DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारनालंदा में शराब पीने से युवक मौत, डॉक्टर बोले- शराब पीने से बिगड़ी तबियत, डीपीआरओ का बयान, हार्ट अटैक से गई जान

नालंदा में शराब पीने से युवक मौत, डॉक्टर बोले- शराब पीने से बिगड़ी तबियत, डीपीआरओ का बयान, हार्ट अटैक से गई जान

नालंदा हिन्दुस्तान टीमMalay Ojha
Sat, 16 Oct 2021 07:19 PM
नालंदा में शराब पीने से युवक मौत, डॉक्टर बोले- शराब पीने से बिगड़ी तबियत, डीपीआरओ का बयान, हार्ट अटैक से गई जान

शेखपुरा के अरियरि थाना क्षेत्र के सैदनगर गांव में चुलौआ शराब पीने से बीमार हुए 35 वर्षीय अरुण चौहान की इलाज के दौरान मौत हो गई। 12 अक्टूबर को उसकी तबीयत बिगड़ी थी। उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर स्थित में रेफर कर दिया गया था। बाद में परिजन उसे शेखपुरा के पूर्व सिविल सर्जन डॉ. मृगेन्द्र प्रसाद सिंह के निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान 14 अक्टूबर को उसकी मौत हो गई।

मृतक की पत्नी सावित्री देवी, भाई इन्द्रदेव चौहान एवं साला मुसाफिर चौहान ने शराब पीने से हालत बिगड़ने और फिर मौत होने की बात कही है। पूर्व सिविल सर्जन डॉ. मृगेन्द्र प्रसाद सिंह ने भी शराब पीने से ही तबीयत बिगड़ी की पुष्टि की है। जबकि, जिला जनसंपर्क पदाधिकरी अमित कुमार ने बताया कि वह बहुत पहले शराब पीता था। उसके फेफड़े खराब हो गये थे। दम्मा एवं टीवी रोग हो गया था। इलाज के दौरान हार्ट अटैक से उसकी जान गयी है। पूछताछ में परिवार के लोगों भी इसे स्वीकार किया है।

परिजन का कहना है कि मौत के बाद शव का पोस्टमार्टम कराने सदर अस्पताल गये थे। दो घंटे तक बैठे रहे। पुलिस को सूचना दी गयी। लेकिन, न पुलिस आयी और न ही चिकित्सकों द्वारा पोस्टमार्टम नहीं किया गया। इधर, शेखपुरा के वर्तमान सिविल सर्जन डॉ. वीरेन्द्र कुमार का कहना है कि पुलिस द्वारा रिपोर्ट नहीं सौंपे जाने की वजह से शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका। हालांकि, उन्होंने भी माना है कि जिस दिन युवक को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उस दिन वह शराब पीये हुए था।

प्रशासन द्वारा अबतक कोई सुध नहीं लेने पर पीड़ित परिवार ने शेखपुरा विधायक विजय सम्राट से न्याय की फरियाद की है। विधायक ने कहा कि वे परिवार से मिलकर पूरे मामले की जानकारी लेंगे। शराब मामले की जांच करायी जाएगी। मृतक के परिवार को सहायता मिलेगी। मृतक का साला मुसाफिर चौहान ने बताया है कि प्रशासन शराब से मौत के मामले की लीपापोती करने में लगी है। जबकि, डीहा पंचायत के पूर्व मुखिया जद्दू प्रसाद ने बताया कि कबीर अंत्येष्ठी योजना से परिजन को तीन हजार रुपया दिया गया है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें