ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपीएम पूरा करेंगे पवन सिंह का वचन? मोदी की काराकाट रैली से पहले भोजपुरी स्टार ने मचा दी हलचल

पीएम पूरा करेंगे पवन सिंह का वचन? मोदी की काराकाट रैली से पहले भोजपुरी स्टार ने मचा दी हलचल

पवन सिंह ने अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर एक पोस्ट डाला जिसमें उन्होंने पीएम की काराकाट रैली पर चुटकी लेने की कोशिश की। उपेंद्रकुशवाहा के खिलाफ काराकाट में मुकाबला त्रिकोणीय बन गया है।

पीएम पूरा करेंगे पवन सिंह का वचन? मोदी की काराकाट रैली से पहले भोजपुरी स्टार ने मचा दी हलचल
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSat, 25 May 2024 10:56 AM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Lok Sabha Election 2024: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को बिहार दौरे पर काराकाट, बक्सर और पाटलिपुत्र में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। इसके बाद भी बीजेपी के कई बड़े नेता इस काराकाट में प्रचार अभियान चलाएंगे क्योंकि यह सीट बीजेपी के लिए नाक की लड़ाई बन गई है। यहां बीजेपी के बागी और भोजपुरी के स्टार नायक और गायक पवन सिंह एनडीए के प्रत्याशी उपेंद्र कुशवाहा को चुनौती दे रहे हैं। भाजपा ने पवन सिंह को इस गतिविधि के लिए पार्टी से निकाल दिया है। इस बीच पावर स्टार कहे जाने वाले पवन सिंह ने सोशल मीडिया पर अपना एक बयान जारी करके हलचल मचा दी है। काराकाट में मुकाबला त्रिकोणीय बन गया है क्योंकि महागठबंधन ने भाकपा माले ने राजाराम सिंह कुशवाहा को मैदान में उतार कर उपेंद्र कुशवाहा के बेस वोट में सेंध लगाने का जुगाड़ लगा दिया है। काराकाट में लोकसभा चुनाव 2024 के अंतिम सातवें चरण में मतदान होना है।

शुक्रवार को पवन सिंह ने अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर एक पोस्ट डाला जिसमें उन्होंने पीएम की काराकाट रैली पर चुटकी लेने की कोशिश की। कहा है कि खबर आ रही है कि कल देश के प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदी जी डेहरी में आयोजित जनसभा में डालमिया नगर में बंद पड़ी फैक्ट्री का पुनः प्रारम्भ करने की घोषणा करने जा रहे हैं। अगर ऐसा होता है तो हमारे वचन पत्र का एक वचन चुनाव से पहले ही पूरा हो जायेगा। काराकाट लोक सभा क्षेत्र वासियों की तरक्की ही मेरी असली जीत है।

पवन सिंह को बीजेपी ने  निकाला, पीएम मोदी की काराकाट रैली से पहले उपेंद्र कुशवाहा को राहत

निर्दलीय चुनाव लड़ रहे पवन सिंह ने काराकाट की जनता के नाम अपना चुनावी मेनिफेस्टो जारी किया है जिसका नाम रखा है वचन पत्र। पवन सिंह ने इसमें 2 पॉइंट में अपनी प्राथमिकता और मुद्दे गिनाए हैं। वचन पत्र में अपने क्षेत्र में एम्स की तर्ज पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना से लेकर डालमिया फैक्ट्री को फिर से चालू कराने, सोन नदी के किनारे मरीन ड्राइव बनाने सहित क्षेत्र में फिल्म इंडस्ट्रीज की स्थापना की बात कही है। 

पवन सिंह को बीजेपी से निकाले जाने पर क्या बोल गए तेजस्वी यादव?

इसके अलावा गायक और नायक पवन सिंह ने क्षेत्र में उद्योग धंधों को शुरू करने, रोजगार बढ़ाने सहित आईटी पार्क के निर्माण की घोषणा की है। मां ताराचंडी मंदिर के साथ पर्यटन की दृष्टि से रोहतास एवं औरंगाबाद में स्थित सभी धार्मिक स्थलों एवं रोहतास के किले का सौंदर्यीकरण एवं नवीनीकरण कराने की घोषणा वचन पत्र में की गई है।

दरअसल पवन सिंह पीएम मोदी के बड़े प्रसंशक रहे और इसी वजह से उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ली। भाजपा ने भोजपुरी स्टार को आसनसोल से उम्मीदवार बनाया था। लेकिन, अगले ही दिन पवन सिंह ने आसनसोल से चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया और कुछ दिनों के बाद काराकाट से निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया  और पार्टी जनों के लाख मना करने के बावजूद नॉमिनेशन कर दिया। यह सीट एनडीए के समझौते के तहत उपेंद्र कुशवाहा को दी गयी थी। पवन सिंह के एक्शन को बीजेपी ने ईगो का सवाल बना लिया और  25 मई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काराकाट रैली से पहले ही पवन सिंह को पार्टी से निकाल दिया गया।