DA Image
17 जनवरी, 2021|8:10|IST

अगली स्टोरी

नई उम्मीदों संग नए साल का जोश और उमंग के साथ स्वागत

default image

सुपौल। हिन्दुस्तान संवाददाता नए साल के स्वागत में जिले में जमकर धमाल हुआ। उत्साह, उमंग और जोश के साथ सड़कों पर वाहनों से फर्राटा भरते युवाओं का कारवां गुजरा। कई जगहों पर गीत-संगीत की महफिलों ने समां बांधा। धूम धड़ाका, धमाल, डीजे के गीत, थिरकते युवा और खान-पान के दौर के बीच नये साल का जमकर स्वागत हुआ।

इतना ही नहीं शहर के मंदिरों में भी भजन-कीर्तन के साथ विशेष पूजा हुई। नववर्ष के इंतजार में हर कोई बेताब दिखा। बच्चे से लेकर बड़े तक, सबके चेहरे पर खुशी और गजब का उत्साह था। गुरुवार की रात घड़ी की सूई जैसे ही 12 पर पहुंची, चारों ओर आतिशबाजी शुरू हो गई। आतिशबाजी के शोर के बीच सभी जोर से बोल उठे ‘हैप्पी न्यू ईयर 2021। इसके साथ ही बीते साल की सारी स्याह यादें उम्मीदों और उत्साह की रोशनी में फना हो गई। सबकी जुबां पर पिछले साल के दर्द और बर्बादी के दास्तान तो थे मगर उम्मीदें भी हिलोरें ले रही थीं। प्रशासन की सख्ती और मनाही के बावजूद लोगों खूब आतिशबाजी कर धूम धड़ाका किया। शहर आधी रात तक झूमता रहा। कोई दोस्तों के साथ झूम रहा था तो कोई लजीज व्यंजनों के साथ नए साल का स्वागत कर रहा था। कोई घर में ही टीवी पर नए साल के कार्यक्रम देखकर खुश हो रहा था। चेहरे अलग-अलग पर सबकी खुशी एक थी ‘नए साल के शुरू होने की।

पुराने साल को अलविदा और नए साल के स्वागत को लेकर शहरवासियों में खासकर युवाओं ने खूब धमाल किया। फिल्मी गीतों पर झूमकर खूब मस्ती की। गुरुवार की देर शाम से ही सोशल मीडिया पर नए साल की बधाई देने का सिलसिला शुरू हो गया था। व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम पर लोग एक-दूसरे को नववर्ष की बधाई देते रहे। शुक्रवार को शहर के एकमात्र महात्मा गांधी चिल्ड्रेन पार्क में बच्चों में खूब मस्ती की। अभिभावक संग पहुंचे बच्चों ने झूला का लुत्फ उठाया तो कैंटीन में चिप्स का मजा लिया। दोपहर बाद पार्क में भीड़ उमड़ पड़ी, टिकट के लिए लाइन लगी रही। कोरोना को देखते हुए प्रबंधन द्वारा खास व्यवस्था की गई थी।

मरीज का अच्छे से इलाज बड़ा जश्न : नए साल के दिन सुबह से ही जहां लोग जश्न मना रहे थे। इनसब के बीच सदर अस्पताल के इमरजेंसी ड्यूटी में स्वास्थ्यकर्मी मरीजों की सेवा में लगे हुए थे। उनका कहना था कि एक डॉक्टर के लिए मरीज का इलाज अच्छे तरीके से करना ही सबसे बड़ा जश्न होना चाहिए। मरीज जब ठीक होकर जाता है तो उसके परिवार के लोग भी खुश होते हैं। शुक्रवार को डॉक्टर के साथ ही पैरामेडिकल स्टाफ और नर्स भी ड्यूटी पर तैनात रही।

