शुक्रवार, 13 जुलाई, 2018 | 13:53 | IST
खोजें
ब्रेकिंग
  • स्पोर्ट्स स्टार: IPL 10 में कैप के लिए बल्लेबाजों में रोचक जंग, भुवी पर्पल कैप की दौड़...
  • बॉलीवुड मसाला: 'बाहुबली 2' की कमाई तो पढ़ ली, अब जानें स्टार्स की सैलरी। यहां पढ़ें,...
  • IPL 10 #DDvSRH: जीत के ट्रैक पर लौटी दिल्ली डेयरडेविल्स, हैदराबाद को 6 विकेट से हराया
  • IPL 10 #DDvSRH: 5 ओवर के बाद दिल्ली का स्कोर 46/1, लाइव कमेंट्री और स्कोरकार्ड के लिए यहां...
  • IPL 10 #DDvSRH: हैदराबाद ने दिल्ली को दिया 186 रनों का टारगेट, युवराज ने जड़ी फिफ्टी
  • IPL 10 #DDvSRH: 16 ओवर के बाद हैदराबाद का स्कोर 126/3, लाइव कमेंट्री और स्कोरकार्ड के लिए यहां...
  • IPL 10 #DDvSRH: 10 ओवर के बाद हैदराबाद का स्कोर 83/2, लाइव कमेंट्री और स्कोरकार्ड के लिए यहां...
  • Funny Reaction: प्रियंका की ड्रेस पर हुई 'दंगल की कुश्ती', लोगों ने यूं लिए मजे, पढ़ें...
  • स्टेट न्यूज़ : पढ़िए, राज्यों से अब तक की 10 बड़ी ख़बरें
  • स्पोर्ट्स स्टार: रोहित शर्मा का कमाल, आईपीएल में ऐसा करने वाले बने चौथे...
  • बॉलीवुड मसाला: 'भल्लाल देव' का खुलासा- इसलिए बताई एक आंख से ना देख पाने की बात।...
  • टॉप 10 न्यूजः पढ़ें सुबह 9 बजे तक देश-दुनिया की बड़ी खबरें एक नजर में
  • हेल्थ टिप्सः आसपास सोने वालों की नहीं होगी नींद खराब, ऐसे लगेगी खर्राटों पर लगाम
  • हिन्दुस्तान ओपिनियनः पढ़ें वरिष्ठ तमिल पत्रकार एस श्रीनिवासन का लेख- तमिल...
  • मौसम दिनभरः दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, पटना में रहेगी तेज धूप। देहरादून और रांची में...
  • साहेबगंज

    पिछले चुनाव की जानकारी

    साहेबगंज
    विधायक नाम
    : राजू कुमार सिंह
    पार्टी- जदयू
    कुल मतदाता- 484149
    पुरुष मतदाता- 255390
    महिला मतदाता- 228759

    पिछले विधानसभा में मतदान का प्रतिशत- 56.50
    विजेता का नाम:
    राजू कुमार सिंह, जदयू, 46606 वोट
    प्रतिद्वंदी: रामविचार राय, राजद, 41690 वोट
    वोट का अंतर-4916

    पिछले पांच विधानसभा में कौन-कौन रहे विधायक
    वर्ष  विधायक का नाम    पार्टी
    2010-  राजू कुमार सिंह    जदयू    
    2005  राजू कुमार सिंह    जदयू   
    2000  राम विचार राय    राजद
    1995  राम विचार राय    जेडी
    1990   राम विचार राय    जेडी

    साहेबगंज विधानसभा क्षेत्र के प्रमुख चुनावी मुद्दे

    1. चौर से जल निकासी: साहेबगंज के सैकड़ों एकड़ खेती की जमीन पर वर्षों से जल जमाव यहां का सबसे प्रमुख मुद्दा रहा है। इस चौर में हजारों किसानों की उम्मीदें भी फसलों के साथ डूबी रहती है।
    2. बिजली: साहेबगंज विधानसभा क्षेत्र में एक पंचायत और चार महादलित टोले ऐसे हैं, जहां आज तक बिजली नहीं पहुंची है।
    3.बेरोजगारी व नक्सलवाद: बेरोजगारी व पनपता नक्सलवाद इस विधानसभा क्षेत्र का तीसरा बड़ा मुद्दा है। विधानसभा क्षेत्र में पढ़े-लिखे युवाओं की बड़ी बेरोजगार फौज है।

    इनके लिए अलग-अलग है चुनावी मुद्दा
    युवा:
    युवाओं के लिए यहां एक मात्र मुख्य मुद्दा बेरोजगारी है। यहां के शिक्षित युवा काम पैदा करने वाले को वोट करना चाहते हैं। लेकिन दिक्कत है कि यहां उद्योग धंधों की संभावना न के बराबर है। ऐसे में युवाओं का झुकाव सरकारी सेवा की ओर ज्यादा है।
     
    महिला: महिलाओं के लिए राजनीतिक व सरकारी सेवा में भागीदारी के साथ ही स्वास्थ्य सुविधा का मुद्दा प्रमुख है। राजनीति में भले ही उन्हें तीस फीसदी आरक्षण की बात कहीं गई हो, लेकिन यह जमीन पर उतरता दिख नहीं रहा है।

    किसान: किसानों के लिए प्रमुख मुद्दा चौर की जमीन से जल निकासी ही है। जलजमाव के कारण किसान फसल की बिक्री नहीं कर पाते और उनपर गरीबी छाई है। किसानों के फसलों को बाजार नहीं मिलना भी किसानों के लिए पीड़ादायी है।
     
    डेवलपमेंट इंडेक्स
    शिक्षा:
    शिक्षा के क्षेत्र में विधानसभा क्षेत्र में कुछ काम हुए हैं। मसलन, यहां प्राथमिक विद्यालयों की संख्या 89 है, मध्यविद्यालय की संख्या 88 है, मदरसे दो हैं, संस्कृत विद्यालय एक है हाइस्कूलों की सख्या 10 है। एक डिग्री और एक इंटर कॉलेज भी यहां हैं। साइकिल, छात्रवृत्ति व मिड डे मिल योजना के कारण स्कूलों में बच्चों की संख्या भी बढ़ी है और क्षेत्र की साक्षरता में भी विकास हुआ है।

    स्वास्थ्य: विधानसभा क्षेत्र में एक पीएचसी व चार एपीएचसी माधोपुर हजारी, मनाइन, जीता छपरा व धरफरी में है। पीएचसी में डॉंक्टरों के आठ पद हैं, लेकिन तैनाती दो डॉंक्टरों की ही हैं। नर्स के कुल 33 पद सृजित हैं लेकिन तैनाती 20 की ही है। एक महिला डॉंक्टर की तैनाती तो हैं लेकिन वर्षों से वह मुजफ्फरपुर में एसकेएमसीएच में डेपुटेशन पर कार्यरत हैं। 102 एम्बुलेंस सेवा का लाभ मरीजों को जरूर मिल जाता है।

    निर्माण: निर्माण के क्षेत्र में विधानसभा क्षेत्र में बहुत कम काम हुए हैं। मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से एक सड़क धनैया गेंदघर से बाडमडीह होते हुए पहाड़पुर तक बनी है। बाया नदी पर नवादा, जगदीशपुर, खेमसराय व झाझा नदी पर बी कल्याण व भगवानपुर काशी में पांच पुल बने है। वैशाली से बेतिया जाने वाले स्टेट हाइवे 74 भी उपलब्धियों में गिना जा सकता है।

जरूर पढ़ें