DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनरेगा पीओ के खिलाफ गोलबंद हुए मुखिया

मनरेगा पीओ के खिलाफ गोलबंद हुए मुखिया

राशि भुगतान की स्वीकृति के लिए मांगते हैं कमीशन मुखिया संघ ने पीओ के खिलाफ की कार्रवाई की मांग सिमराही बाजार (सुपौल)। एक संवाददाता मनरेगा पदाधिकारी रजनीश कुमार द्वारा शराब पीकर कार्यालय में काम करने और राशि भुगतान की स्वीकृति देने के लिए खुलेआम पांच प्रतिशत कमीशन मांगने के खिलाफ प्रखंड क्षेत्र के मुखिया गोलबंद हो गये हैं। गुरुवार को गुस्साए प्रखंड क्षेत्र के सभी मुखिया प्रखंड कार्यालय पहुंच कर बीडीओ कार्यालय का घेराव किया। बीडीओ दिये आवेदन में मुखिया ने पीओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। मुखिया ने कहा कि अगर पीओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं हुई तो सभी मुखिया धरना-प्रदर्शन करने करेंगे। मुखिया ने अपने आवेदन में आरोप लगाया है कि पीओ पिछले पांच साल से राघोपुर प्रखंड में कार्यरत हैं। इसके कारण वे मनमानी कर रहे हैं। उनकी मनमानी के कारण पंचायत का विकास कार्य बाधित हो रहा है। मुखिया ने कहा कि कार्यालय के लेखापाल भी भुगतान संबंधी काम में अनियमितता बरत रहे हैं। पूर्व में खरीदे हुए मेटेरियल का भुगतान पिछले 6 महीने से नहीं हो पाया है। लेकिन पीओ द्वारा भुगतान करने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। मौके पर जिप सदस्य वीणा देवी, प्रमुख चन्दा देवी, मुखिया प्रकाश कुमार यादव, विजय चौधरी, उषा देवी, जुली कुमारी मेहता, वैदेही देवी, लाजवंती रूपम,पूनम पासवान, कलर शर्मा, रामचंद्र शर्मा, विन्दुवाला गुप्ता, अनिल सरदार, मो. तस्लीम, मीरा देवी, शैलेंद्र यादव, लक्ष्मी देवी आदि मौजूद थी। पीओ के खिलाफ आवेदन मिला है। इसकी जांच की जा रही है। जांच में अगर आरोप सही पाया गया तो पीओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मनोज कुमार, बीडीओ, राघोपुर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Molgoth Headed Against MNREGA