DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नमाज अदा कर अमन चैन की मांगी दुआ

नमाज अदा कर अमन चैन की मांगी दुआ

ईद उल जोहा (बकरीद) पर्व बुधवार को जिले भर में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान मोहल्लों में भव्य सजावट भी की गयी थी। सुबह से ही नये-नये कपड़े पहनकर ईदगाहों और मस्जिदों में नमाजी ईद-उल-जोहा की विशेष नमाज अदा करने के लिए पहुंच गये थे। बसबिट्टी रोड स्थित ईदगाह समेत अलग-अलग मस्जिदों में बकरीद की नमाज अदा की गयी। इस दौरान नमाजियों ने मुल्क की हिफाजत के साथ-साथ अमन-चैन और तरक्की की दुआएं भी मांगी। उसके बाद आपस में गले मिलकर लोगों ने एक-दूसरे को बकरीद की मुबारकबाद दी। ईदगाह के बाद जामा मस्जिद में भी बकरीद की नमाज पढ़ी गयी। इससे पहले ईदगाह के इमाम मुक्ती मो. अकबर हुसैन ने नमाजियों को नमाज अदा करने की तरकीबें बतायी। उन्होंने कहा कि नमाजियों को अपने जीवन को खुशियों से बुलंद करने के लिए हर ऐसे इंतजाम करने चाहिए जिससे दूसरे को भी आगे बढ़ने में मदद मिले।नमाज में बड़े-बुजुर्ग के साथ ही बड़ी संख्या में युवा और बच्चे भी शामिल हुए थे। शहर के ईदगाह में ईद-उल-जोहा की पहली नमाज साढ़े 8 बजे अता की गयी जबकि चौक मस्जिद, नूरानी मस्जिद, गोदाम मस्जिद, छोटी मस्जिद, जामा मस्जिद, चौक मस्जिद, चकला निर्मली जामा मस्जिद में 8.30 बजे दूसरी नमाज पढ़ी गयी। बकरीद की नमाज अता करने के बाद वे लोगों को गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दी। बकरीद की नमाज को लेकर नगर परिषद से सफाई का बेहतर इंतजाम किया गया था। पर्व को लेकर खासकर बच्चों में खासा उत्साह देखा गया। जिला मुख्यालय के बसबिट्टी रोड स्थित ईदगाह में बुधवार को बकरीद की नमाज अदा करते पूर्व केन्द्रीय मंत्री सैय्यद शाहनवाज हुसैन सहित अन्य। फोटो: हिन्दुस्तान

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prayer and prayer for peace