ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार सुपौलदेखरेख के अभाव में बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर

देखरेख के अभाव में बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर

देखरेख के अभाव में बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर पिपरा, एक प्रतिनिधि। सरकार के दूरगामी...

देखरेख के अभाव में बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर
default image
हिन्दुस्तान टीम,सुपौलTue, 18 Jun 2024 01:01 AM
ऐप पर पढ़ें

देखरेख के अभाव में बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर
पिपरा, एक प्रतिनिधि। सरकार के दूरगामी योजनाओं में शुमार विभिन्न पंचायतों में बना बाढ़ आश्रय स्थल देखरेख के अभाव में जर्जर होने लगा है। बावजूद प्रशासन या सरकार का इस ओर ध्यान नहीं जा रहा है।

पिपरा के सीमावर्ती क्षेत्र के त्रिवेणीगंज प्रखंड के सिमरिया पंचायत में स्थित बाढ़ आश्रय स्थल जर्जर हो चुका है। बताया गया कि करीब एक करोड़ की लागत से बाढ़ आश्रय का निर्माण संभावित बाढ़ की स्थिति में लोगों के पनाह के लिए किया गया है, लेकिन इस बाढ़ आश्रय की स्थिति देखकर यही प्रतीत हो रहा है कि इस बाढ़ आश्रय स्थल को ही अब आश्रय की जरूरत है। परिसर में फैली गंदगी और अतिक्रमण कर रखे गए टूटे फूटे दरवाजे, खिड़कियां दुर्घटना को आमंत्रण दे रही है। छत का छड़ निकल चुका है।

दीवारों में दरार आ चुकी है, लेकिन विभाग और प्रशासन इसको लेकर मौन है। ऐसे में सरकार को इसके जीर्णोद्धार के लिए समय से पहल करने की जरूरत है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।