DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › यास का असर: गया मेडिकल कॉलेज के ब्लैक फंगस वार्ड में घुसा पानी, मरीज और तीमारदार परेशान
बिहार

यास का असर: गया मेडिकल कॉलेज के ब्लैक फंगस वार्ड में घुसा पानी, मरीज और तीमारदार परेशान

लाइव हिन्दुस्तान,गयाPublished By: Sneha Baluni
Fri, 28 May 2021 02:53 PM
यास का असर: गया मेडिकल कॉलेज के ब्लैक फंगस वार्ड में घुसा पानी, मरीज और तीमारदार परेशान

बिहार में चक्रवाती तूफान यास का असर दिखाई देने लगा है। लगातार दो दिनों से हो रही बारिश की वजह से कई जिलों में नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। शहरों की सड़कें भी पानी से लबालब हो गई हैं। इतना ही नहीं गया जिले के मेडिकल कॉलेज के अंदर बारिश का पानी भर गया है। पानी उस वार्ड में भरा है जिसे ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए बनाया गया है।

यास तूफान की वजह से गया में पिछले दो दिनों से भारी बारिश हो रही है। जिले के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज के ईएनटी वार्ड के अंदर बारिश का पानी घुस गया है। वार्ड के गलियारों में पानी भर चुका है। इतना ही नहीं रजिस्ट्रेशन काउंटर से लेकर ऑर्थो के ओपीडी वार्ड तक में पानी नजर आ रहा है। इससे मरीज और उनके तीमारदार काफी परेशान हैं।

बता दें कि अस्पताल के ईएनटी वार्ड में ही ब्लैक फंगस के मरीजों के लिए 40 बेड तैयार किए गए हैं। फिलहाल यहां कोई मरीज भर्ती नहीं हैं। लेकिन दो दिन पहले तक यहां कोरोना संक्रमित और संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा था। अब उन्हें एमसीएच बिल्डिंग में शिफ्ट कर दिया गया है। इसके बाद यहां ब्लैक फंगस के मरीजों को रखा जाना था, जिसके लिए बेड तैयार किए गए हैं।

ब्लैक फंगस के मरीज आने से पहले यास तूफान का इस अस्पताल में असर दिखाई दे रहा है। अब गया नगर निगम और अस्पताल प्रशासन मेडिकल कॉलेज से पानी निकालने की कोशिश कर रहे हैं। कर्मचारियों ने बताया कि इस वार्ड में पानी की निकासी के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई थी।

संबंधित खबरें