Government is giving less compensation to the ryots - रैयतों को सरकार दे रही कम मुआवजा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैयतों को सरकार दे रही कम मुआवजा

रैयतों को सरकार दे रही कम मुआवजा

कटैया माहे पंचायत सरकार भवन में शनिवार को रैयतों की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता सदर एसडीएम कयूम अंसारी ने की। बैठक में सुपौल-अररिया और गलगलिया रेल लाइन में पथरा उत्तर और कटैया माहे पंचायत के किसानों की पड़ने वाले जमीन को लेकर चर्चा की गई।

बैठक में रैयतों ने सरकार द्वारा मिलने वाली निर्धारित राशि से आक्रोशित थे। रैयतों का कहना था कि जमीन का मुआवजा कम दिया जा रहा है। स्थलीय जांच करने वाले अधिकारियों ने आवासीय जमीन को कृषि कर दिया है।

किसानो ने एसडीएम को अपना दुखड़ा सुनाते हुए कहा कि जमीन का वर्गीकरण सही रूप से नहीं किया गया है। गैरमजरूआ खास जमीन की अधिसूचना नहीं हुई है जबकि सभी कागजात हैं। रशीद भी कट रहा है। एसडीएम ने कहा कि रैयतों की समस्याओं के निदान का प्रयास होगा।

मौके पर डीसीएलआर संजय कुमार, एसडीपीओ विद्यासागर, बीडीओ अरविंद कुमार, सीओ राजीव कुमार सिन्हा, थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार, पूर्व मुखिया वीरेन्द्र प्रसाद मंडल, पैक्स अध्यक्ष अनिल कुमार, राजस्व कर्मचारी मो. इस्लाम, सरपंच संजय सिंह, परमेश्वरी मंडल, अरविंद कुमार यादव, नवीन कुमार आदि मौजूद थे।

कटैया माहे पंचायत सरकार भवन में शनिवार को बैठक में मौजूद एसडीएम व अन्य।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Government is giving less compensation to the ryots