ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारफ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा स्पीकर को हटा पाएगी नीतीश सरकार? आरजेडी ने समझाया 122 का आंकड़ा

फ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा स्पीकर को हटा पाएगी नीतीश सरकार? आरजेडी ने समझाया 122 का आंकड़ा

आरजेडी के राष्ट्रीय प्रवक्ता व सांसद प्रो. मनोज झा ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष को उनके पद से हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार 122 सदस्यों का समर्थन चाहिए।

फ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा स्पीकर को हटा पाएगी नीतीश सरकार? आरजेडी ने समझाया 122 का आंकड़ा
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पटनाSun, 11 Feb 2024 06:55 PM
ऐप पर पढ़ें

आरजेडी के राष्ट्रीय प्रवक्ता व सांसद प्रो. मनोज झा ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष को उनके पद से हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार 122 सदस्यों का समर्थन चाहिए। उन्होंने रविवार की दोपहर को पांच देशरत्न मार्ग स्थित पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के सरकारी आवास के बाहर आकर मीडिया से बातचीत में ये बातें कही। उन्होंने भारतीय संविधान को प्रदर्शित किया और कहा कि इसके आर्टिकल 179 में स्पीकर को हटाने की व्यवस्था का उल्लेख है। इसमें लिखा है विधानसभा में अध्यक्ष को हटाया जा सकता है। इसके लिए प्रस्ताव आ चुका है। इसमें लिखा है कि विधानसभा के सदस्यों के बहुमत के आधार पर हटाया जा सकता है। इसकी व्याख्या को लेकर मनोज झा ने महाराष्ट्र व अरूणाचल प्रदेश के मामलों में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का उल्लेख किया। 

उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर कोई भी निर्णय लेने से पहले इससे जुड़े विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री या उनके सलाहकार सभी स्टेक होल्डर से निवेदन किया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आलोक में ही कोई फैसला लें। उन्होंने अनुरोध किया कि इसमें कोई पेंच न करें। उन्होंने गांधीवाद की बात करने वालों से अनुरोध किया कि उन्हें कौन से गांधी पसंद हैं, करेंसी वाले गांधी या हे राम वाले गांधी। उन्होंने कहा कि हम सब लोग लोकतंत्र को बचाने के लिए एकजुट है। हम संविधान के दायरे में चलने के लिए मजबूर करेंगे। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आलोक में चीजें चाहेंगे। इसके आलोक में निर्णय होगा। कार्यवली में अभिभाषण के बाद स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव है। इसके संदर्भ में सुप्रीम कोर्ट के फैसलों का जिक्र किया है। 

बिहार विधानसभा में कल फ्लोर टेस्ट से पहले क्या-क्या होगा? जानिए सबकुछ

मनोज झा ने जदयू-भाजपा पर तंज किया और कहा कि महागठबंधन के सभी विधायक एकजुट है। हम वैसे लोग नहीं हैं, जिनके भोज में विधायक नहीं पहुंचें। हम वैसे लोग नहीं है, जिन्होंने कार्यशाला के नाम पर विधायकों को लेकर बाहर चले गए। उन्होंने सरकार को अविश्वास प्रस्ताव पास कराने के लिए 122 सदस्यों की आवश्यकता जतायी और उन्हें शुभकामना भी दे दी। वहीं, उस दौरान वहां मौजूद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने भी कहा कि 122 विधायक होना जरूरी है, पहले इतना तो एनडीए जुटा ले। सरकार के पास यह संख्या है तो बताए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें