Golden card made of 33 thousand people - 33 हजार लोगों का बना गोल्डेन कार्ड DA Image
10 दिसंबर, 2019|5:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

33 हजार लोगों का बना गोल्डेन कार्ड

33 हजार लोगों का बना गोल्डेन कार्ड

जिला स्वास्थ्य समिति द्वारा बिजली विभाग के सभागार में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की जानकारी के लिए शनिवार को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन हुआ। इसमें राज्य स्वास्थ्य सुरक्षा समिति से आए कॉर्डिनेटर की टीम ने कर्मचारियों को विस्तार से योजना की जानकारी दी। कॉर्डिनेटर सुधांशु कुमार ने बताया कि आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना के तहत देश के लगभग 10 करोड़ से अधिक परिवार स्वास्थ्य बीमा का लाभ ले सकते हैं। हर व्यक्ति का पांच लाख तक की राशि का इलाज इस योजना के तहत मुफ्त होगा। बताया कि अक्सर लोग अपना नाम लिस्ट में जांच के लिए आते हैं। ऐसे लोग अपने घर भी नेशनल हेल्थ एजेंसी के की वेबसाइट पर देख सकते हैं या हेल्पलाइन नंबर 14555 पर कॉल कर जानकारी ले सकते हैं कि लाभुकों की सूची में उनका नाम है या नहीं। अभीतक 33 हजार 609 लोगों का गोल्डेन कार्ड बन चुका है।कार्यशाला में सीएस डॉ. घनश्याम झा, डीपीएम बालकृष्ण चौधरी, आईसीडीएम डीपीओ राखी कुमारी, डीएम अरूण वर्मा, पंकज झा, सभी पीएचसी प्रभारी, हेल्थ मैनेजर, सीडीपीओ आदि मौजूद थे।योजना के लाभ के लिए कैसे करें क्लेम: कार्यशाला में बताया कि सरकार के पैनल में शामिल हर अस्पताल में आयुष्मान मित्र हेल्प डेस्क बनाया गया है। वहां लाभार्थी अपनी पात्रता की कागजात के जरिए पुष्टि करा सकता है। इलाज के लिए किसी स्पेशल कार्ड की जरुरत नहीं पड़ेगी, बस लाभार्थी को अपनी पहचान स्थापित करनी होगी। बताया कि इसमें 1354 प्रकार के बीमारियों का इलाज होता है जिसमें कैंसर सर्जरी और कीमोथेरेपी, हार्ट बाइपास सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, रीढ़ की सर्जरी, दांतों की सर्जरी, आंखों की सर्जरी, एमआरआई और सीटी स्कैन जैसी जांच शामिल हैं। इस स्कीम का फायदा उठाने के लिए आधार कार्ड की अनिवार्यता नहीं है। डाटा उपलब्ध नहीं रहने पर लगाई फटकार : कार्यशाला के दौरान डीएम महेन्द्र कुमार ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से प्रखंड स्तर पर गोल्डेन कार्डधारी की सूची मांगी। सूची नहीं देन पर डीएम ने कहा कि सिर्फ चिट्ठी पत्री मत कीजिए काम पर ध्यान दीजिए। उन्होंने योजना के तहत कम उपलब्धि पर भी नाराजगी जताई। बिजली विभाग के सभागार में शनिवार को आयोजित बैठक में मौजूद अधिकारी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Golden card made of 33 thousand people