cyber sansaar article in Hindustan on 22 january - गोएबल्स के बच्चे DA Image
16 नबम्बर, 2019|1:47|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोएबल्स के बच्चे

जोसेफ गोएबल्स का नाम आपने सुना है? वही, हिटलर का प्रचार मंत्री। उसके नाम पर एक कथन मशहूर हुआ है कि किसी झूठ को अनेक बार बोलो तो लोग ही नहीं, तुम खुद भी उसे सच मानने लगते हो। क्या आप गोएबल्स के अंत के बारे में जानते हैं? हिटलर के साथ वह आखिरी समय तक बंकर में मौजूद था। हार हो चुकी थी। हिटलर खुदकुशी कर चुका था। गोएबल्स के छह बच्चे थे- पांच बेटियां और एक बेटा। वह यह सोचकर ही कांप गया कि उसके बच्चों को ऐसी दुनिया में रहना पडे़गा, जिसका नेतृत्व हिटलर नहीं करेगा। उसने बच्चों को मार देने का कठोर निर्णय लिया।

बच्चे बंकर के किसी और कमरे में थे। एसएस डॉक्टर्स ने उनके कमरे का दरवाजा खटखटाया। दरवाजा खुलते ही डॉक्टर्स ने बच्चों के दांतों की दरार से साइनायड टिकिया के पाउडर उनके मुंह में   ठूंस दिए। बच्चों ने शायद डर से दांत भींच लिए होंगे। इस तरह, छह के छह निर्दोष बच्चे मारे गए। उन्हीं एसएस डॉक्टर्स के हाथों और उसी गोएबल्स के आदेश पर, जिसने लाखों यहूदियों की जान ली थी। छह बच्चों के मारे जाने के बाद गोएबल्स ने पत्नी को गोली मारी और फिर खुद को मार लिया। दरअसल, गोएबल्स जैसे घृणा से संचालित लोग दूसरों को नष्ट करते-करते अपनी भावी पीढ़ी को भी मिटा देते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cyber sansaar article in Hindustan on 22 january