DA Image
24 जनवरी, 2021|5:23|IST

अगली स्टोरी

खेतों में लगी फसल हुई जलमग्न

खेतों में लगी फसल हुई जलमग्न

सरायगढ़ | निज संवाददाता

रतनपुरा उपशाखा नहर का फाटक (स्केप) खुला होने के कारण छिटही हनुमाननगर पंचायत के वार्ड 15 में लगे गेहूं की फसल में एक से दो फीट पानी जमा हो गया है।

ग्रामीण रवि राय, रोशन राय, रामदेव राय, पुरनचंद मुखिया, अशोक मुखिया, सतनारायण मुखिया, उमेश राय आदि ने बताया कि रतनपुरा के पास उपशाखा नहर का फाटक खराब होने के कारण उपशाखा नहर का पानी छिटही हनुमाननगर पंचायत के वार्ड 15 में एक से दो फीट तक फैल गया है। इसके कारण खेतों में लगी फसल पानी में डूब गई है। ग्रामीणों का कहना है कि उपशाखा नहर में रविवार की रात अचानक पानी छोड़ा गया। इसके कारण गेहूं की खेती चौपट हो गई है। ग्रामीणों का कहना है कि गेहूं खेती सबसे महंगा खेती है। इसमें अधिक पूंजी लगता है। लेकिन अधिक पानी में डूबने के कारण गेहूं का फसल बर्बाद हो गया है।

ग्रामीणों का कहना है कि कैनाल विभाग के अधिकारियों को पहले से ही खराब पड़े फाटक को ठीक करना चाहिए। इसके बाद उपशाखा नहर में पानी छोड़ना चाहिए। अचानक पानी छोड़ने के कारण गेहूं की फसल बर्बाद हो गई है। ग्रामीणों ने कैनाल विभाग के अधिकारी और जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए अविलंब शाखा नहर में लगे फाटक को दुरुस्त करने और बर्बाद हुए फसल की क्षति का मुआवजा देने की मांग की है।

उपशाखा नहर के पानी से सैकड़ों एकड़ में लगी गेहूं की फसल हुई जलमग्न।