लोगों की सुरक्षा ही पुलिस का दायित्व : नया साल हो या फिर ईद, होली या दीवाली लोगों की सुरक्षा ही सर्वोपरि है। मौके पर पुलिस तत्पर है। लोगों की बेहतरी के लिए नए साल की रात और दिन भी पुलिस सड़क पर है। यह कहना है लोहिया नगर चौकी में तैनात पुलिस जवानों का। उनका कहना था कि पुलिसकर्मी का दायित्व है आमजन की सुरक्षा। इसके मद्देनजर पुलिस अफसर हों या सिपाही। नए साल में सड़क पर जवान ड्यूटी दे रहे हैं। लोगों की खुशहाली में हमारी खुशहाली है। यही कारण है कि घर परिवार को छोड़कर दिन-रात ड्यूटी करते हैं और लोगों की सुरक्षा मुस्तैदी से कर रहे हैं। कुछ जवानों का कहना था कि ड्यूटी पर ही उनका पर्व त्यौहार बीतता है।

शोहदों पर थी पुलिस की नजर : नववर्ष में जगह-जगह मनने वाले जश्न को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। सुरक्षा के लिए एसपी मनोज कुमार ने संबंधित थाना के अलावा पुलिस लाइन से जिला बल और होमगार्ड की प्रतिनियुक्ति की थी। गुरुवार की शाम से ही शहर के सभी प्वांइट पर सुरक्षा बल तैनात हो गए थे। कहीं-कहीं देर रात से वाहनों की चेकिंग शुरू कर दी गई थी। इसके चलते हुड़दंगियों के मंसूबे कामयाब नहीं हो पाए।

मंदिरों में दर्शन-पूजन के बाद मस्ती भी : नए साल के अवसर पर शुक्रवार की सुबह-सुबह ही लोग जिलेभर के मंदिरों में पहुंचे और दर्शन कर पूजा की। उधर, जिले के त्रिवेणीगंज स्थित लतौना मिशन और सखुआ स्थित चर्च में भी प्रार्थना सभा हुई। इसके लिए आयोजकों द्वारा विशेष तैयारी की गई थी। जिले के गणपतगंज स्थित विष्णु मंदिर, धरहरा के महादेव मंदिर, सुखपुर स्थित बाबा तिल्हेश्वर, कपिलेश्वर स्थान, महावीर चौक, स्टेशन चौक, पटेल चौक, ठाकुरवाड़ी सहित अन्य मंदिरों में भी लोगों की भीड़ लगी रही। इसके अलावा कई लोग परिवारसंग के संग मंदिर गए। वहां दर्शन और पूजा अर्चना से साल की शुरूआत करने के बाद घर जाकर परिवार के सदस्यों के लजीज व्यंजनों का मजा लिया और खूब मस्ती की।

जुमे की नमाज से नए साल की खुशामदीद : मुस्लिम धर्मावलंबियों ने पहले जुमे की नमाज अदा की फिर नए साल की मुबारकबाद दी। ईरशाद पप्पू, मो. सलाउद्दीन सहित अन्य युवाओं ने कहा कि इस बार साल के पहले दिन जुमा पड़ा है। ऐसे में उम्मीद है अल्लाह ताला के रहमोकरम से नया साल नई तरक्की लेकर आएगी और कोरोना संकट टलेगा। कहा कि कोरोना के कारण इस बार घूमने के लिए बाहर नहीं निकले, घर और परिवार से संग खुशियां मनाई। बताया कि जिले और देशवासियों के इस साल में उम्मीदों को पंख लगेंगे और जिला नई ऊंचाई को छुएगा।

मटन-चिकन की दोगुनी डिमांड : नववर्ष पर नॉनवेज का भी खूब तड़का लगा। शुक्रवार को मौसम खुशगवार होने के कारण लोग सबेरे-सबेरे मटन-मछली मंडी पहुंच गए थे। मंडियों में व्यवसायियों ने इसकी तैयारी पहले से कर रखी थी। दोगुनी से भी ज्यादा डिमांड को ध्यान में रखते हुए मटन, चिकन और मछली कारोबारियों ने अपना स्टॉक भरपूर कर लिया था। बताया जा रहा है कि गुरुवार को करीब 8 टन तक मछलियां मंगाई गई थी। वहीं मटन के लिए भी सुबह 11 बजे तक दुकानों पर भीड़ लगी रही। बताया जा रहा है जिलेभर में करीब तीन से चार करोड़ से अधिक का कारोबार रहा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Welcome the new year with enthusiasm and enthusiasm with new expectations