DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उनके हिस्से की सेहत

संयुक्त राष्ट्र के कई संगठनों की रिपोर्ट कहती है कि लगभग हर देश में ऐसे हालात हैं कि तमाम लोगों को अच्छी किस्म यानी गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध नहीं हो रही हैं। असल में, तमाम देशों में आमतौर पर बीमारियों के कारणों का सही पता नहीं लगाया जाता। अगर बीमारियों का कारण पता भी चल जाए, तो दवाइयां सही तरीके से नहीं दी जाती हैं। अक्सर गलत या अधूरा इलाज किया जाता है। ज्यादातर मामलों में इलाज के लिए चिकित्सा सुविधाएं या तो समुचित नहीं होती हैं या फिर वहां कामकाज ठीक से नहीं होता है। ये हालात कम और मध्य आमदनी वाले देशों में ज्यादा बड़ी परेशानी पेश करते हैं। 

रिपोर्ट में जोर देकर कहा गया है कि हर एक नागरिक को अच्छी स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना बहुत जरूरी और हर सरकार की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। यह इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि इससे इंसानों की तकलीफें कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा जब लोग स्वस्थ रहते हैं, तो बेहतर कामकाज करते हैं और अंतत: देश के आर्थिक हालात में योगदान करते हैं। जाहिर है, राष्ट्रीय स्तर पर ऐसी ठोस स्वास्थ्य रणनीति होनी ही चाहिए, जिससे लोगों का जीवन बेहतर हो सके। तमाम इंसानों को बिना किसी भेदभाव और बाधा के अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं मिलनी ही चाहिए। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cyber sansaar article in Hindustan on 04 September