शॉट बोलिए या सांड-मार शॉट।
खैर, कीर्ति आजाद जी से जुड़ा एक वाकया है। जब ओल्ड ट्रैफर्ड में रोजर बिन्नी और अमरनाथ ने इंग्लैंड के दिग्गजों को आउट किया, तो फिर कीर्ति आए। सामने इयान बॉथम थे, जिन पर अब इंग्लैंड की जिम्मेदारी थी। कीर्ति की गेंद न तेज थी, न बाउंस हुई, जमीन से कुछ दो-तीन इंच ऊपर होगी और ऑफ स्टंप के बाहर टप्पा खाकर लेग स्टंप उड़ा गई। बॉथम खुद आला गेंदबाज थे। चकरा गए कि भला यह क्या करामात है? या तो गेंद उठकर घूमती है या नीचे रहकर सीधी जाती है। यह सांप की तरह जमीन पर लोटकर तो नहीं घूमती। यह तो भौतिकी के नियमों के खिलाफ है।
कीर्ति से पूछा कि भाई, यह किया कैसे? कीर्ति ने कहा कि मैं भी यही सोच रहा हूं कि यह हुआ कैसे?
भारत के गली क्रिकेट में तो ऐसे कई बॉथम रोज आउट होते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cyber sansar hindustan column on 1 april