ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारराम मंदिर उद्घाटन समारोह में अयोध्या जाएंगे तेजप्रताप यादव? जानिए लालू के लाल ने क्या कहा

राम मंदिर उद्घाटन समारोह में अयोध्या जाएंगे तेजप्रताप यादव? जानिए लालू के लाल ने क्या कहा

बिहार सरकार में मंत्री तेजप्रताप यादव से राम मंदिर के उद्घाटन समारोह में जाने को लेकर पत्रकारों ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि हम कृष्ण भगवान के भक्त हैं, हम वृंदावन जाते हैं।

राम मंदिर उद्घाटन समारोह में अयोध्या जाएंगे तेजप्रताप यादव? जानिए लालू के लाल ने क्या कहा
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSun, 07 Jan 2024 06:23 PM
ऐप पर पढ़ें

अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर भव्य तैयारियां की जा रही हैं। मंदिर कमिटि की ओर से गणमान्य लोगों को आमंत्रण भी दिया जा रहा है। वहीं इसे लेकर जमकर सियासत भी हो रही है। कुछ दिन पहले बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा था कि चोट लगने पर हमल मंदिर जाएंगे या अस्पताल। मंदिर को लेकर तेजस्वी के बयान की बीजेपी ने जमकर आलोचना की थी। इस बीच बिहार सरकार में मंत्री और आरजेडी प्रमुख लाल यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव से राम मंदिर के उद्घाटन समारोह में जाने को लेकर पत्रकारों ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि हम कृष्ण भगवान के भक्त हैं, हम वृंदावन जाते हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले भी तेजप्रताप ने एक सवाल के जवाब में कहा था कि राम राज्य तब आएगा जब दिल्ली में I.N.D.I.A का झंडा लहराएगा। 

बता दें कि मधुबनी में एक जनसभा के दौरान तेजस्वी यादव ने सवाल किया कि अगर आपका पैर कट जाए, आप बीमार हो जाएं तो कहां जाएंगे, मंदिर या अस्पताल। भूख लगेगा तो मंदिर जाने से पेट भरेगा। तेजस्वी यादव के बयान से बीजेपी भड़क उठी है। केंद्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय ने आरोप लगाया है कि वोटबैंक के लिए तेजस्वी राममंदिर निर्माण पर सवाल उठा रहे हैं। तुष्टिकरण की नीति की तहत वे ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह से हिंदुओं की आस्था पर कुठाराघात करना ठीक नहीं है। अगर ऐसी बात थी तो वह तिरुपति बालाजी क्यों गए थे और मुंडन करवाए थे।

गोमाता का चारा खा जाने वाले क्या समझेंगे भक्ति भाव : बीजेपी
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रभाकर कुमार मिश्र ने आरोप लगाया है कि गोमाता का चारा खाने वाले भक्ति भाव कैसे समझेंगे। ऐसे लोगों को सनातन का महत्व जानने के लिए अध्ययन करना चाहिए। उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की टिप्पणी पर उन्होंने कहा कि यह लोगों की अपनी- अपनी सोच है कि कोई मंदिर बनवाता है और गरीबों को मुफ्त में राशन बंटवाता है। कोई गोमाता का चारा खा जाता है, युवाओं को नौकरी देने के बदले जमीन रजिस्ट्री करवा लेता है। सबको अपनी करनी का फल तो भुगतना ही पड़ता है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें