ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार सुपौलकोसी नदी में आया लाल पानी, बाढ़ की सताने लगी आशंका

कोसी नदी में आया लाल पानी, बाढ़ की सताने लगी आशंका

कोसी नदी में आया लाल पानी, बाढ़ की सताने लगी आशंका किशनपुर, एक संवाददाता। कोसी

कोसी नदी में आया लाल पानी, बाढ़ की सताने लगी आशंका
हिन्दुस्तान टीम,सुपौलWed, 15 May 2024 12:46 AM
ऐप पर पढ़ें

कोसी नदी में आया लाल पानी, बाढ़ की सताने लगी आशंका
किशनपुर, एक संवाददाता। कोसी नदी में मंगलवार को लाल पानी आने से क्षेत्र के लोगों को बाढ़ की आशंका सताने लगी है। लोगों ने बताया कि कोसी नदी में मंगलवार की सुबह लाल पानी दिखा। नदी के जलस्तर में उतार-चढ़ाव अब शुरू हो गया है। तटबंध के अंदर बसे लोगों को अभी से ही कटाव और विस्थापन का भय सताने लगा है। लोगों ने बताया कि कोसी के गोद में बसे नौआबाखर, बौराहा, मौजहा, दीघिया, दुबियाही, सिसवा, पंचगछिया आदि पंचायत के लोग पशुचारा के लिए कोसी के दियारा क्षेत्र में आश्रित हैं। ऐसे में नदी पार करने के लिए नाव या अन्य जुगाड़ का सहारा लेना पड़ता है। अब कोसी नदी के जलस्तर में वृद्धि होना शुरू हो गया है। नाव पर नियमित रूप से नाविक नहीं रहने से लोगों को खुद से नाव चलाकर नदी पार करना पड़ता है, जिससे हादसे की संभावना बनी रहती है। ग्रामीण संतोष कुमार यादव, पप्पू कुमार यादव, सुधीर यादव, रामलखन यादव, भवेश कुमार, ललन कुमार, प्रदीप साह, रामू साह, जयनारायण यादव आदि ने बताया कि कोसी नदी बरसात के समय विकराल रूप धारण कर लेती है जिससे जानमाल की क्षति होती है।

31तक पूरा हो जाएगा बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्य

वीरपुर, एक संवाददाता। पूर्वी कोसी तटबंध के भटनिया डिवीजन में पांच प्वाइंट पर चल रहा बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्य पूरा हो गया है। मालूम हो कि 15 मई तक बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्य को पूरा करना है। इसमें अधिकांश कार्य कटाव रोकने के लिए परकोपाइन लगाने का था। हाई लेवल कमेटी की अनुशंसा पर भारत-नेपाल प्रभाग को मिलाकर 102 करोड़ की लागत से 56 स्थलों पर बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्य कराए जा रहे हैं। इसमें नेपाल प्रभाग में 28 स्थलों पर कार्य कराना है। मुख्य अभियंता मनोज रमन ने बताया कि बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य चुनाव आचार संहिता को लेकर दो फेज मे बंट गया है। पहला फेज चुनाव आचार संहिता से पहले का है। पूर्वी कोसी तटबंध में पांच स्थलों पर किए गए कार्य इसी फेज के हैं। दूसरे फेज के कार्य को चुनावी आचार संहिता से थोड़ी बाधा आई है। उम्मीद की जा रही कि 31 मई तक हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।